June 25, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

चंदे के पैसों से देश का नाम रौशन करने वाली पॉवर लिफ्टर निधि सिंह पटेल ने एक बार फिर सरकार से मांगी मदद

मिर्ज़ापुर:  यूपी की सरकार खेलों में महिलाओं की बड़ी भागीदारी की बात तो करती है लेकिन सूबे की होनहार महिला खिलाड़ियों को उनसे कोई मदद नहीं मिल पा रही है। पॉवरलिफ्टिंग जैसे खेलों में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर देश और प्रदेश का नाम रोशन करने वाली मिर्जापुर की निधी सिंह पटेल को देश -विदेश में आयोजित प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए लोगों के सामने हाथ फैलाकर मदद मांगनी पड़ती है। बावजूद इसके योगी सरकार को इस प्रतिभावान खिलाड़ी की मदद की परवाह नहीं। शादी के बाद निधि सिंह पटेल ने एक बार फिर कनाडा में आयोजित कॉमनवेल्थ पॉवरलिफ्टिंग चैम्पियन 2019 में भाग लेने के लिए सरकार से मदद के लिए गुहार लगाई है। निधि पटेल को इस प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए कुल 2 लाख 90 हजार रुपये जमा करने हैं। लेकिन गरीब परिवार में जन्मी निधि सिंह पटेल इतने पैसे जमा कर पाने में असमर्थ हैं।

 

nidhi_patel_1805062_835x547-m

 

बतादें कि निधि सिंह पटेल शादी के बाद पहली बार किसी अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में हिस्सा लेने जा रही हैं। जिले के नरायनपुर के छोटे से गांव पचेवरा से अपने पॉवर लिफ्टिंग कैरियर की शुरुआत करने वाली निधि सिंह पटेल एक बार फिर कनाडा में 15 से 21 सितम्बर तक चलने वाले अंतर्राष्ट्रीय कॉमनवेल्थ पॉवरलिफ्टिंग चैम्पियन 2019 में भारत की तरफ से 57 किलोग्राम भार वर्ग में भाग लेंगी। शादी के बाद निधि पॉवर लिफ्टिंग के दूसरी पाली की शुरूआत करने जा रही हैं। जिसके लिए वह इन दिनों अपने जिम में दिन रात मेहनत कर रही है। निधि 57 किलोग्राम भार वर्ग में 95 से 100 किलोग्राम वजन को उठाने के लिए रात दिन कड़ी परिश्रम कर रही है। इतनी तैयारी के बावजूद अब इस प्रतियोगिता में उसके भाग लेने पर संसय उत्पन्न हो गया है। इस बार भी उसकी गरीबी आड़े आ रही है। दरअसल इस प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए उसे 30 अगस्त तक दो लाख 90 हजार रुपये जमा कराना है। मगर, निधि के पास इतने पैसे नहीं हैं कि वह यह पैसा जमा करवा सके। निधि ने एक बार फिर से सरकार से मदद की गुहार लगाई है। निधि के कोच कमला शंकर त्रिपाठी का कहना है कि इस प्रतियोगिता में 46 देश के लोग भाग ले रहे हैं। अगर यह पैसा नहीं जमा हुआ तो निधि प्रतियोगिता में भाग नहीं ले पाएंगी। बतादें कि इससे पहले भी विभिन्न प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए निधि को पैसों को लेकर मुश्किलों का सामना करना पड़ा है। जिले के स्वयंसेवी संगठन और लोगों के चंदे की मदद से निधि विदेश में आयोजित प्रतियोगिता में भाग लेकर पदक जीतती रही है। मगर निधि ने एक बार फिर सरकार जिला प्रसाशन और लोगो से मदत की गुहार लगायी है देखना होगा कि सरकार उनकी कितनी मदत करती है वह प्रतियोगिता में भाग ले पाती या नहीं।

 

nidhi-1477224066_835x547

 

निधि पटेल की शानदार उपलब्धियां अन्तर्राष्ट्रीय खिलाड़ी निधि पटेल की उपलब्धियों में
1. फिलिपीन्स 2010 की राजधानी मनिला मे एशिया बेन्च प्रेस पॉवर लिफ्टिगं में 52 Kg भार वर्ग में रजत पदक
2. अगस्त 2011 में एशिया बेन्च प्रेस पॉवर लिफ्टिगं ताईवान में 57Kg भार वर्ग में कांस्य पदक।
3. पुनः 2011 दिसंबर में पावरलिफ्टिगं कामनवेल्थ लंदन में 57 Kg भार वर्ग में पांच स्वर्ण पदक।
4. जुलाई 2015 में एशिया सीनियर महिला पॉवर लिफ्टिगं चैम्पियनशिप हांगकांग में 57Kg भार वर्ग में कास्यं पदक।
5. पुनः 2015 अक्टूबर में ओमान में एशिया बेन्च प्रेस पावरलिफ्टिगं चैम्पियनशिप में 57Kg भार वर्ग में स्वर्ण पदक और एशिया की सबसे शक्तिशाली महिला की उपाधि इसके अलावा राष्ट्रीय स्तर पर भी कई स्वर्ण पदक के साथ कई बार भारत की सबसे शक्तिशाली महिला की उपाधि का खिताब मिला।
6. अक्टूबर 2014 से 20 2016 एशियन बेंच प्रेस पावरलिफ्टिंग उज़्बेकिस्तान में रजत पदक।
7. नवम्बर 13 से 19 2016 वर्ल्डकप में प्रतिभाग किया।
8. जनवरी 2017 में एशिया पावरलिफ्टिग जमशेदपुर में तीन स्वर्ण पदक एवं तीनों में स्ट्रांग वूमेन ऑफ इंडिया का ख़िताब मिला।
9. सितम्बर 10 से 16 तक कामनवेल्थ दक्षिण अफ्रीका एक स्वर्ण पदक अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर अब तक निधि सिंह पटेल ने 10 स्वर्ण पदक, दो रजत पदक और दो कांस्य पदक पर कब्जा जीत चुकी हैं।

C3MENhcWIAA60_7

FB_IMG_1568754639990.jpg

1 thought on “चंदे के पैसों से देश का नाम रौशन करने वाली पॉवर लिफ्टर निधि सिंह पटेल ने एक बार फिर सरकार से मांगी मदद

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.