January 20, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

अखिलेश यादव ने किया डॉ. कफील की रिहाई का स्वागत, कहा- उम्मीद है झूठे मुकदमों में फंसाए गए आजम को भी मिलेगा न्याय

लखनऊ|उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने डॉ. कफील खान के जेल से रिहा होने का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट की ओर से डॉ. कफील की रिहाई के आदेश का देश-प्रदेश के हम सभी इंसाफपसंद लोगों ने सहर्ष स्वागत किया है। इस दौरान उन्होंने सांसद आजम खान की रिहाई का मुद्दा भी उठाया। मंगलवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत जेल में बंद डाक्टर कफील की हिरासत रद्द करते हुए उन्हें तत्काल प्रभाव से रिहा करने का आदेश दिया था।

हाईकोर्ट ने मंगलवार को एनएसए के तहत कफील खान की हिरासत को रद्द कर तत्काल रिहाई का आदेश देते हुए कहा कि एएमयू में उनका (डॉ. कफील खान) भाषण नफरत या हिंसा को बढ़ावा नहीं देता है बल्कि राष्ट्रीय अखंडता के लिए एक आह्वान है। कोर्ट के आदेश के बाद कफील खान को मंगलवार देर रात मथुरा जेल से रिहा कर दिया गया।

अखिलेश यादव ने किया ये ट्वीट
कफील खान की रिहाई पर बुधवार को अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा, ‘हाईकोर्ट की ओर से डॉ. कफील की रिहाई के आदेश का देश-प्रदेश के हम सभी इंसाफपसंद लोगों ने सहर्ष स्वागत किया है। उम्मीद है झूठे मुकदमों में फंसाए गए आजम खान जी को भी शीघ्र ही न्याय मिलेगा। सत्ताधारियों का अन्याय और अत्याचार हमेशा नहीं चलता।’

उन्होंने प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सत्ताधारियों का अन्याय तथा अत्याचार हमेशा नहीं चलता। इलाहाबाद उच्च न्यायालय के आदेश के बाद डॉक्टर कफील खान को मंगलवार मध्य रात्रि मथुरा जेल से रिहा कर दिया गया। जेल से रिहाई के बाद कफील ने बातचीत में अदालत का शुक्रिया अदा किया। साथ ही कहा कि वह उन तमाम शुभचिंतकों के भी हमेशा आभारी रहेंगे जिन्होंने उनकी रिहाई के लिए आवाज उठाई।

सीतापुर की जेल में बंद हैं आजम खान
रामपुर लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान इन दिनों सीतापुर की जेल में बंद हैं। आजम खान के खिलाफ जमीन पर कब्जा करने, अवैध निर्माण कराने समेत कई मुकदमें दर्ज हैं। इसके अलावा यूपी की योगी सरकार की ओर से लगातार उनकी संपत्ति को जब्त करने की कार्रवाई की जा रही है। साथ ही अवैध निर्माण को भी ध्वस्त किया जा रहा है। आजम खान के साथ उनके बेटे अब्दुल्लाह आजम और पत्नी तंजीम फातिमा भी जेल में बंद हैं।

भाजपा सरकार के बस में नहीं रहा शासन-प्रशासन :

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा सरकार के वश में अब प्रदेश का शासन-प्रशासन नहीं रह गया है। सरकार जितना बता रही है, कोरोना संक्रमण के आंकड़े उससे ज्यादा दिख रहे हैं। तमाम कोशिशों व प्रोटोकॉल के बाद भी मंत्रियों, सांसदों व विधायकों तक को कोरोना अपना शिकार बना रहा है।

अखिलेश ने बुधवार को कहा कि रोजाना अपराध का ग्राफ  बढ़ता ही जा रहा है। मानवता को शर्मसार करने वाली घटनाएं जंगलराज की दहशत पैदा कर रही हैं। भाजपा इस सबसे मुंह छिपाने के लिए झूठ के सहारे अफवाह फैलाने वाली वारदात को अंजाम देने में लग गई है। उनके फर्जी ट्वीट को वायरल कर भाजपा ने शर्मनाक और कलंकित करने वाला काम किया है।

सपा अध्यक्ष ने कहा, खुद मुख्यमंत्री के गृहजिले में अपराधों पर नियंत्रण नहीं है। वहां बहू-बेटियां सुरक्षित नहीं रह गई हैं। मानसिक रूप से कमजोर युवती को अगवा कर उसके साथ सामूहिक बलात्कार ने सरकारी दावों-वादों की पोल खोल दी है। आगरा में एक निजी अस्पताल में डॉक्टर ने 30 हजार रुपये डिलीवरी फीस न दे पाने पर मां से नवजात शिशु को छीन लिया।

राजधानी लखनऊ में युवा कारोबारी की हत्या हो गई। यहीं गोसाईंगंज में 28 अगस्त से गायब युवक का शव मिला। माल में बच्ची की गला दबाकर हत्या की गई, बच्ची के कपड़े फटे थे, शरीर पर खरोंचें थीं। हरदोई के आश्रम में साधु, उनके बेटे और शिष्या की हत्या हुई। मथुरा में एक बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या हुई।

अखिलेश ने कहा, भाजपा राज में यूपी, हत्या प्रदेश बन गया है। पूरे देश में इसकी बदनामी है। सपा सरकार में यूपी को उत्तम प्रदेश बनाने की दिशा में विकास कार्य हो रहे थे। भाजपा राज में विकास ठप हो गया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.