June 25, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

पेन का आविष्कार किसने किया? जानिए इसका इतिहास

पेन क्या है | Pen Ka Avishkar Kisne Kiya | पेन का आविष्कार कब हुआ | पेन का आविष्कार करने वाले का नाम क्या है |फाउंटेन पेन, बॉल पेन का आविष्कार किसने किया

 

आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बहुत ही इंपॉर्टेंट चीज के बारे में बताने वाले हैं जो है पेन। जी हां शायद ही आप में से किसी को यह पता होगा कि पेन का आविष्कार किसके द्वारा किया गया था। वैसे तो आज के समय में पेन का इस्तेमाल बहुत ही कम हो गया है क्योंकि लगभग ज्यादातर लोग किसी को ई-मेल ना कोई संदेश भेजने के लिए ज्यादातर स्मार्टफोन का ही इस्तेमाल करते हैं लेकिन आज भी हमारे कुछ कार्य ऐसे होते हैं जिंदगी ने हमें टाइम की आवश्यकता पढ़ती है चाहे वह किसी फॉर्म को भरने में हो या किसी इंपॉर्टेंट डाक्यूमेंट्स को साइन करना हो।

 

पहले के जमाने में लोग किसी को संदेश या चिट्ठी लिखने के लिए सियाही और पक्षी के पंख का उपयोग करते थे यह दौर काफी समय तक चला जिसके बाद पेन का आविष्कार किया गया जिसके बाद लोगो की ज़िंदगी आसान हो गई। तो चलिए फिर आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से पेन से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान करने वाले हैं यदि आप भी जानना चाहते हैं कि सबसे पहले पेन का आविष्कार कब और किसके द्वारा किया गया तो हमारे इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें।

पेंसिल का आविष्कार किसने किया था;जानिए पेंसिल का इतिहास

Pen Kya Hota Hai?

पेन का उपयोग हम सभी लोग अपने किसी भी लिखित कार्य के लिए करते हैं। पेन की जो आगे की नोक या नीब होती है वह स्टेनलेस स्टील या टाइटेनियम से बनाई जाती है। पेन के अंदर उपयोग होने वाली स्याही एक या एक से अधिक रंग वर्णकों (color pigments) और डाइ को किसी साल्वेंट (जैसे- पानी या तेल) में मिलाकर बनाई जाती है। दुनिया का सबसे महंगा और कीमती पेन ‘टिबाल्डी फुलगोर नोक्टर्नस’ (Tibaldi Fulgor Nocturnus) है। जिसे इटली की एक कंपनी टिबाल्डी द्वारा बनाया गया था। इस पेन की कीमत आज के समय में लगभग 60 करोड़ है।

पेंसिल से  लिखा हुआ बहुत जल्दी रख हो जाता है इसीलिए लोग ज्यादातर पेंसिल की जगह पेन का इस्तेमाल करते हैं क्योंकि पेन का लिखा हुआ आसानी से रफ हो जाता है। आज के समय में हम जिस पेन का इस्तेमाल करते हैं वह बॉल पेन कहलाते हैं दूसरा पेन फाउन्टेन होता है, जिसमें रिफिल की जगह निब से लिखते हैं।

 

पेन का आविष्कार कब और किसके द्वारा किया गया

देखा जाए तो पेन बनाने का श्रेय केवल एक व्यक्ति को नहीं जाता बल्कि बहुत से ऐसे लोग हैं जिन्होंने इसे बनाने में काफी समय तक मेहनत की है। आज से लगभग 80 वर्ष पूर्व बॉल पॉइंट पेन का आविष्कार वर्ष 1888 में जॉन जैकब लाउड द्वारा किया गया था। जॉन जैकब अमेरिकी वकील और लेदर का काम करने वाले व्यक्ति थे। जॉन जब लेदर की वस्तुएं बनाते थे तब उन्हें लेदर के बड़े-बड़े टुकडे काटते वक्त निशान लगाने के लिए पेंसिल या फाउंटेन पेन से निशान लगाने में काफी परेशानी होती थी जिसकी वजह से उन्होंने एक ऐसा पेन बनाने का विचार किया जिससे निशान लगाते समय उस पेन की नोक आसानी से चारो और घूम सके।

