November 26, 2020

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

बस्ती:स्थानांतरण किए जाने के विरोध में जिले के सभी 14 ब्लॉक स्तरीय सीएचसी और पीएचसी के प्रभारी चिकित्साधिकारी (एमओआईसी) सामूहिक अवकाश पर

बस्ती |सीएमओ द्वारा बीच सत्र में स्थानांतरण किए जाने के विरोध में जिले के सभी 14 ब्लॉक स्तरीय सीएचसी और पीएचसी के प्रभारी चिकित्साधिकारी (एमओआईसी) सामूहिक अवकाश पर चले गए हैं। वह शुक्रवार से काम नहीं करेंगे। इससे पूर्व उन्होंने सीएमओ को पत्र देकर 24 घंटे में तबादले का फैसला वापस न लेने पर हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी थी। गुरुवार की शाम तक कोई निर्णय न होने पर सभी प्रभारी चिकित्सा अधिकारी सामूहिक प्रार्थना पत्र देकर अवकाश पर चले गए हैं। उनका कहना है कि वह तब तक काम नहीं करेंगे जब तक स्थानांतरण रद्द नहीं किया जाता है।

सीएमओ डॉ. एके गुप्ता ने 14 अक्तूबर की रात सीएचसी कप्तानगंज के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. विनोद कुमार समेत जिले के 12 एमओआईसी का ट्रांसफर कर दिया। भाजपा नेता से विवाद के बाद चर्चा में आए डॉ. विनोद कुमार को सीएचसी परसरामपुर भेजा गया है। गुरुवार को दिन में प्रांतीय चिकित्सक संघ ने बीच सत्र में डॉक्टरों के ट्रांसफर को ज्यादती बताते हुए सीएमओ डॉ. एके गुप्ता को पत्र सौंपकर 24 घंटे में ट्रांसफर का आदेश वापस न लेने पर हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी। अध्यक्ष डॉ. फकरेयार हुसैन व महामंत्री डॉ. अशोक चौधरी ने कहा कि कोरोना काल में डॉक्टरों ने एक दिन भी अवकाश नहीं लिया। कोविड के पहले रविवार को विशेष अभियान में मरीजों की जांच व इलाज किया। कोरोना काल में जरूरी होने पर किसी के ट्रांसफर पोस्टिंग पर पूरी तरह से रोक लगी रही। निर्देश था कि जिला स्वास्थ्य समिति के अनुमोदन बाद ही किसी की ट्रांसफर पोस्टिंग हो सकती है। ऐसे में अचानक जिले के 14 ब्लॉक स्तरीय पीएचसी-सीएचसी में से 12 का ट्रांसफर करना उचित नहीं है।

इनका हुआ तबादला

डॉ. धर्मेन्द्र कुमार को सीएचसी बनकटी से हर्रैया, डॉ. रजनीश कुमार श्रीवास्तव को सीएचसी गौर से भानपुर, डॉ. विवेक विश्वास को सीएचसी भानपुर से मरवटिया, डॉ. पवन कुमार को सीएचसी बहादुरपुर से कुदरहा, डॉ. फैज वारिस को सीएचसी कुदरहा से बहादुरपुर, डा. आरके सिंह को सीएचसी हर्रैया से सीएचसी रुधौली, डॉ. अशोक कुमार को सीएचसी रुधौली से सीएचसी बनकटी, मो. आसिफ फारूकी को सीएचसी विक्रमजोत से सीएचसी कप्तानगंज, सीएचसी हर्रैया के बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. मनोज कुमार को विक्रमजोत, डॉ. भाष्कर यादव को सीएचसी परसुरामपुर से सीएचसी दुबौलिया व डॉ. सचिन को सीएचसी भानपुर से सीएचसी गौर भेजा गया है।

इतने बड़े पैमाने पर चिकित्साधिकारियों के तबादले को सीएचसी कप्तानगंज के एमओआईसी और भाजपा नेता में विवाद से जोड़कर देखा जा रहा है। नौ अक्तूबर को मरीज की पैरवी करने पहुंचे भाजपा नेता विनीत तिवारी की अस्पताल परिसर में पिटाई कर दी गई थी। दोनों पक्षों ने मुकदमा दर्ज कराया है। भाजपा ने चार सदस्यीय टीम गठित कर मामले की जांच कराई। सूत्रों के मुताबिक जांच में डॉक्टर के दोषी ठहराए जाने की बात कही जा रही है।

14 चिकित्सा अधिकारियों ने सामूहिक अवकाश पर जाने का पत्र दिया है। स्थिति से उच्च अधिकारियों को अवगत कराया जा रहा है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Powered By : Webinfomax IT Solutions .
EXCLUSIVE