August 4, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

बस्ती:जिलाधिकारी ने जुलाई माह में प्रस्तावित संचारी रोग नियंत्रण अभियान को सुचारू रूप से संचालित करने लिए की बैठक

जिलाधिकारी ने जुलाई माह में प्रस्तावित संचारी रोग नियंत्रण अभियान को सुचारू रूप से संचालित करने लिए की बैठक

बस्ती। जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने जुलाई माह में प्रस्तावित विशेष संचारी रोग नियंत्रण एवं दस्तक अभियान की तैयारी बैठक में निर्देश दिया है कि इस अभियान को प्रभावी ढंग से संचालित करें ताकि जेई एवं एईएस के कम से कम केसेज हो।

कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित तैयारी बैठक में उन्होंने कहा कि आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्री घर-घर जाकर 01 जुलाई से बुखार के रोगी, इनफ्लुएंजा लाइक इलनेस(आईएलआई), टीबी रोगी तथा कुपोषित बच्चों की सूची तैयार करेंगी। इसमें लक्षण युक्त पाये गये लोगों का इलाज सीएचसी व पीएचसी के द्वारा किया जायेगा। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है कि माइक्रोप्लान के अनुसार तिथिवार एवं क्षेत्रवार गतिविधियां की जाएंगी। इसमें किसी प्रकार का अंतर नहीं होना चाहिए।

उन्होंने सभी उप जिलाधिकारी, खंड विकास अधिकारी तथा प्रभारी चिकित्साधिकारियों को निर्देशित किया है कि अभियान की गतिविधियों को गति प्रदान करने के लिए प्रतिदिन शाम को बैठक आयोजित कर समीक्षा की जाए तथा दिन में पाई गई कमियों को दूर किया जाए। उन्होंने कहा कि जेई ,एईएस की दृष्टिकोण से बस्ती मंडल अति संवेदनशील क्षेत्र है। इस वर्ष अभी तक जेई का कोई केस नहीं मिला है। एईएस के सात केस मिले हैं और एक भी मृत्यु नहीं हुई है। उन्होंने निर्देश दिया है कि 9 हाई रिस्क गांव चिन्हित किए गए हैं। इन गांव में सभी विभाग प्राथमिकता पर समय से सभी क्रियाकलापों को गुणवत्तापूर्ण पूरा करें।

उन्होंने कहा कि इस दौरान कोविड-19 प्रोटोकाल का पूरी तरह पालन किया जाए। 12 जुलाई से 25 जुलाई तक संचालित दस्तक अभियान में दरवाजा खटखटाने की जगह गृहस्वामी को आवाज देकर बुलाया जाएगा। उन्होंने निर्देश दिया है कि इस दौरान कोविड-19 संबंधी दवा किट का वितरण किया जाएगा।

उन्होंने निर्देश दिया है कि वृक्षारोपण अभियान के दौरान मच्छररोधी गेंदा, तुलसी, मेंथा, पुदीना नीम आदि के पौधे अवश्य लगाए जाएं। शुद्ध पेयजल की व्यवस्था के लिए आवश्यक प्रबंध किए जाएं। सुनिश्चित किया जाए कि छोटे हैंडपंप का पानी पीने और खाना बनाने के प्रयोग में न लाया जाए। उन्होंने स्वास्थ्य, नगर पालिका एवं नगर पंचायत, पशुपालन, कृषि , जल निगम, उद्यान, शिक्षा, महिला एवं बाल कल्याण, पंचायती राज, सिंचाई, दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग के अधिकारियों को इस अभियान को प्रभावी ढंग से संचालित करने का निर्देश दिया है।

बैठक का संचालन जिला मलेरिया अधिकारी डॉ0 आइ0ए0 अंसारी ने किया। उन्होंने बताया कि पिछले साल जेई, एईएस के 79 केसेज मिले थे जिसमें से तीन की मृत्यु हुई थी। बैठक में सीडीओ डॉ० राजेश कुमार प्रजापति, सीएमओ डॉ० अनूप कुमार, सीएमएस डॉ0 आलोक कुमार, डॉ0 सोमेश श्रीवास्तव, डॉ0 फखरेयार हुसैन, उप जिलाधिकारी नीरज प्रसाद पटेल, सुखबीर सिंह, आनंद श्रीनेत, जगदीश शुक्ला, पीडी कमलेश सोनी, इन्द्रपाल सिंह, डीएस यादव, सावित्री देवी, आलोक राय, विनय सिंह सभी प्रभारी चिकित्सा अधिकारी गण, खंड विकास अधिकारी गण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.