January 18, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

बस्ती:आरसेटी भवन अब तक हस्तांतरित ना होने पर डीएम ने व्यक्त किया असंतोष

बस्ती|भारतीय स्टेट बैंक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान (आरसेटी) के नवनिर्मित भवन का हस्तान्तरण न किए जाने पर जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने असंतोष व्यक्त किया है। पुलिस लाइन सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में उन्होने पाया कि पूर्व में 31.10.2020 तक नये भवन में प्रशिक्षण शुरू कराने का निर्देश दिये जाने के बावजूद अभी तक कोई कार्यवाही नही की गयी है। आरसेटी के निदेशक सुशील कुमार पाण्डेय ने बताया कि भवन के फ्लोरिंग एवं पेंटिंग का कार्य अवशेष है। विभाग द्वारा भवन पूरा करने का अन्तिम तिथि 30 जून 2021 तक बढा दिया गया है। उन्होने बताया कि कोविड-19 के कारण लाकडाउन के दौरान निर्माण कार्य रूका हुआ था।


जिलाधिकारी ने प्रशिक्षण संस्थान द्वारा वर्ष 2015-16 एवं 2016-17, 2017-18, 2018-19 एवं 2019-20 में एन0आर0एल0एम0 के प्रशिक्षण व्यय की प्रतिपूर्ति अभी तक न किए जाने पर नाराजगी व्यक्त किया तथा उपायुक्त को निर्देश दिया कि 15 दिन के भीतर भुगतान सुनिश्चित कराये।


उन्होने आरसेटी द्वारा प्रशिक्षित युवाओं को स्वरोजगार हेतु ऋण आवेदन पत्रों का निस्तारण न किए जाने पर विभिन्न बैंक शाखाओं को 31 दिसम्बर तक निर्णय लेने का निर्देश दिया है। वर्ष 2019-20 में कुल 156 ऋण आवेदन पत्र प्रेषित किए गये है, जिसमें से 82 अस्वीकृत, 13 स्वीकृत तथा 61 लम्बित है। इसी प्रकार वर्ष 2020-21 में बैंक की विभिन्न शाखाओ को 39 आवेदन पत्र प्रेषित किए गये है, जिसमें से 26 अस्वीकृत, 04 स्वीकृत तथा 09 लम्बित है।


आरसेटी के निदेशक एसके पाण्डेय ने बताया कि वर्ष 2020-21 में 25 कार्यक्रम संचालित करके 625 युवाओं को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य मिला था। इसके सापेक्ष 10 कार्यक्रम के द्वारा 309 युवाओं को प्रशिक्षित किया गया है। बैठक में लीड बैंक मैनेजर अविनाश चन्द्रा, भारतीय स्टेट बैंक से राकेश कुमार पाण्डेय, संजेश श्रीवास्तव, बड़ौदा यूपी बैंक के अशोक कुमार पाण्डेय, उदय प्रकाश पासवान, एके सिंह, संदीप वर्मा, डाॅ0 ओम प्रकाश त्रिवेदी तथा विभिन्न बैंको के प्रतिनिधिगण उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.