July 7, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

इथोपिया प्लेन क्रैश में मरने वालों में 4 भारतीय भी, 35 देशों के 157 नागरिक थे सवार

इथोपिया की राजधानी अदीस अबाबा से केन्या की राजधानी नैरोबी जा रहा विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया. इसमें 4 भारतीय समेत 157 लोगों की मौत हो गई. मृतकों में 35 देशों के नागरिक शामिल हैं. इस हादसे का शिकार हुए भारतीय नागरिकों की पहचान की जा रही है.

इथोपियन एयरलाइंस का एक विमान रविवार को दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसमें 4 भारतीय समेत 157 लोगों की मौत हो गई. रविवार सुबह इथोपिया की राजधानी अदीस अबाबा से उड़ान भरने के कुछ देर बाद ही यह विमान हादसे का शिकार हो गया. इथोपियन एयरलाइंस ने इस हादसे की जानकारी दी. फिलहाल इथोपियन एयरलाइंस के बोइंग 737-8 एमएएक्स विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने की वजह का पता नहीं चल पाया है.
यह विमान नया बताया जा रहा है, जिसको नवंबर में ही एयरलाइंस को सौंपा गया था. अफ्रीका में सरकारी इथोपियन एयरलाइंस को सबसे अच्छी माना जाता है. सरकारी इथोपियन एयरलाइंस खुद को अफ्रीका की सबसे बड़ी विमानन कंपनी भी बताती है.

0521_boeing-737
वहीं, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इस हादसे पर दुख जताया है. साथ ही पीड़ित परिवारों को हर संभव मदद उपलब्ध कराने की मांग की है. विदेश मंत्री स्वराज ने बताया कि इथोपिया स्थित भारतीय दूतावास ने उनको जानकारी दी कि विमान हादसे में जिन भारतीय नागरिकों की मौत हुई है, उनकी पहचान वैद्य पन्नगेश भास्कर, वैद्य हंसिन अन्नगेश, नुक्वारपु मनीषा और शिखा गर्ग के रूप में हुई है. विदेश मंत्री कहा कि उन्होंने इथोपिया स्थित भारतीय उच्चायुक्त को निर्देश दिया है कि वो पीड़ित परिवारों की हर संभव मदद करें.

एयरलाइंस द्वारा जारी बयान में कहा गया कि अब तक की जानकारी के मुताबिक विमान में 149 यात्री और 8 चालक दल के सदस्य सवार थे. विमान केन्या की राजधानी नैरोबी जाने के लिए रवाना हुआ था, लेकिन अदीस अबाबा से उड़ान भरने के 6 मिनट बाद ही दुर्घटनाग्रस्त हो गया. यह विमान सुबह 8 बजकर 44 मिनट पर अदीस अबाबा के दक्षिण में करीब 50 किलोमीटर दूर बिशोफ्टू या देबरे जिएत में क्रैश हो गया.

photo5_555_031119075735

एयरलाइंस ने कहा कि तलाशी और बचाव अभियान तेजी से चलाया जा रहा है. अभी तक इस हादसे में किसी के जीवित बचे होने या हताहतों के बारे में कोई पुष्ट सूचना नहीं है. इथोपिया के प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा जारी बयान में पीड़ित परिवारों के प्रति गहरी संवदेना व्यक्त की गई है. इथोपिया की सरकारी मीडिया के मुताबिक इस विमान हादसे में सभी यात्रियों की मौत हो गई. विमान में भारत समेत 35 देशों के नागरिक सवार थे.
इस विमान हादसे में सबसे ज्यादा केन्या के नागरिकों की मौत हुई है. इसके बाद कनाडा के यात्रियों की संख्या है. अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक इस हादसे में भारत के चार, केन्या के 32, कनाडा के 18, इथोपिया के 9, चीन के 8, इटली के 8, अमेरिका के 8, फ्रांस के 7, ब्रिटेन के सात, मिस्र के 6, जर्मनी के 5 स्लोवाकिया के 4 और रूस के चार नागरिकों समेत 35 देशों के नागरिक शामिल हैं.

photo-4_555_031119075735
केन्या के परिवहन मंत्री जेम्स मचारिया ने बताया कि मृतक यात्रियों के परिवार और दोस्तों के लिए एक आपात व्यवस्था बनाई गई है. समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक केन्या के राष्ट्रपति उहुरु केन्याटा ने विमान में सवार लोगों के परिवार और उनसे जुड़े लोगों के प्रति संवेदनाएं जताई है. इससे पहले इथोपियन एयरलाइंस के यात्री विमान की आखिरी बड़ी दुर्घटना साल 2010 में हुई थी. इसमें बेरुत से उड़ान भरने के कुछ मिनटों बाद विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. इस हादसे में विमान सवार सभी 90 लोगों की मौत हो गई थी.

ये भी पढ़ें 👇

कौन हैं शिखा गर्ग जो इथोपिया विमान हादसे का हुईं शिकार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.