December 5, 2020

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

टिक टॉक का देसी अवतार अगले महीने, शिल्‍पा शेट्टी ब्रांड अंबेसडर होंगी, जानिए देवरिया की शिप्रा मिश्रा का क्‍या है रोल

देवरिया |देवरिया की बेटी शिप्रा मिश्रा फिल्म अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी और उनके पति राज कुंद्रा के साथ अगले महीने देसी टिक टॉक एप लांच करने जा रही हैं। शिप्रा इस ज्वाइंट बेंचर में ऑफिशियल एसोसिएट हैं। प्रधानमंत्री के वोकल फॉर लोकल से प्रेरित इस प्रोजेक्ट का उद्देश्य प्रतिबंधित चीनी एप का विकल्प देना है। साथ ही लोगों को लाइव मनोरंजन मुहैया कराना है। जेएल स्ट्रीम नाम के इस देसी एप्लीकेशन को अक्तूबर में लांच करने की तैयारी है।

शिल्पा शेट्टी हैं ब्रांड एम्बेसडर


शिप्रा बताती हैं कि जेएल स्ट्रीम नाम से लांच होने वाले देसी एप्लीकेशन की ब्रांड एम्बेसडर प्रसिद्ध अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी हैं। इस एप में बॉलीवुड तथा विश्व स्तर के इनफ्लुएंसर एवं कलाकार लाइव आकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। इसका लाभ यह है कि इसमें लोग अपने पसंदीदा अभिनेता, अभिनेत्री और सिंगर के साथ लाइव जुड़ सकेंगे। इससे आम जनता को उत्कृष्ट मनोरंजन घर पर ही सहज रूप से उपलब्ध हो जाएगा। मंदी के दौर में लोगों को रोजगार और मनोरंजन उपलब्ध कराना इस एप का उद्देश्य हैं।

मूल रूप से देवरिया की रहने वाली शिप्रा का परिवार वर्तमान में गोरखपुर के नंदानगर में रहता है। शिप्रा ने एयरफोर्स परिसर स्थित केन्द्रीय विद्यालय से 12वीं तक शिक्षा हासिल की है। इसके बाद भोपाल के माखन लाल चतुर्वेदी विश्वविद्यालय से मास कम्यूनिकेशन में स्नातक किया। मास्टर डिग्री मुंबई से ली। मुंबई में ही स्थापित शिप्रा ने महज 26 वर्ष की उम्र में अपनी डिजिटल कंपनी ‘रिंग लाइट डिजिटल इंटरटेनमेंट’ बनाई है। कोविड काल की मुश्किलों के बीच लांच उनकी कंपनी को कई ऑर्डर मिले हैं। फिलहाल उनका फोकस फिल्म अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति राजकुंद्रा के साथ देसी टिकटाक एप लांच करने पर हैं। शिप्रा बताती हैं कि चीनी एप पर प्रतिबंध के बाद प्रधानमंत्री के आह्वान पर देसी टिकटाक पर काम पूरा कर लिया है। ये एप लाइकी, विवो लाइव का देसी वर्जन होगा।

मास क्म्यूनिकेशन की पढ़ाई पूरी करने के बाद शिप्रा न्यूज चैनल में एंकर बनना चाहती थीं। लेकिन अपनी शिक्षिका की सलाह और खुद की रुचि को देखते हुए फिल्म के क्षेत्र में आ गईं। भविष्य में वह फिल्म प्रोड्यूसर बनना चाहती हैं। शिप्रा के पिता भाष्कर मिश्रा सेना से रिटायर्ड हैं। वह वर्तमान में जिले में ही एडीओ पंचायत के पद पर कार्यरत हैं। भाई प्रतीक पायलट है। पिता भाष्कर मिश्रा कहते हैं, ‘वर्तमान परिवेश में बेटी-बेटे में कोई अंतर नहीं हैं। अब प्रतिभा का सम्मान होता है। बेटी की सफलता पर गर्व है।’

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Powered By : Webinfomax IT Solutions .
EXCLUSIVE