October 3, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

एक के बाद एक कई धमाकों से दहला उन्नाव गैस प्लांट, दर्जनों ट्रेनें रोकीं, 5 किलोमीटर एरिया में हाईअलर्ट

उन्‍नाव जनपद के दही चौकी औद्योगिक क्षेत्र में गुरुवार सुबह करीब 10 बजे हिंदुस्तान पेट्रोलियम के गैस रिफलिंग प्लांट में आग लग गई और फिर एक के बाद एक पांच धमाके हुए। अचानक लगी भीषण आग और धमाकों के बाद प्लांट में भगदड़ मच गई।

 

आसपास गांवों के लोग भी घर छोड़ खुले स्थानों पर जाकर खड़े हो गए। हादसे में तीन लोग झुलस गये, जिन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गंभीर घायल एक शख्स को कानपुर अस्पताल के लिए रेफर किया गया है। हादसे की सूचना मिलते ही दमकल की दर्जनों गाड़ियों के अलावा डीएम, एसपी सहित प्रशासनिक अफसर भी मौके पर पहुंचे। एसडीआरएफ की टीम भी मौके पर पहुंची।

 

एहतियात के तौर पर प्रशासन ने आसपास की फैक्ट्रियों और गांवों को खाली करा लिया और प्लांट के आसपास आवागमन बंद करने के साथ ही करीब 5 किमी के क्षेत्र को हाई अलर्ट घोषित कर दिया। लखनऊ-कानपुर रूट पर दर्जनों ट्रेनों को अजगैन और सोनिक रेलवे स्टेशन के पास रोक लिया गया। साथ ही लखनऊ-कानपुर हाइवे पर कानपुर-लखनऊ लेन को बंद कर दिया गया। इससे हाइवे पर लंबा जाम लगा है। दो किमी दूर से भी गैस प्लांट में धुआं के गोले उठते दिखाई दे रहे थे।

 
घटना की जानकारी देते हुए उन्नाव के डीएम ने बताया कि जिलाधिकारी ने बताया कि आग सुबह करीब साढ़े दस बजे लगी थी जो दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद बुझा ली गई है। अब स्थिति सामान्य है। उन्होंने बताया कि प्लांट से मिली जानकारी के अनुसार, टैंक का वॉल्व लीक होने के बाद आग लगी थी।

 

आग लगने के कारण लखनऊ जाने वाली ट्रेनों को उन्नाव रेलवे स्टेशन पर और कानपुर जाने वाली गाड़ियों को सोनिक तथा अजगैन स्टेशन पर रोका गया, लेकिन अब आग पर काबू पा लिए जाने के बाद यातयात को खोल दिया गया है। उत्तर प्रदेश के आईजी कानून-व्यवस्था प्रवीण कुमार ने बताया कि गैस लीक पर नियंत्रण पा लिया गया है। फिलहाल, वातावरण सामान्य होने पर कुछ वक्त लगेगा।

 
हादसे में तीन झुलसे:-
जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक मेवा लाल ने बताया कि एचपी गैस रिफिलिंग प्लांट में लगी आग की चपेट में आने से झुलसे सुभाषचंद्र (52), मोहम्मद गुफरान (28) तथा मोहम्मद आसिफ (22) को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सभी घायलों का अस्‍पताल में इलाज किया जा रहा है।

 
ऐसे लगी प्लांट में आग:-
बताया जा रहा है कि टैंकर से टैंक में गैस भरी जा रही थी। संभवतः उसी वक्त एक ट्रक ने बैक करते हुए वॉल्व में टक्कर मार दी, जिससे एक वॉल्व में गड़बड़ी आ गई। 6 इंच का पाइप टूटा है। अब उसी से गैस का रिसाव हो रहा है। प्लांट के अंदर तीन कैप्सूल टैंकरों के टायर पूरी तरह जल चुके हैं। इन टैंकरों में गैस है। इस कारण वह अपनी जगह से हिल नहीं सकते।

 

 

लगभग पांच किलोमीटर के दायरे के सारे गांवों में अलर्ट जारी करने के बाद लोगों से घर खाली कराए गए। लोगों का कनहा है कि अगर प्लांट के गैस टैंक फटते तो स्थिति और भयावह हो सकती थी और कई किमी का क्षेत्र आग के गोलों की चपेट में आ जाता।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.