September 24, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

टाटा संस के पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री का मुंबई के पास कार दुर्घटना में निधन

Cyrus Mistry Death in Road Accident 4 सितंबर: टाटा ग्रुप के पूर्व चेयरमैन और उद्योगपति साइरस मिस्त्री का निधन हो गया है. एक सड़क हादसे के चलते उनका निधन हुआ है. मुंबई के पास पालघर में यह सड़क हादसा हुआ है. दुर्घटना के बाद मिस्त्री को अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया. एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि टाटा संस के पूर्व अध्यक्ष साइरस मिस्त्री की रविवार को एक सड़क दुर्घटना में मौत हो गई, जब उनकी कार महाराष्ट्र के पालघर जिले में एक डिवाइडर से टकरा गई.

 

उन्होंने बताया कि हादसा दोपहर करीब 3.15 बजे हुआ जब मिस्त्री मर्सिडीज कार में अहमदाबाद से मुंबई जा रहे थे. घटना सूर्या नदी पर बने पुल की है. कार चालक समेत उनके साथ यात्रा कर रहे अन्य दो लोग घायल हो गए. सभी घायलों को गुजरात के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बाला साहेब पाटिल (डीसीपी, ठाणे) ने बताया कि यह एक सामान्य सड़क हादसा ही नजर आ रहा है. उनकी कार डिवाइडर से टकराई थी. हादसा इतना भीषण था कि गाड़ी के भी परखच्चे उड़ गए. मिस्त्री के साथ कार में मौजूद एक और व्यक्ति की मौत हुई है.

 

प्रधानमंत्री मोदी बोले – सुनकर स्तब्ध हूं

 

पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा, “साइरस मिस्त्री का असामयिक निधन स्तब्ध करने वाला है. वह एक होनहार बिजनेस लीडर थे जो भारत की आर्थिक शक्ति में विश्वास करते थे. उनका निधन कॉमर्स और इंडस्ट्री के लिए एक बड़ी क्षति है. उसके परिवार तथा मित्रों के लिए संवेदनाएं. उनकी आत्मा को शांति मिले.”

 

वहीं, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि वह टाटा संस के पूर्व प्रमुख साइरस मिस्त्री के निधन की खबर सुनकर स्तब्ध हैं. उन्होंने कहा, “साइरस मिस्त्री न केवल एक सफल उद्यमी थे बल्कि उन्हें उद्योग जगत में एक युवा, उज्ज्वल और भविष्यवादी व्यक्तित्व के रूप में देखा जाता था. एक कुशल उद्यमी का निधन हो गया है. यह न केवल राजमिस्त्री के परिवार के लिए बल्कि देश के औद्योगिक जगत के लिए भी एक बड़ी क्षति है. उनको मेरी भावभीनी श्रद्धांजलि.”

 

टाटा ग्रुप के छठे अध्यक्ष

 

साइरस पालोनजी मिस्त्री का जन्म 4 जुलाई 1968 को हुआ था. वो शापूरजी पालोनजी ग्रुप के प्रमुख पालोनजी मिस्त्री के छोटे बेटे थे. उन्होंने मुंबई के कैथेड्रल एंड जॉन कॉनन स्कूल से शुरुआती पढ़ाई की और फिर बाद में सिविल इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए लंदन भी गए. वह टाटा ग्रुप के छठे अध्यक्ष थे. बता दें कि 2012 में रतन टाटा के इस्तीफे के बाद साइरस मिस्त्री को टाटा सन्स का चैयरमैन पद सौंपा गया था.

 

वह दूसरे ऐसे व्यक्ति थे जिनके सरनेम में टाटा ना होते हुए भी इस ग्रुप की कमान सौंपी गई थी. हालांकि रतन टाटा के साथ मतभेदों के बाद अक्टूबर 2016 में साइरस मिस्त्री को टाटा संस के अध्यक्ष पद से हटा दिया गया था. दिसंबर 2019 में, कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल ने मिस्त्री को समूह के कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में बहाल किया. लेकिन उससे पहले फरवरी 2017 में उन्हें टाटा संस के बोर्ड में निदेशक के पद से हटा दिया गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.