January 25, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

बस्ती:डिफाल्टर होने से पहले ही शिकायतों का करें निस्तारण; डीएम

बस्ती । जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने 249 ऑनलाइन प्राप्त शिकायतों के डिफाल्टर श्रेणी में आने पर असंतोष व्यक्त किया है। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिया है कि प्रतिदिन शिकायतों की समीक्षा करें तथा डिफाल्टर होने से पहले ही उसका निस्तारण करें। कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में उन्होंने पाया कि कुल 249 शिकायतें डिफाल्टर श्रेणी में चल रही है जिसकी वजह से शासन में जिले की स्थिति खराब हो रही है।

जिलाधिकारी ने कहा कि वर्तमान शासन द्वारा जन समस्याओं एवं शिकायतों के निस्तारण पर विशेष जोर दिया जा रहा है। ऐसी स्थिति में शिकायतों का डिफाल्टर श्रेणी में आना अधिकारियों की उदासीनता दर्शाती है।

उन्होंने कहा कि इस प्रकार की लापरवाही किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग तथा सिंचाई विभाग में अधिक शिकायतों के डिफाल्टर एवं लंबित पाए जाने पर नाराजगी व्यक्त किया तथा 03 दिन के भीतर इनका निस्तारण करने का निर्देश दिया। समीक्षा में उन्होंने पाया कि उपनिदेशक कृषि के 33 डिफाल्टर तथा 42 लंबित शिकायतें हैं, जो प्रधानमंत्री सम्मान निधि योजना से संबंधित हैं। इसके अलावा डूडा में पांच विद्युत में तीन नेएडा में दो तथा प्रोबेशन में एक डिफाल्टर श्रेणी की शिकायतें हैं। उनके निस्तारण का जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया है।

जिलाअधिकारी ने आईजीआरएस के अंतर्गत मुख्यमंत्री हेल्पलाइन, तहसील दिवस, ऑनलाइन प्राप्त शिकायतों का जिला तथा तहसील एवं ब्लॉक स्तर पर लंबित शिकायतों की समीक्षा किया। उन्होंने शिकायतों के गुणवत्तापूर्ण निस्तारण का भी निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि शिकायतों के निस्तारण के संबंध में शिकायतकर्ता से मुख्यमंत्री हेल्पलाइन द्वारा फोन करके जानकारी ली जाती है, इसलिए शिकायतों को गंभीरता से लेकर शिकायतकर्ता को सुनकर तथा मौके पर जाकर इसका निस्तारण सुनिश्चित करें।

बैठक का संचालन करते हुए एडीएम अभय कुमार मिश्रा ने बताया कि कुल 42999 शिकायतें विभिन्न माध्यमों से प्राप्त हुई है। इसमें से 41776 शिकायतो का निस्तारण किया गया है। 249 डिफॉल्टर तथा 974 शिकायतें लंबित हैं। बैठक में सीआरओ नीता यादव, पीडी आर पी सिंह, अपर एसडीएम राजेश सिंह, डीडीओ अजीत श्रीवास्तव, अखिलेश त्रिपाठी, सन्जेश श्रीवास्तव, श्रीमती नीलम सिंह, प्रेमचंद प्रजापति, अधिशासी अभियंता संतोष कुमार तथा अन्य विभागीय अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.