November 29, 2020

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

सुनील गावस्कर ने बताया ;विराट कोहली के टीम में नहीं होने से भारतीय खिलाड़ियों को कैसे मिलेगा फायदा

नई दिल्ली/ Ind vs Aus:ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले मैच के बाद विराट कोहली भारत वापस लौट जाएंगे। टेस्ट सीरीज में विराट के बाहर होने से एक तरफ जहां कई पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों ने इसे टीम इंडिया के लिए बड़ा सेटबैक करार दिया तो वहीं भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ओपनर बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने इसे टीम के लिए फायदेमंद बताया है। 

विराट कोहली वनडे और टी20 सीरीज के आलावा सिर्फ एक टेस्ट मैच खेलेंगे जो दोनों देशों के बीच पहला डे-नाइट टेस्ट मुकाबला होगा। इसके बाद वो स्वदेश वापस आ जाएंगे। इसमें कोई शक नहीं है कि विराट की गैरमौजूदगी से भारतीय टीम को झटका लगेगा, लेकिन गावस्कर को ऐसा लगता है कि उनके टीम में नहीं होने से खिलाड़ियों को जीत के लिए अपने खेल के स्तर को उपर उठाना होगा और ये खिलाड़ियों के लिए फायदेमंद है।

गावस्कर ने कहा कि अगर आप देखें तो विराट के बिना भी टीम इंडिया ने जीत हासिल कि है। धर्मशाला टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ, अफगानिस्तान के खिलाफ टेस्ट मैच, निदाहस ट्रॉफी और फिर एशिया कप 2018 में भी भारत ने विराट के बिना जीत हासिल की। जब विराट टीम में नहीं थे तो इस दौरान भारतीय खिलाड़ियों ने अपने खेल के स्तर को उपर उठाया। वो समझते हैं कि विराट के बिना भी उन्हें जीत हासिल करनी है। गावस्कर ने ये बातें एक अंग्रेजी अखबार से  बात करते हुए कही। 

गावस्कर ने कुछ दिन पहले एक स्पोर्ट्स चैनल पर कहा था कि, विराट के नहीं रहने से अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा के लिए चुनौती और बढ़ जाएगी और उन्हें अपने प्रदर्शन को और उपर उठाना होगा। ये इन दोनों खिलाड़ियों के लिए अच्छा मौका है। उन्होंने कहा कि कप्तानी की वजह से रहाणे को और मदद मिलेगी। कप्तानी करते हुए वो स्थिति को ज्यादा अच्छे से समझ पाएंगे। सेलेक्शन कमेटी इस बात को लेकर बिल्कुल क्लीयर है कि विराट के नहीं रहने पर टेस्ट टीम की कप्तानी किसे करनी चाहिए। भारत व ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट सीरीज का आगाज 17 दिसंबर से होगा। 

जहीर खान ने बताया किस आधार पर होगा भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच जीत-हार का फैसला

2011 विश्व कप विजेता भारतीय टीम का हिस्सा रहे जहीर ने कहा, ‘आस्ट्रेलियाई पिचों पर हमेशा अच्छी उछाल और तेजी रहती है। इसलिए मुझे लगता है कि गेंदबाज ही वनडे, टी-20 और टेस्ट श्रृंखला का फैसला करेंगे। साथ ही यह भी मायने रखेगा कि टीमें बतौर इकाई प्रतिद्वंद्वी टीम को कम स्कोर पर रोकने के लिए कैसा प्रदर्शन करती हैं।’

IND Vs AUS: ऑस्ट्रेलियाई टीम को मिली बड़ी राहत, T20 सीरीज में हिस्सा लेगा स्टार खिलाड़ी

इंडिया के खिलाफ 27 नवंबर से शुरू हो रही सीरीज से पहले ऑस्ट्रेलियाई टीम को बड़ी राहत मिली है. ऑस्ट्रेलिया के स्टार तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क वनडे सीरीज के बाद ट्वेंटी-ट्वेंटी सीरीज में भी हिस्सा लेंगे. ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि स्टार्क की मौजूदगी की वजह से ऑस्ट्रेलिया इंडिया पर भारी पड़ सकती है.

ऑस्ट्रेलिया के स्टार तेज गेंदबाज स्टार्क ने इंडियन प्रीमियर लीग से खुद को दूर रखा था. इसलिए उनके ट्वेंटी-ट्वेंटी मैचों से भी दूर रहनी की आशंका जताई जा रही थी. लेकिन ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ग्लेन मैकग्रा ने साफ किया कि स्टार्क इस सीरीज में एस फैक्टर साबित होंगे.

मैकग्रा ने कहा, ”पैट कमिंस दुनिया के नंबर वन गेंदबाज हैं. वह मैच में अपना 100 परसेंट देते हैं. मिशेल के आने टीम का बैलेंस परफेक्ट हो जाता है. स्टार्क आपको एक ही मैच में चार से पांच विकेट निकालकर दे सकते हैं.”

T20 वर्ल्ड कप पर है स्टार्क का फोकस

स्टार्क ने हालांकि साफ किया है कि उनका फोकस अगले साल होने वाले ट्वेंटी-ट्वेंटी पर है. स्टार्क अब तक ऑस्ट्रेलिया के लिए 57 टेस्ट, 94 वनडे और 34 ट्वेंटी-ट्वेंटी मैच खेल चुके हैं.

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया और इंडिया 8 महीने के अंतराल के बाद इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने के लिए तैयार हैं. ऑस्ट्रेलिया ने अपना आखिरी मुकाबला 13 मार्च को न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था. इंडियन क्रिकेट टीम भी फरवरी में न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेलने के बाद से ही इंटरनेशनल क्रिकेट से दूर है.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Powered By : Webinfomax IT Solutions .
EXCLUSIVE