August 9, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

बस्ती:चर्चित कबीर हत्याकांड में एडीजी आशुतोष पांडेय ने नवागत एसपी हेमराज मीणा को दो फरार आरोपियों पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित करने का दिया आदेश

13BST19_1570989141_1570989141
बस्ती जिले के नवागत डीएम और एसपी

 

बस्ती: एडीजी आशुतोष पांडेय ने नवागत एसपी हेमराज मीणा को दो आरोपियों पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित करने का आदेश दिया है। इनमें से एक आरोपी अभिजीत नामजद आठ लोगों में शामिल है, जबकि मुन्नू उर्फ प्रशांत पांडेय का नाम विवेचना में सामने आया है। दोनों जिले से फरार हैं।

 

 

कबीर हत्याकांड में जांच का दायरा बढ़ने के साथ ही नए गुनाहगारों के भी नाम सामने आने लगे हैं। आईजी रेंज बस्ती आशुतोष कुमार के पर्यवेक्षण में हो रही जांच में मौके से पकड़े गए गोली मारने वाले दोनों शूटरों अनुराग तिवारी और अभय तिवारी के मोबाइल की कॉल डिटेल खंगाली गई।

 

पता चला कि दोनों का अभिजीत सिंह से संपर्क है। वहीं अभिजीत की कॉल डिटेल खंगालने पर चौंकाने वाली जानकारी हाथ लगी। कबीर को गोली मारने के समय और बाद में अभिजीत ने मोबाइल से मुन्नू पांडेय निवासी पिकौरा शिवगुलाम से पांच-पांच मिनट बात की। पूर्व में भी कई दफा बात हुई थी।

 

घटना के तत्काल बाद दोनों एक कार से लखनऊ की तरफ फरार हो गए। अब पुलिस दोनों की तलाश में ताबड़तोड़ दबिश दे रही है। दबाव बढ़ाने के लिए दोनों को इनामिया भी घोषित किया जा रहा है। वहीं आईजी रेंज आशुतोष कुमार ने स्पष्ट किया है कि एफआईआर में नामजद अन्य आरोपियों की भी गिरफ्तारी सुनिश्चित होगी।

 

बता दें कि नौ अक्तूबर को बाइक सवार दो युवकों ने पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष आदित्य नारायण तिवारी उर्फ कबीर की गोली मारकर हत्या कर दी थी। मृतक के चाचा शिव प्रसाद तिवारी ने आठ नामजद और दो अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था।

 

कोटजांच में नामजद अभिजीत के अलावा मुन्नू पांडेय का नाम सामने आया है। दोनों की गिरफ्तारी के लिए दबिश जारी है। दोनों पर 25-25 हजार रुपये इनाम घोषित करने का आदेश एसपी बस्ती को दिया गया है।

 

– आशुतोष पांडेय, एडीजी

 

कबीर को गोली मारते समय दोनों के बीच हुई दस मिनट तक बातचीत-घटना के बाद दोनों एक कार से हाईवे से लखनऊ की तरफ भाग गए।

 

 

जिले के चर्चित कबीर हत्याकांड में एडीजी आशुतोष पांडेय ने नवागत एसपी हेमराज मीणा को दो आरोपियों पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित करने का आदेश दिया है। इनमें से एक आरोपी अभिजीत नामजद आठ लोगों में शामिल है, जबकि मुन्नू उर्फ प्रशांत पांडेय का नाम विवेचना में सामने आया है। दोनों जिले से फरार हैं। कबीर हत्याकांड में जांच का दायरा बढ़ने के साथ ही नए गुनाहगारों के भी नाम सामने आने लगे हैं। आईजी रेंज बस्ती आशुतोष कुमार के पर्यवेक्षण में हो रही जांच में मौके से पकड़े गए गोली मारने वाले दोनों शूटरों अनुराग तिवारी और अभय तिवारी के मोबाइल की कॉल डिटेल खंगाली गई।

 

 

पता चला कि दोनों का अभिजीत सिंह से संपर्क है। वहीं अभिजीत की कॉल डिटेल खंगालने पर चौंकाने वाली जानकारी हाथ लगी। कबीर को गोली मारने के समय और बाद में अभिजीत ने मोबाइल से मुन्नू पांडेय निवासी पिकौरा शिवगुलाम से पांच-पांच मिनट बात की। पूर्व में भी कई दफा बात हुई थी।घटना के तत्काल बाद दोनों एक कार से लखनऊ की तरफ फरार हो गए।

 

अब पुलिस दोनों की तलाश में ताबड़तोड़ दबिश दे रही है। दबाव बढ़ाने के लिए दोनों को इनामिया भी घोषित किया जा रहा है। वहीं आईजी रेंज आशुतोष कुमार ने स्पष्ट किया है कि एफआईआर में नामजद अन्य आरोपियों की भी गिरफ्तारी सुनिश्चित होगी। बता दें कि नौ अक्तूबर को बाइक सवार दो युवकों ने पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष आदित्य नारायण तिवारी उर्फ कबीर की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

 

 

मृतक के चाचा शिव प्रसाद तिवारी ने आठ नामजद और दो अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। कोटजांच में नामजद अभिजीत के अलावा मुन्नू पांडेय का नाम सामने आया है। दोनों की गिरफ्तारी के लिए दबिश जारी है। दोनों पर 25-25 हजार रुपये इनाम घोषित करने का आदेश एसपी बस्ती को दिया गया है।

 

 

– आशुतोष पांडेय, एडीजी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.