June 29, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

देवरिया: ईंट भट्ठे पर चल रहे अवैध शराब की फैक्ट्री पर पुलिस ने की छापेमारी; 35 लाख की शराब बरामद

देवरिया: लार थाना क्षेत्र के एक ईट भट्ठे पर अवैध रुप से शराब की फैक्ट्री चलने की सूचना मिल रही थी। इसे लेकर स्वाट, सीआईयू और लार थाना की पुलिस ने शुक्रवार की देर शाम को लार थाना क्षेत्र के सतोतर गांव स्थित ईट भट्ठे पर छापेमारी किया। पुलिस को देख ईंट भट्ठे पर मौजूद लोग भागने लगे। पुलिस ने ईट भट्ठे के मजदूरो के कमरो की तलाशी किया।

 

 

जहां 470 पेटी अपमिश्रित क्रेजी रोमियो शराब बरामद हुआ। इसके साथ ही 20 शीशी नकली बंटी बबली देशी शराब, प्लास्टिक के गैलेन में दस – दस लीटर शराब, दो बोरे में खाली शीशी बंटी बबली, एक झोले में ढक्कन, दो कीप, दो जग, 10 किग्रा यूरिया और 5 क्रिग्रा नौशदर बरामद हुआ। इसकी कीमत 34 लाख रुपये बताई जा रही है। पुलिस ने भट्ठा मालिक समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया।

 

 

 

पूछताछ में गिरफ्तार अभियुक्तों में भट्ठा मालिक ने अपना नाम आलोक कुमार सिंह पुत्र विपिन बिहारी सिंह निवासी बरडीहा दलपथ थाना लार, भट्ठा का मुंशी अमित पुत्र निरंजन प्रसाद निवासी मलकौली सलेमपुर कोतवाली, शिव भोला पुत्र सुन्दर निवासी दीनगंज, विजय कुमार पुत्र छेदीलाल और मोनू पुत्र रामनरेश निवासी पखरौली थाना डलमऊ जिला रायबरेली बताया। पुलिस ने ईट भट्ठा मालिक आलोक से पूछताछ किया तो उसने बताया कि ईट भटट्ठे पर अपमिश्रित शराब बनाकर बेचा जाता था। इसे कुछ दुकानों और पड़ोसी बिहार भी भेजा जाता था।

 

 

पंजाब के पटियाला से क्रेजी रोमियो शराब में यूरिया और नौशादर मिलकार शराब बनाकर बेचा जाता था। एसपी ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त गिरोह बनाकर अवैध शराब की फैक्ट्री चला रहे थे। गिरफ्तार सभी अभियुक्तों के विरुद्ध गैंगेस्टर की कार्रवाई की जाएंगी। टीम में थानेदार विजय सिंह गौर, स्वाट टीम प्रभारी संतोष सिंह, सर्विलांस प्रभारी धनश्याम सिंह, सीआईयू अनिल कुमार यादव, दरोगा रामरतन यादव, रंजय कुमार, कांस्टेबल अरुणखर वार, सुदामा यादव, धनंजय श्रीवास्तव और राहुल सिंह मौजूद रहे।

 
ऐसे बनाते थे अपमिश्रित शराब

ईंट भट्ठे पर मालिक की शह पर दिन में मजदूर कार्य करते थे और शाम होते ही वह एक कमरे में एकत्र होकर अपमिश्रित शराब को खाली शीशी में पैक करते थे। पंजाब से शराब को लाकर इसमें यूरिया और नौशादर मिलाकर अपमिश्रित तैयार किया जाता था, जिसे बाजार में बेचा जाता था। ईंट भट्ठे पर बरामद सामान से लगभग एक करोड़ से ऊपर के अपमिश्रित शराब तैयार होगा।

 

 

ईंट भट्ठे की लाइसेंस निरस्त के लिए किया जाएगा पत्राचार

लार के सतोतर गांव स्थित ईंट भट्ठे पर अवैध शराब की फैक्ट्री चल रही थी। पुलिस की छापेमारी में भारी मात्रा में अपमिश्रित शराब बरामद हुई है। ईट भट्ठे पर हो रहे अवैध कार्य को देखते हुए ईंट भट्ठे के लाइसेंस रद्द करने के लिए विभाग को पत्र लिखेंगे। जिससे इस ईट भट्ठे का दूसरी बार अवैध शराब के लिए उपयोग न किया जा सके।

 

 

अपमिश्रित शराब के सेवन के होती है लोगों की मौत

अपमिश्रित शराब से कभी कभी लोगों की जान चली जाती है। इसमें प्रतिबंधित सामान मिलाकर बनाया जाता है। इसे बडे पैमाने पर बनाकर कहां बेचा जाता है। इसकी जांच पुलिस कर रही है। कई बार पहचे कच्ची पीने से लोगों की मौत हो चुकी है। पुलिस को अभियुक्तों ने शराब बेचने वाले कुछ लोगों के नाम पुलिस को बताया है। पुलिस इसके लिए आबकारी अधिकारी से ऐसे स्थानों को चिह्नित करने के लिए पत्राचार करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.