May 20, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

अब 12 करोड़ की मर्सिडीज की सवारी करेंगे PM मोदी, गोली और धमाके भी इसके आगे बेअसर

इस कार में बैठा शख्स महज 2 मीटर की दूरी पर होने वाले 15 किलोग्राम तक के टीएनटी विस्फोट से भी सुरक्षित रह सकता है। गाड़ी की खिड़कियों पर पॉलीकार्बोनेट की परत होती है।

 

नई दिल्ली|प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अब मर्सिडीज-मेबैक एस 650 बख्तरबंद वाहनों से सजे काफिले से चलते दिखेंगे। पीएम मोदी को हाल ही में नई मेबैक 650 में पहली बार हैदराबाद हाउस में देखा गया था, जब वह रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मिलने के लिए पहुंचे थे। इस गाड़ी को हाल ही में फिर से प्रधानमंत्री के काफिले में देखा गया।

Mercedes-Maybach S650 Guard VR10 लेवल प्रोटेक्शन के साथ लेटेस्ट फेसलिफ़्टेड मॉडल है- जो किसी प्रोडक्शन कार में दिया गया अब तक का सबसे अधिक प्रोटेक्शन है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, मर्सिडीज-मेबैक ने पिछले साल भारत में S600 गार्ड को ₹10.5 करोड़ में लॉन्च किया था और S650 की कीमत ₹12 करोड़ से ज्यादा हो सकती है।

 

एसपीजी तय करता है कारों का अपग्रेडेशन:

बता दें कि नई कार का अनुरोध आमतौर पर विशेष सुरक्षा समूह या एसपीजी द्वारा किया जाता है। जो देश के राज्य प्रमुखों की सुरक्षा की जिम्मेदारी देखता है। एसपीजी सुरक्षा आवश्यकताओं को देखते हुए निर्णय लेता है कि क्या राज्य प्रमुख को वाहन अपग्रेड की आवश्यकता है या नहीं। ऐसे में अब पीएम मोदी के काफिले में लगे वाहनों को अपग्रेड किया गया है। कुछ अन्य नकली गाड़िया भी सेम माडल में काफिले मे शामिल होती है ।

Mercedes-Maybach S650 Guard 6.0-लीटर ट्विन-टर्बो V12 इंजन द्वारा संचालित है जो 516bhp और लगभग 900Nm का पीक टॉर्क पैदा करता है। इसकी अधिकतम गति 160 किमी प्रति घंटे तक सीमित है।

खिड़की पर पॉलिकार्बोनेट की कोटिंग

S650 गार्ड बॉडी और खिड़कियां कठोर स्टील कोर बुलेट का सामना कर सकती हैं। इसे धमाका प्रूफ वाहन (ईआरवी) की रेटिंग मिली है। इ कार में सवार लोग 2 मीटर की दूरी पर होने वाले 15 किलो टीएनटी विस्फोट से भी सुरक्षित हैं। खिड़की के इंटीरियर पर पॉली कार्बोनेट का लेप चढ़ाया गया है। कार का निचला हिस्सा किसी भी तरह के विस्फोटों से बचाने के लिए भारी बख्तरबंद है। गैस हमले की स्थिति में केबिन में एक अलग वायु आपूर्ति भी होती है।

फ्यूल टैंक भी है बेहद खास

Mercedes-Maybach S650 Guard के फ्यूल टैंक को एक विशेष सामग्री को कोट चढ़ाया गया है, जो हिट की वजह से होने वाले छिद्रों को अपने आप सील कर देता है। यह उसी सामग्री से बना है जिसका उपयोग बोइंग अपने AH-64 अपाचे टैंक अटैक हेलीकॉप्टरों के लिए करता है।

डैमेज हो जाने के बाद भी काम करते हैं खास टायर्स

यह कार विशेष रन-फ्लैट टायरों पर चलती है जो क्षतिग्रस्त होने की स्थिति में टायरों को सपाट कर देते हैं।कार में सीट मसाजर के साथ एक शानदार इंटीरियर है। कार में लेगरूम बढ़ाने की सुविधा है। इसके लिए पीछे की सीटों को बदल दिया गया है।

गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में, पीएम मोदी ने बुलेटप्रूफ महिंद्रा स्कॉर्पियो में यात्रा की। 2014 में प्रधानमंत्री के रूप में कार्यभार संभालने के बाद, उन्होंने बीएमडब्ल्यू 7 सीरीज हाई-सिक्योरिटी एडिशन का इस्तेमाल किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.