November 26, 2020

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

बस्ती:प्रभारी मंत्री मोती सिंह ने विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अन्तर्गत प्रशिक्षित लोगों को दिया टूलकिट

बस्ती:प्रभारी मंत्री मोती सिंह ने विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अन्तर्गत प्रशिक्षित लोगों को दिया टूलकिट

बस्ती| प्रदेश के ग्राम विकास एवं समग्र ग्राम विकास मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘मोती सिंह‘‘ ने विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अन्तर्गत हलवाई के लिए श्रीमती नीलम देवी तथा दुर्गेश कुमार को टूलकिट, सुनील कुमार प्रजापति को कुम्हारी के लिए,संजय तथा अनिल कुमार को बढई के लिए टूलकिट प्रदान किया। इस योजना के अन्तर्गत इन्हें पूर्व में प्रशिक्षण दिया जा चुका है।


उन्होंने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अन्तर्गत समूहो को रिवालविंग फंड में 70 समूह, सीआईएफ में 82 समूह एवं सीसीएल में 05 समूह को रू0 10570000.00 (रूपया एक करोड़ पाॅच लाख सत्तर हजार) की धनराशि का समूहो को वितरण किया। उन्होंने विकास खण्ड साॅऊघाॅट के ग्राम छपिया में डाक्टर राममनोहर लोहिया स्वयं सहायता समूह की अंजू देवी एवं शकुन्तला देवी, ग्राम भादी बुजुर्ग में माँ दुर्गा स्वयं सहायता समूह की रेखा तथा सरस्वती,चांद स्वयं सहायता समूह की शीला तथा मंजू तथा जय भीम स्वयं सहायता समूह की शकुन्तला एवं शीला, ग्राम कैसवारा में दीपक स्वयं सहायता समूह की अर्चना एवं शीला को चेक सौपा।


उन्होंने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत विकास खण्ड कप्तानगंज के ग्राम दुबौली मिश्र के कान्ती देवी,संतोषी देवी, गीता देवी,अर्जुन,किरन एवं जानकी देवी को प्रधानमंत्री आवास की चाभी तथा सहजन का पेड वितरित किया।
इस अवसर पर सांसद हरीश द्विवेदी, विधायक दयाराम चौधरी,संजय प्रताप जायसवाल,रवि सोनकर,चन्द्र प्रकाश शुक्ला, पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा, सीडीओ सरनीत कौर ब्रोका,पीडी आरपी सिंह, मनीष शुक्ला एवं विभागीय अधिकारी उपस्थित रहें।


__________

बस्ती:प्रभारी मंत्री मोती सिंह ने सामुदायिक शौचालय तथा पंचायत भवनों का निर्माण 25 अक्टूबर तक पूरा कराने का दिया निर्देश

बस्ती|प्रदेश के ग्राम विकास एवं समग्र ग्राम विकास मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘मोती सिंह‘‘ ने सामुदायिक शौचालय तथा पंचायत भवनों का निर्माण 25 अक्टॅॅूबर तक पूरा कराने का निर्देश दिया है। आयुक्त सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में उन्होंने कहा कि इसका उद्देश्य गाँव में रोजगार उपलब्ध कराने के साथ ही स्थायी परिसम्पत्ति का निर्माण कराना है।


समीक्षा में उन्होंने पाया कि 1219 ग्राम पंचायत में से 39 ग्राम में सामुदायिक शौचालय बने है। 1180 लक्ष्य के सापेक्ष 1063 नीव स्तर, 573 दीवाल स्तर तथा 360 छत स्तर तक निर्माण हो गया है। 111 शौचालय पूर्ण है, 12 जल भराव एवं 16 भूमि विवाद के कारण अनारम्भ है। उन्होने पंचायत भवन निर्माण 758 ग्राम में बनाने का लक्ष्य है। इसमें से 693 नीव, 345 दीवाल तथा 144 छत स्तर तक बन गया है। 06 पंचायत भवन पूर्ण हो गये है, 07 जल जमाव एंव 18 भूमि विवाद के कारण अनारम्भ है।


उन्होंने निर्देश दिया कि जलभराव वाले स्थल से पानी निकासी की व्यवस्था कराकर काम शुरू कराये। भूमि विवाद निस्तारण के लिए उन्होने कहा कि जनप्रतिनिधियों एवं संबंधित एसडीएम के साथ जिलाधिकारी संयुक्त बैठक करें।


जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने बताया कि नवाचार के अन्तर्गत एक जनपद एक उत्पाद के तर्ज पर एक ब्लाक में पाॅच उत्पाद चिन्हित कराया जा रहा है। इसको तैयार करने के लिए समूहो को प्रशिक्षण भी दिया जायेगा। साथ ही बैंक से जोड़कर के उन्हें लोन उपलब्ध कराया जायेगा ताकि वे अपना रोजगार कर सके।
बैठक के दौरान सीडीओ सरनीत कौर ब्रोका ने जिले में सम्पन्न हुये अच्छे कार्यो-वन ब्लाक टू पार्क कुल 28, 200 पोषण वाटिका, 2568 शोकपिट, महिला स्वयं सहायता समूहो द्वारा 3.60 लाख में से 2.20 लाख तैयार स्कूल ड्रेस, प्रेरणा राखी बनाना तथा काढ़ा तैयार करने की जानकारी दिया।


