September 29, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

जानिए 26 जून 2022 का राशिफल हमारे साथ क्या कहते हैं आज आपके भाग्य के सितारे आपके राशियों के अनुसार जानिए हमारे साथ

जानिए 26 जून 2022 का राशिफल हमारे साथ क्या कहते हैं आज आपके भाग्य के सितारे आपके राशियों के अनुसार जानिए हमारे साथ

 

राशिफल-
मेष-धन में बढ़ोत्‍तरी होगी। कुटुम्‍बीजनों में वृद्ध‍ि होगी। सधे हुए शब्‍द और विचार धनार्जन करा रहे हैं। स्‍वास्‍थ्‍य नरम-गरम, प्रेम की स्थिति बेहतर, व्‍यापारिक दृष्टिकोण से सुखद समय है। हरी वस्‍तु का दान करें।

वृषभ-सितारों की तरह चमकते दिख रहे हैं। जिस चीज की जरूरत है उसकी उपलब्‍धता है। बहुत अच्‍छी स्थिति दिख रही है। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम, व्‍यापार अद्भुत दिख रहा है। हरी वस्‍तु पास रखें।

मिथुन-चिंताकारी सृष्टि का सृजन हो रहा है। खर्च की अधिकता मन को परेशान करेगी। यद्यपि की अच्‍छे फैशन आदि में खर्च होगा। आभूषण में खर्च होगा। फिर भी मन थोड़ा परेशान होगा। स्‍वास्‍थ्‍य नरम-गरम है। प्रेम की स्थिति थोड़ी दूरी वाली है लेकिन प्रेम बरकरार है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से सुखद समय है। हरी वस्‍तु पास रखें।

कर्क-बहुत अच्‍छा समय है। स्‍वास्‍थ्‍य की स्थिति बहुत अच्‍छी है। आय के नवीन मार्ग बनेंगे। यात्रा में लाभ होगा। शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। बड़ा सुखद समय दिख रहा है। प्रेम और व्‍यापार की स्थिति भी काफी अच्‍छी है। सब अद्भुत दिख रहा है आपके जीवन में। लाल वस्‍तु पास रखें।

सिंह-व्‍यापारिक सफलता मिलने का योग है। कोर्ट-कचहरी में विजय होगी। पिता की सम्‍पत्ति में इजाफा होगा। नौकरी-चाकरी की स्थिति बहुत अच्‍छी है। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा है। प्रेम और संतान थोड़ा मध्‍यम है लेकिन व्‍यापारिक दृष्टिकोण से सुखद समय है। मां काली की अराधना करते रहेुं।

कन्‍या-जोखिम से उबर चुके हैं। अच्‍छे दिनों की शुरुआत हो चुकी है। यात्रा में लाभ होगा। रुका हुआ काम चल पड़ेगा। धार्मिक बने रहेंगे। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा है। प्रेम और संतान की स्थिति अच्‍छी है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से सुखद समय है। शनिदेव की अराधना करते रहें।

तुला-चोट लग सकती है। किसी परेशानी में पड़ सकते हैं। थोड़ा सा मध्‍यम समय है। बचकर पार करें। प्रेम और संतान की स्थिति अच्‍छी है। व्‍यापार भी आपका सही चलेगा। बस मां काली की शरण में बने रहें। उनकी अराधना करते रहें। शुभ होगा।

वृश्चिक-जीवनसाथी का सानिध्‍य मिलेगा। रोजी-रोजगार में तरक्‍की करेंगे। सुखद समय दिखाई दे रहा है। बहुत ही उन्‍न‍तशील समय दिखाई दे रहा है। प्रेम, संतान का साथ होगा। शुभ समय है। बहुत रंगीन बने रहेंगे। प्रेमी-प्रेमिका की मुलाकात होगी। भगवान भोलेनाथ की शरण में बने रहें और अच्‍छा होगा। उनकी अराधना करें। जलाभिषेक करें।

धनु-शत्रु भी मित्र बनने की कोशिश करेंगे। गूढ़ज्ञान की प्राप्ति होगी। बुजुर्गों का आशीर्वाद मिलेगा। ननिहाल पक्ष से खुशखबरी मिलेगी। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम, व्‍यापार अद्भुत दिख रहा है। हरी वस्‍तु का दान करें। शुभ होगा।