  • जाॅन लाउड ने अपने इस नये आविष्कार के लिए 30 अक्टूबर, 1888 को अमेरिका में पेटेंट प्राप्त किया। यह बाॅल पेन के लिए दुनिया का पहला पटेंट था। जिसके बाद पतली सी आई और बॉल बेयरिंग का उपयोग कर वर्ष 1938 में हंगेरियन मूल के अर्जेंटीनियन आविष्कारक लादिसालो जोस बिरो द्वारा बॉल पेन का आविष्कार किया गया। लगभग 100 अरब से भी ज्यादा इस पेन की बिक्री हुई।
  • फाउंटेन पेन का आविष्कार वर्ष 1827 में रोमानियाई आविष्कारक पेट्राक पोएनारू द्वारा किया गया था। इसलिए पेन का से किसी एक व्यक्ति को देना गलत होगा क्योंकि समय समय पर बहुत सारे लोगों ने पेन के नए-नए डिजाइन का आविष्कार किया है।
  • वर्ष 1962 में मार्कर पेन का विकास हुआ जिस का अविष्कार जापानी युकियो हॉरी द्वारा टोक्यो स्टेशनरी कंपनी जिसे लोग पेंटल के नाम से भी जानते हैं उसके द्वारा किया गया। जैसे कि सभी लोग जानते हैं कि आज के समय में मार्कर पेन या हाइलाइटर पेन कितने फेमस है।
  • उसके बाद वर्ष 1963 में जापानी कंपनी ऑटो द्वारा रोलर बॉल पेन का आविष्कार किया गया जिसके बाद वर्ष 1990 में कंपनी द्वारा उस पेन के ऊपर रबड़ के कवर लगाया गया।
  • पेन पर कवर लगाने का मुख्य कारण यह था कि पेन से लिखते समय लोगों की उंगलियों पर ज्यादा दबाव ना पड़े।

फाउंटेन पेन का आविष्कार किसने और कब किया था?

फाउंटेन पेन का आविष्कार Petrache Poenaru ने सन 1827 में किया था।

बॉल पेन का आविष्कार किसने और कब किया था?

बॉल पेन का आविष्कार John J Loud. ने सन 1888 में किया था।

पेन की स्याही किन चीजों से मिलकर बनी होती हैं?

उत्तरः लगभग सभी कलमों की स्याही एक या एक से अधिक रंग वर्णकों (color pigments) और डाइ को किसी साल्वेंट (जैसे- पानी या तेल) में मिलाकर बनाई जाती है। कलम कागज पर सुचारू रूप से चले इसके लिए स्याही में अतिरिक्त रासायनिक कंपाउंड, जैसे – ओलेक एसिड और अल्काइल अल्कानोलामाइड भी मिलाया जाता है।

पेन की नोक यानी निब किस चीज की बनी होती है?

उत्तरः आजकल पेन की निब मुख्यतः स्टेनलेस स्टील या टाइटेनियम से बनाई जाती है।

दुनिया के सबसे किमती पेन का क्या नाम है?

दुनिया का सबसे कीमती पेन टिबाल्डी फुलगोर नोक्टर्नस (Tibaldi Fulgor Nocturnus) है। वर्तमान में इसकी कीमत लगभग 60 करोड़ है।

तो अब आप जान गए होंगे कि Pen Ka Avishkar Kisne Kiya पेन का आविष्कार फ्रेंच इन्वेन्टर पेट्राचे पोएनरु (Petrache Poenaru) नें किया था। इन्होंने 25 मई 1857 को फाउंटेन पेन का आविष्कार किया था। लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बॉल पॉइंट पेन का आविष्कार को माना जाता है। जॉन जैकब लाउड ने 1988 में बॉल पॉइंट पेन का आविष्कार किया। उम्मीद है की आपको इस आर्टिकल में सारी जानकारी मिल गई होगी।

 

क्या पेन की स्याही जहरीली होती है?

उत्तरः नहीं! अगर आपके मुंह में किसी प्रकार से कलम की स्याही चली गई है, तो आपको अत्यधिक चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार – “बाॅल पेन या फाउंटेन पेन में इतनी कम स्याही होती है कि अगर उसकी पूरी स्याही मुंह के अंदर चली भी जाए तो वह विषैली नहीं होगी।”

हाँ, अगर आपके पेट के अंदर थोड़ी ज्यादा मात्रा में स्याही चली गई है तो आपको थोड़ा ज्यादा पानी पी लेना चाहिए।

 

कागज का आविष्कार किसने किया था?

उत्तरः चीन के राजनेता काई लुन ने सन् 105 में आज से मिलते-जुलते कागज का निर्माण किया था। इसलिए काई लुन को ही कागज का आविष्कारक माना जाता है।

पेंसिल का आविष्कार किसने किया था;जानिए पेंसिल का इतिहास

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.