उन्होंने गन्ना मूल्य भुगतान, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री आवास योजना, पिंक टायलेट, भूमि बैंक, स्वच्छ भारत मिशन, पशु टीकाकरण कार्यक्रम, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, नयी सड़को का निर्माण, शेतुओ का निर्माण, पशुओ का टीकाकरण, मत्स्य पालन, उद्यान, प्रधानमंत्री कृषि सिचाई योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना आदि की समीक्षा किया।


इस अवसर पर सांसद हरीश द्विवेदी, विधायक दयाराम चौधरी, संजय प्रताप जायसवाल, रवि सोनकर, चन्द्र प्रकाश शुक्ला, पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा, सीडीओ सरनीत कौर ब्रोका, सीडीओ संतकबीर नगर अतुल मिश्रा, तीनों जिलो के पीडी एवं डीडीओ, मनीष शुक्ला, पवन कसौधन एवं विभागीय अधिकारी उपस्थित रहें।

बस्ती:प्रभारी मंत्री ने पुलिस अधिकारियों को दिए निर्देश

आमजनता से पुलिस मित्र की तरह करे व्यवहार,अपराधों पर करें नियंत्रण,बढ़ाये गश्त,घरेलू हिंसा,दहेज उत्पीड़न व छेड़-छाड़ के मामलों में निष्पक्ष होकर करें कार्यवाही

बस्ती।प्रदेश के ग्राम विकास एवं समग्र ग्राम विकास मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री श्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘मोती सिंह” ने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिया है कि अपराधों पर नियंत्रण करें,गश्त बढाये तथा आमजनता से मित्र पुलिस की तरह व्यवहार करें। वे आयुक्त सभागार में आयोजित कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियो के सुझावों को गम्भीरता से सुनें तथा नियमानुसार कार्यवाही करें।


उन्होंने कहा कि महिलाओं के प्रति अपराध नियंत्रण में सतर्कता बरते। घरेलू हिंसा, दहेज उत्पीड़न तथा छेड़-छाड़ के मामलों में निष्पक्ष होकर कार्यवाही करें। घटना होने पर पुलिस क्षेत्राधिकारी तथा थानाध्यक्ष मौके पर अवश्य पहुँचे। बड़े घटनाओं में पुलिस अधीक्षक भी मौका मुआयना करें।


उन्होंने कहा कि अपराधिक घटनाओं से निपटने के मामले में वर्तमान सरकार काफी संवेदनशील है। किसी प्रकार की शिथिलता या लापरवाही पाये जाने पर दोषी अधिकारी-कर्मचारी के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी। उन्होने कहा कि प्रत्येक मामले में एफआईआर दर्ज करें। दहेज एवं बलात्कार के मामलों में यह सुनिश्चित करे कि न्याय हो परन्तु पीडित परिवार द्वारा दूसरे पक्ष का उत्पीड़न भी न किया जा रहा हो।


उन्होंने कहा कि गलत मुकदमे न लिखे जाय और न ही निर्दोष व्यक्तियों को शामिल किया जाय।उन्होंने कहा कि हत्या एवं रेप जैसी बड़ी घटनाओं के मामलों में मेडिकल रिपोर्ट के अलावा फोरेन्सिंक रिपोर्ट भी प्राप्त की जाय। पोस्टमार्टम रिपोर्ट गलत लगाने वाले डाक्टरों के विरूद्ध भी कार्यवाही करने के लिए उन्होने निर्देश दिया है।


प्रभारी मंत्री ने तीन पुलिस कर्मियों के विरूद्ध चल रही जाँच को दो दिन में पूरा करके कार्यवाही करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार किसी स्तर पर बर्दाश्त नही किया जायेगा। ये पहली सरकार है जिसने भ्रष्टाचार के मामले में दो वरिष्ठ अधिकारियों के विरूद्ध भी कार्यवाही किया है।


बैठक में सांसद हरीश द्विवेदी, विधायक दयाराम चौधरी,संजय प्रताप जायसवाल, रवि सोनकर, चन्द्र प्रकाश शुक्ला ने विभागीय कार्यो में सुधार के लिए सुझाव दिये। पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा ने बताया कि 11 गैंगेस्टर एक्ट में कार्यवाही करते हुए रू0 1.69 करोड़ जब्त किया गया है।उन्होंने बताया कि प्रत्येक थाने में टापटेन अपराधियों की सूची तैयार कर कार्यवाही की जा रही है। 202 मामलों में आर्मस एक्ट के अन्तर्गत कार्यवाही की गयी है। एनडीपीएस के अन्तर्गत 138 मुकदमें दर्ज किए गये है। इसमें सबसे बड़ी कार्यवाही करते हुए 1300 लीटर स्प्रिट तथा 08 किलो गांजा बरामद किया गया।


बैठक में जिलाधिकरी आशुतोष निरंजन, सीडीओ सरनीत कौर ब्रोका, एडीएम रमेश चन्द्र, अपर पुलिस अधीक्षक रवीन्द्र सिंह, सभी एसडीएम,सीओ तथा थानाध्यक्ष, मनीष शुक्ला तथा पवन कसौधन भी उपस्थित रहें।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Powered By : Webinfomax IT Solutions .
EXCLUSIVE