December 2, 2020

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

बस्ती:जिलाधिकारी ने जांच में बंद पाए गए 05 धान क्रय केंद्रो को किया ब्लैक लिस्टेड

बस्ती:जिलाधिकारी ने जांच में बंद पाए गए 05 धान क्रय केंद्रो को किया ब्लैक लिस्टेड

बस्ती। जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने जांच में बंद पाए गए 05 सभी धान क्रय केंद्रो को ब्लैक लिस्ट कर दिया है। उन्होंने इसके स्थान पर पीसीएफ के 08 नए धान क्रय केंद्र खोलने की अनुमति प्रदान किया है। डिप्टी आरएमओ गोरखनाथ ने बताया कि जिलाधिकारी ने बस्ती सदर में संघ जिगिना (सुदामागंज) तथा क्रय विक्रय धोबहिया, बनकटी में डीसीएफ गुलरिया सिरमा, साऊघाट में केंद्रीय उपभोक्ता गौरा चौराहा, गन्धरियागजराज एवं रानीपुर (जिगिना), बहादुरपुर में संघ कलवारी तथा दुबौलिया में क्रय विक्रय निशेषरगंज में धान क्रय केंद्र खोले जाने की अनुमति दिया हैं।


उन्होंने बताया कि जांच में बंद पाए गए बस्ती सदर में वेलवाड़ाडी, सॉऊघाट में नरहरिया, बहादुरपुर में मशानडीह तथा अगौना, कप्तानगंज में महुआ लखनपुर धान क्रय केंद्र ब्लैक लिस्ट किए गए हैं।


उन्होंने सभी धान क्रय केंद्र प्रभारियों/जिला प्रबंधकों को निर्देशित किया है कि लघु एवं सीमांत कृषको को प्राथमिकता के आधार पर धान खरीद कराने हेतु प्रयास किया जाए। उन्होंने बताया कि शासन की मंशा यह है कि अधिकाधिक किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ दिया जाए एवं किसी भी दशा में धान खरीद बिचौलियों/अनाधिकृत व्यक्तियों का न किया जाए।


उन्होंने कहा कि 50 कुंतल से अधिक धान बेचने वाले किसानों का सत्यापन उनके खसरे एवं वास्तविक क्षेत्रफल पर बोये गए धान का सत्यापन राजस्व विभाग से कराते हुए, रैंडम आधार पर किसानों के घर पहुंच कर भी धान की मात्रा सत्यापित करने के उपरांत ही खरीद की जाए।


उन्होंने बताया कि जनपद में धान का लगभग 30 प्रतिशत क्षेत्र हरदिया रोग से प्रभावित होने की रिपोर्ट कृषि विभाग द्वारा प्राप्त होने पर हरदिया रोग से ग्रसित धान की खरीद में छूट हेतु उच्च स्तर पर रिपोर्ट प्रेषित कर दी गई है। उन्होने बताया कि भारत सरकार से पर्यवेक्षक की एक टीम आने एवं डैमेज की अनुमन्य सीमा में छूट प्राप्त होते ही हरदिया रोग से प्रभावित धान की खरीद भी केंद्रों पर हो सकेगी।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Powered By : Webinfomax IT Solutions .
EXCLUSIVE