January 21, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

ट्रिपल मर्डर: हत्यारो को रिमांड पर लेगी बस्ती पुलिस, अपने ही बनाएं जाल में कैसे फंसे कातिल; जानिए

बस्ती|गोरखपुर-लखनऊ हाईवे पर बस्ती जिले के छावनी थाना क्षेत्र में हुए ट्रिपल मर्डर का चौबीस घंटे के अंदर खुलासा करने के बाद अब पुलिस के लिए लूट की रकम बरामद करना चुनौती है। सोमवार को पुलिस ने तीनों आरोपितों को सीजेएम श्वेता यादव की कोर्ट में पेश किया। वहां से न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया। अब पुलिस मुख्य आरोपी अजीत सिंह व गोलू को पुलिस कस्टडी रिमांड पर लेने के लिए मंगलवार को प्रार्थना पत्र देने की तैयारी में है। इसके बाद दोनों आरोपितों को लूट की रकम की बरामदगी के लिए कानपुर ले जाया जाएगा।

चकरपुर मंडी, कानपुर से आलू लादकर ट्रक चालक राजकुमार (22) पुत्र छोटेलाल निवासी दुर्जनखेड़ा, थाना बीघापुर जिला उन्नाव बिहार के परसौनी स्थित फर्म सूरज कुमार नीरज प्रसाद पर डिलीवरी देने गया था। बिहार से 8 जनवरी को लौटते समय आलू व्यवसायी असलम (36) पुत्र अब्दुला निवासी रतनमाला थाना बगहा जिला पश्चिमी चम्पारण, बिहार भी कानपुर जाने के लिए ट्रक में सवार हो गए थे। खलासी सोनू मौर्या (35) पुत्र रामकिशोर निवासी मीरपुर बरोचा, थाना आसीवन जिला उन्नाव भी ट्रक में सवार था। 9 जनवरी की सुबह तीनों की बस्ती जिले के छावनी थाना क्षेत्र में हत्या कर दी गई थी।

 

हत्याकांड के मुख्य आरोपी ट्रक मालिक व ड्राइवर अजीत सिंह उर्फ कल्लू निवासी इन्दे मऊ थाना बीघापुर जनपद उन्नाव, दूसरे ट्रक के चालक अरुण कुमार यादव उर्फ गोलू निवासी गोसीखेड़ा थाना बारासगवर जनपद उन्नाव और हेल्पर शील कुमार मौर्या उर्फ शीलू निवासी भानीपुर थाना सैनी जनपद कौशाम्बी को गिरफ्तार कर लिया गया। हत्यारोपी ट्रक की केबिन में छिपाकर पॉलीथिन में रखे साढ़े छह लाख रुपये लेकर भाग निकले थे। कानपुर मंडी पहुंचने से पहले गोलू ने पैसे का पैकेट अपने भाई मनीष को सौंप दिया था। इसी धनराशि की बरामदगी में पुलिस जुटी और दोनों आरोपितों को पीसीआर पर लेने की तैयारी में है। वहीं छावनी थाने में हत्या के दर्ज मुकदमे में पुलिस ने लूट व साजिश की धाराएं बढ़ा दी हैं।

कानपुर व उन्नाव में पुलिस ने डाल रखा है डेरा

ट्रिपल मर्डर के आरोपितों की धरपकड़ और नगदी लूटे जाने की बात सामने आने के बाद ही आरोपी गोलू के भाई मनीष की तलाश कर नगदी बरामदगी के लिए पुलिस टीम को रवाना कर दिया गया था। बताया जा रहा है कि सोमवार की देर शाम तक पुलिस नगदी बरामद नहीं कर सकी। ऐसे में अब पुलिस आरोपी अजीत सिंह व गोलू को उन्नाव व कानपुर ले जाने की तैयारी में है।

जानिए 24 घंटे में कैसे अपने ही जाल में फंस कर पकड़े गए तीन कातिल

जिले के छावनी थाना क्षेत्र में हुए ट्रिपल मर्डर का पुलिस ने चौबीस घंटे के अंदर खुलासा कर दिया। वारदात को अंजाम देने वाले दो ट्रक ड्राइवर समेत तीन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उनके कब्जे से हत्या में प्रयुक्त दो लोडेड ट्रक, एक तमंचा, एक चाकू, राड, तीन मोबाइल के साथ नगदी बरामद हुई है।

पुलिस लाइन प्रेक्षागृह में रविवार की देर शाम आईजी रेंज अनिल कुमार राय व एसपी हेमराज मीणा ने सनसनीखेज वारदात का पर्दाफाश करते हुए बताया कि मृतक ट्रक चालक राजकुमार से व्यक्तिगत रंजिश व आलू व्यापारी से नगदी लूटने के मकसद से इस वारदात को अंजाम दिया गया है। भोर में ही तीनों उन्नाव मंडी जा पहुंचे थे। किसी को उन पर शक न हो इसके लिए आर्डर की डिलीवरी के लिए ट्रक लेकर रविवार को फिर से बिहार के लिए रवाना हो गए। आईजी ने बताया कि सर्विलांस के साथ चौकड़ी टोल प्लाजा के फुटेज व ट्रक में लगे जीपीएस की मदद से हत्या में शामिल इन तीनों संदिग्धों को पुलिस रडार पर ले चुकी थी।

इनके उन्नाव से रवाना होने के बाद पूरे रास्ते टीम ने नजर रखी और जैसे ही छावनी थानांतर्गत कलवलपुर के पास शाम करीब पौने चार बजे पहुंचे टीम ने घेराबंदी कर दोनों ट्रकों को रोक लिया। हत्या के मुख्यारोपी ट्रक मालिक व ड्राइवर अजीत सिंह उर्फ कल्लू निवासी इन्दे मऊ थाना बीघापुर जनपद उन्नाव, दूसरे ट्रक के चालक अरूण कुमार यादव उर्फ गोलू पुत्र प्रह्लाद यादव निवासी गोसीखेड़ा थाना बारासगवर जनपद उन्नाव और हेल्पर शील कुमार मौर्या उर्फ शीलू निवासी भानीपुर थाना सैनी जनपद कौशाम्बी को गिरफ्तार कर लिया गया।

 

पुलिस के अनुसार आरोपी अजीत व गोलू की मृतक राजकुमार से पूर्व से विवाद चल रहा था। दोनों इस फिराक में थे कि कब कोई व्यापारी इनके ट्रक पर खरीदारी के लिए कानपुर जाने को सवार हो और ये अपने लूट व हत्या के मंसूबे में कामयाब हो सके। राजकुमार के साथ ही अजीत व गोलू भी ट्रक लेकर बिहार गए थे। लौटते समय राजकुमार के ट्रक में आलू व्यवसायी मोहम्मद असलम के बैठने के बाद ही इन्होंने अपना टारगेट सेट कर लिया था। खुलासे के दौरान एएसपी रवीन्द्र कुमार सिंह, सीओ सिटी गिरिश कुमार सिंह, सीओ हर्रैया शक्ति सिंह भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.