August 4, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

बस्ती:भुसैले के बड़ेर से लटकती मिली युवक की लाश

बस्ती |लालगंज थाना क्षेत्र के बानपुर निवासी मनोज (25) ने रविवार की रात भुसैले (भूसा रखने वाली झोपड़ी) के बड़ेर में साड़ी का फंदा लगाकर जान दे दिया। सुबह जब परिजन भूसा निकालने गए तो उसका शव लटका मिला। सूचना पर पहुंचे उप निरीक्षक मुनींद्र त्रिपाठी व सिपाहियों ने शव को कब्जे में ले लिया और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। परिजनों के अनुसार लालजी के दो बेटों में मनोज छोटा था और उसके दो साल की बेटी राधा व पत्नी मिसलावती माह भर से मायके गए हुए थे। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

आर्थिक तंगी और शराब की बुरी लत बानपुर गांव के कई की मौत का कारण बन चुकी है। मनोज के मौत के पीछे भी शराब की बुरी लत का मामला सामने आ रहा है। रविवार शाम नशे में परिवार के लोगों से कुछ कहा सुनी भी हुई थी। इसके बाद रोज की तरह वह घर से बाहर निकल गया। स्वजन रात में उसे आस पास तलाश किये, मगर कुछ पता नहीं चल सका। सुबह जब मनोज की मां चौराहे के पास बने दूसरे घर पर भूसा लेने गई तो देखा कि छप्पर के बड़ेर से रस्सी के सहारे उसके बेटे का शव लटक रहा था। मां के रोने की आवाज सुन पड़ोस के लोग भी पहुंचे। शव को फंदे से नीचे उतारा । घटना की सूचना लालगंज पुलिस को दिया। मायके गई मृतक की पत्नी को भी उसके पति के मौत से सूचना दे दी गई है।

आपको बता दे कि लालगंज थाना के बानपुर गांव में पांच माह के अंदर पांच लोगों की मौत फांसी लगाने से हुई है। इनके फांसी लगाने की वजह कोई और नहीं आर्थिक तंगी और नशे की बुरी लत रही है। सबसे पहले एक जुलाई को धर्मेंद्र चौधरी ने फांसी लगाकर जान दी तो उसके बाद अगस्त में बुंदर और मिट्ठू ने फांसी लगायी। 17 अक्टूबर को राजेश ने और अब मनोज ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया। लगातार गांव में हो आत्महत्या की घटना से लोग सकते में हैं।

लालगंज के प्रभारी निरीक्षक ब्रह्मा गौड़ ने बताया कि पूछताछ में पता चला कि मृतक नशे का आदी था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.