June 26, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

चंद्रयान 2 को पीएम मोदी के साथ चांद पर उतरता देखना सपने जैसा: राशि वर्मा

लखनऊ की राशि वर्मा उन चंद छात्रों में शामिल हैं जो पीएम मोदी के साथ चंद्रयान 2 (Chandrayaan 2) को चंद्रमा पर उतरते हुए देखेंगी. चंद्रयान 2 सात सितंबर को चंद्रमा की सतह पर उतरेगा. बता दें कि राशि वर्मा लखनऊ की डीपीएस की छात्रा हैं. और उन्होंने इसरो द्वारा आयोजित एक प्रतियोगिता को जीता है, इसके बाद ही उन्हें पीएम मोदी के साथ इस ऐतिहासिक घटना को देखने का मौका मिला है. सात सितंबर को चंद्रयान 2 की लैंडिग को लेकर इसरो में विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया जाना है.   बीतचीत के दौरान राशि ने कहा कि मैं इस मौके के दौरान पीएम मोदी से बात करना चाहूंगी. राशि ने कहा कि मेरे घर में और स्कूल में लोग बहुत खुश हैं कि मैं पीएम से मिलने जा रही हूं.

 

चंद्रयान-2 सात सितंबर को चंद्रमा की सतह पर उतरेगा। इसरो में होने वाले इसके सजीव प्रसारण कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ राजधानी की छात्रा राशि वर्मा भी इस ऐतिहासिक पल की साक्षी बनेगी। कार्यक्रम में हर राज्य और केंद्र शासित प्रदेश से चुने गए दो-दो छात्र शामिल होंगे। किसान की बेटी राशि यूपी का प्रतिनिधित्व करेगी। इसके लिए जानकीपुरम स्थित डीपीएस की कक्षा 10 की छात्रा को केंद्र सरकार ने आमंत्रण पत्र भेजा है।

चंद्रयान-2 को इसरो के नियंत्रण कक्ष, इसरो टेलीमेट्री ट्रेकिंग एंड कमांड नेटवर्क, बंगलुरू में चंद्रमा की सतह पर उतरता देखा जाएगा। राशि के पिता राजकुमार वर्मा सीतापुर में खेती करते हैं और मां सीमा देवी वहीं शिक्षिका हैं। छात्रा जानकीपुरम में बुआ के साथ रहकर पढ़ाई करती है।

images(60)

राशि ने बताया कि जब स्कूलवालों ने इस आमंत्रण की सूचना दी तो एकबारगी उसे यकीन नहीं हुआ। इसके बाद उसने माता-पिता को इसकी जानकारी दी। पीएम मोदी से मिलने को उत्सुक राशि ने बताया कि मौका मिला तो वह उनसे बात जरूर करेगी।

 

 

मैं भी बहुत एक्साइटेड हूं. राशि ने बताया कि मुझे यह जानकारी फोन पर दी गई थी. इसरो की तरफ से फोन आया था. इसके बाद मैंने अपने अभिभावक को बताया तो वह भी खुश हुए और बोले की तुम्हे जाना ही चाहिए. मेरे दोस्त और स्कूल के शिक्षक बहुत खुश हैं. राशि ने कहा कि मैं बड़े होकर आईएस बनना चाहता हूं लेकिन मेरा साइंस में भी रुचि है और मैं आगे वैज्ञानिक भी बनना चाहूंगी.

 

इसरो ने कहा था कि उसने “चंद्रयान-2′ को चांद की चौथी कक्षा में आगे बढ़ाने की प्रक्रिया शुक्रवार को सफलतापूर्वक पूरी की. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने इस प्रक्रिया (मैनुवर) के पूरी होने के बाद कहा कि अंतरिक्ष यान की सभी गतिविधियां सामान्य है. इसरो ने एक अपडेट में कहा था कि प्रणोदन प्रणाली का प्रयोग करते हुए चंद्रयान-2 अंतरिक्षयान को चंद्रमा की चौथी कक्षा में शुक्रवार को (30 अगस्त,2019) सफलतापूर्वक प्रवेश कराने का कार्य योजना के मुताबिक छह बजकर 18 मिनट पर शुरू किया गया.

 

इसरो ने कहा था कि चंद्रमा की चौथी कक्षा में प्रवेश कराने की इस पूरी प्रक्रिया में 1,155 सेकेंड का समय लगा. अब एक सितंबर 2019 को शाम छह बजे से सात बजे के बीच चंद्रयान-2 को चंद्रमा की पांचवी कक्षा में प्रवेश कराया जाएगा. देश की बड़ी सफलता को साबित करते हुए भारत के दूसरे चंद्रमा मिशन चंद्रयान-2 ने चंद्रमा की कक्षा में 20 अगस्त को प्रवेश किया था. इसरो ने कहा था कि आगामी दो सितंबर को लैंडर ‘विक्रम’ ऑर्बिटर से अलग हो जाएगा और सात सितंबर को यह चांद के दक्षिणी ध्रुव क्षेत्र में ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ करेगा।

लैंडर के चांद की सतह पर उतरने के बाद इसके भीतर से ‘प्रज्ञान’ नाम का रोवर बाहर निकलेगा और अपने छह पहियों पर चलकर चांद की सतह पर अपने वैज्ञानिक प्रयोगों को अंजाम देगा. इसरो के वैज्ञानिकों का कहना है कि चांद पर ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ चंद्र मिशन-2 का सबसे जटिल चरण है. अतंरिक्ष एजेंसी ने कहा कि अंतरिक्ष यान की स्थिति पर लगातार नजर रखी जा रही है.

 

ये भी पढ़ें ⬇️

BWF World Championship 2019: गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली भारतीय शटलर बनीं पीवी सिंधु, स्विट्जरलैंड

उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर जिले के रहने वाले अरविंद कुमार वर्मा बने बक्सर के जिलाधिकारी

बड़े साहब के हस्ताक्षर के लिए भटकते पिता को देख बेटी ने खाई थी कसम, बनी IAS

चंद्रमा की कक्षा में आज पहुंचेगा चंद्रयान-2; सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग बड़ी चुनौती क्योंकि वहां हवा नहीं

हौसलों की उड़ान कभी नाकामियाब नहीं होती,

कौन हैं भारतवंशी प्रीति पटेल जो ब्रिटेन की गृहमंत्री बनी.. जानिए..

महामना रामस्वरूप वर्मा के मानवता वादी विचार से IAS बनें- दिव्यांशु पटेल

 

 

 

1 thought on “चंद्रयान 2 को पीएम मोदी के साथ चांद पर उतरता देखना सपने जैसा: राशि वर्मा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.