मकर-विद्यार्थियों के लिए अच्‍छा समय है। व्‍यापारिक सफलता मिलने का अब योग शुरू हो चुका है। बहुत आपने काट लिया। बहुत कष्‍ट आपने काटे। अब अच्‍छा दिखेगा। प्रेम में भावुक मत बनिएगा। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम, व्‍यापार अच्‍छा है। संतान की स्थिति भी सुखद दिखाई दे रही है। मां काली की शरण में बने रहें। उनकी अराधना करते रहें।

कुंभ-भूमि, भवन, वाहन की खरीदारी हो सकती है। भौतिक सुख-सम्‍पदा में वृद्ध‍ि हो सकती है। घर में कुछ उत्‍सव सा माहौल दिख रहा है। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा, प्रेम की स्थिति काफी अच्‍छी है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से भी सुखद समय है। गणेश जी की अराधना करें। हरी वस्‍तु पास रखें।

मीन-व्‍यापारिक सफलता मिलने का योग दिख रहा है। आपका प्रेम आपको संबल प्रदान करेगा। बच्‍चे कंधे से कंधा मिलाकर व्‍यापारिक दृष्टिकोण से आगे बढ़ाएंगे आपको। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम, व्‍यापार अद्भुत दिख रहा है। बहुत अच्‍छा समय है। बजरंग बली की अराधना करते रहें।

 

🚩श्री गणेशाय नम:🚩
📜 दैनिक पंचांग 📜

☀ 26 – 06 – 2022
☀ बस्ती,उत्तर प्रदेश

☀ पंचांग
🔅 तिथि त्रयोदशी +03:27 AM
🔅 नक्षत्र कृत्तिका 01:06 PM
🔅 करण :
गर 02:17 PM
वणिज 02:17 PM
🔅 पक्ष कृष्ण
🔅 योग धृति 05:53 AM
🔅 वार रविवार

सूर्य व चन्द्र से संबंधित गणनाएँ
🔅 सूर्योदय 05:20 AM
🔅 चन्द्रोदय +03:38 AM
🔅 चन्द्र राशि वृषभ
🔅 सूर्यास्त 07:10 PM
🔅 चन्द्रास्त 04:57 PM
🔅 ऋतु वर्षा

हिन्दू मास एवं वर्ष
🔅 शक सम्वत 1944 शुभकृत
🔅 कलि सम्वत 5124
🔅 दिन काल 01:50 PM
🔅 विक्रम सम्वत 2079
🔅 मास अमांत ज्येष्ठ
🔅 मास पूर्णिमांत आषाढ

शुभ और अशुभ समय
☀ शुभ समय
🔅 अभिजित 11:47:51 – 12:43:12
☀ अशुभ समय
🔅 दुष्टमुहूर्त 05:19 PM – 06:15 PM
🔅 कंटक 09:57 AM – 10:52 AM
🔅 यमघण्ट 01:38 PM – 02:33 PM
🔅 राहु काल 05:26 PM – 07:10 PM
🔅 कुलिक 05:19 PM – 06:15 PM
🔅 कालवेला या अर्द्धयाम 11:47 AM – 12:43 PM
🔅 यमगण्ड 12:15 PM – 01:59 PM
🔅 गुलिक काल 03:43 PM – 05:26 PM
☀ दिशा शूल
🔅 दिशा शूल पश्चिम

चन्द्रबल और ताराबल
☀ ताराबल
🔅 भरणी, कृत्तिका, रोहिणी, मृगशिरा, पुनर्वसु, आश्लेषा, पूर्वा फाल्गुनी, उत्तरा फाल्गुनी, हस्त, चित्रा, विशाखा, ज्येष्ठा, पूर्वाषाढ़ा, उत्तराषाढ़ा, श्रवण, धनिष्ठा, पूर्वाभाद्रपद, रेवती
☀ चन्द्रबल
🔅 वृषभ, कर्क, सिंह, वृश्चिक, धनु, मीन

पंडित देवस्य मिश्र ज्योतिषाचार्य बस्ती,उत्तर प्रदेश

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.