January 21, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

बस्ती:सहकारी गन्ना समिति आमा-टिनिच क्षेत्र के सुकरौली में किसान गोष्ठी का हुआ आयोजन

बस्ती| सहकारी गन्ना समिति आमा-टिनिच क्षेत्र के सुकरौली में रविवार को किसान गोष्ठी का आयोजन किया गया। बभनान चीनी मिल की ओर से आयोजित गोष्ठी में वसंतकालीन गन्ना बोआई के बारे में किसानों को जानकारी दी गई और प्रोत्साहित भी किया गया।

 

 

मुख्य अतिथि मिल मालकिन अवंतिका सरावगी ने बेहतर गन्ना उत्पादक महिला किसान पूजा को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। कहा कि किसानों की प्रगति में ही सबका विकास है। अधिक मुनाफे के लिए अर्ली प्रजाति के गन्ने की बोआई करें जिससे अधिक लाभ कमाया जा सके। वरिष्ठ महाप्रबंधक अजय दूबे ने जंगली जानवरों से फसल बचाव के कई टिप्स दिए। अध्यक्षता प्रगतिशील किसान जय प्रकाश यादव व संचालन डिप्टी जीएम गन्ना आरसी राय ने किया। इस दौरान विध्याचल सिंह, अमरेंद्र पाल, उमेश यादव, राम सुरेश, पंडित सिंह, ओम प्रकाश सिंह, रामराज पांडेय, ध्रुव कुमार पांडेय आदि मौजूद रहे।

 

गन्ना मूल्य नहीं डीजल व पेट्रोल में वृद्धि कर रही सरकार

बस्ती| वषरें बाद किसान अपने अधिकारों को लेकर एकजुट है। यह संघर्ष तब तक जारी रहेगा,जब तक कि सरकार किसानों के हित में नीतियां नहीं बनाती। यह बातें भारतीय किसान यूनियन के मंडल उपाध्यक्ष दिवानचंद पटेल ने कहीं। वह रविवार को लोहिया मार्केट स्थित शिविर कार्यालय पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

कहा कि राज्य सरकार किसानों की आय दोगुनी करने की बात करती है मगर चीनी मिलों को पेराई करते तीन माह बीत गए अभी तक गन्ने का मूल्य ही निर्धारित नहीं किया गया। पिछले चार वर्षों से गन्ना मूल्य में कोई वृद्धि नहीं की गई जबकि खाद, बीज, बिजली, डीजल, पानी, दवाई, मजदूरी, कृषि यंत्र के मूल्यों में वृद्धि हुई। सरकार ने चुनाव के दौरान स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने, गन्ना मूल्य का 14 दिन के भीतर भुगतान कराने का वायदा किया था। उसके बाद भी पूरा नहीं किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.