January 25, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

देवरिया:कर्ज मे डूबे कारोबारी ने की आत्महत्या

देवरिया|बैंक के कर्ज में डूबे कारोबारी विकास श्रीवास्तव ने मंगलवार की दोपहर में खुदकुशी कर ली। देवरिया के धनवती गांव निवासी विकास की कोतवाली इलाके में किराये के कमरे में पंखे से लटकती लाश मिली। सूचना पर पहुंची कोतवाली पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया। विकास अपने मां-बाप का इकलौता बेटा था। पिता की मौत हो चुकी थी। वह अपनी बुजुर्ग मां का सहारा था। अभी उसकी शादी नहीं हुई थी।

देवरिया जिले के धनवती गांव निवासी विकास श्रीवास्तव अपनी मां के साथ हुमायूंपुर दक्षिणी मोहल्ले में उमाशंकर गुप्ता के मकान में किराये पर रहता था। विकास की तमकुहीराज में मिक्सर बनाने की दुकान है। बताया जा रहा है कि विकास ने अपना कारोबार बढ़ाने के लिए ओरिएंटल बैंक से दस लाख रुपये का कर्ज लिया था। वह कर्ज लौटा नहीं पा रहा था। एनपीए होने की वजह से कर्ज को लेकर नोटिस आ रहा था। मंगलवार की सुबह नोटिस की जानकारी के बाद विकास की मां अधिवक्ता से मिलने गई थी। दोपहर में करीब 12.30 बजे वह लौटी तो अंदर से दरवाजा भिड़काया गया था। मां ने पहले बेटे को आवाज दी। दरवाजा नहीं खुला तो धक्का दी और दरवाजा खुल गया। 

विकास कमरे में पंखे से लटक रहा था। बेटे की लाश देखकर मां चीख पड़ी। उसकी चीख सुनकर आस-पास के लोग पहुंच गए और इन्हीं में से किसी ने पुलिस को सूचना दे दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। विकास के अलावा उसकी दो बहनें हैं। बहनों की शादी हो गई है। एक बहन की शादी बक्शीपुर में हुई है तो दूसरी की उत्तराखंड में। गोरखपुर में ही रिश्तेदारी होने की वजह वे वह यहीं पर किराये का कमरा लेकर रहता था। विकास के पिता की पहले गोलघर में दुकान भी थी लेकिन उनकी मौत के बाद दुकान बंद हो गई। इकलौते बेटे की मौत से मां का रो-रो कर बुरा हाल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.