December 5, 2020

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

बस्ती:सांसद हरीश द्विवेदी ने नगर के प्रमुख चौराहों का सुंदरीकरण कराने के लिए सभी बैंक के अधिकारियों से की अपेक्षा

बस्ती:सांसद हरीश द्विवेदी ने नगर के प्रमुख चौराहों का सुंदरीकरण कराने के लिए सभी बैंक के अधिकारियों से की अपेक्षा

बस्ती| सांसद हरीश द्विवेदी ने नगर के प्रमुख चौराहों का सुंदरीकरण कराने के लिए सभी बैंक के अधिकारियों से अपेक्षा किया है। सर्किट हाउस सभागार में आयोजित जिला स्तरीय पुनरीक्षण समिति की बैठक में उन्होंने कहा कि बैंक सामाजिक दायित्वो के निर्वाहन करने का कार्य करती है। नगर क्षेत्र के चौराहों का सुंदरीकरण करने से बैंक के सम्मान में वृद्धि होगी तथा लोग अपने व्यवसाय के लिए बैंक से संपर्क भी करेंगे।


उन्होंने कहा कि कोविड-19 के कारण लॉक डाउन की अवधि में प्रधानमंत्री द्वारा घोषित पीएम स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि योजना में पर्याप्त उपलब्धि नहीं हो पाई है। इस योजना में 308 लोन पत्रावली विभिन्न बैंको में भेजी गई है, जिसमें से केवल 63 को ही स्वीकृत किया गया है तथा 245 पत्रावलिया लंबित हैं। इसी प्रकार पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्वरोजगार योजना एससीपी ने 1240 लक्ष्य के सापेक्ष 1617 लोन आवेदन पत्र विभिन्न बैंकों में भेजे गए हैं, यथा केवल 50 स्वीकृत किया गया और 09 पत्रावली पर लोन वितरित किया गया है।


उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना में 42 लक्ष्य के सापेक्ष 21 लोन आवेदन पत्र स्वीकृत किए गए हैं तथा 09 वितरित किए गए हैं। मुख्यमंत्री युवा रोजगार योजना में 74 लक्ष्य के सापेक्ष मात्र 07 आवेदन पत्र स्वीकृत किए गए हैं तथा 03 पर ऋण वितरित किया गया। सांसद महोदय ने इस स्थिति पर गहरा असंतोष व्यक्त किया। उन्होंने बैंकों का आह्वान किया है कि कोरोना वायरस जैसी महामारी के समय में आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए बैंक लिबरल होकर लोन आवेदन पत्रों को स्वीकृत करें तथा कैंप लगाकर वितरित कराएं। इस कैंप में जनप्रतिनिधियों को भी आमंत्रित करें ताकि उनकी योजनाओं का अधिक व्यापक प्रचार-प्रसार हो सके।


उन्होंने कहा कि कोविड-19 के दौर में प्रधानमंत्री द्वारा विभिन्न योजनाओं में गरीब व्यक्तियों के खातो में धनराशि भेजी जा रही है। इसलिए आवश्यक है कि जनधन योजना के सभी खाते सक्रिय किए जाएं। उन्होंने कहा कि अगले 15 दिनों में अभियान चलाकर इन सभी खातों को ऑपरेशनल किया जाए ताकि इन खातों में भेजी गई धनराशि लाभार्थियों को मिल सके।


बैठक में स्टैंडअप इंडिया, स्टार्टअप इंडिया, मुद्रा योजना, किसान क्रेडिट कार्ड, एक जनपद एक उत्पाद, मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना, खादी ग्रामोद्योग आयोग, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन योजनाओं की समीक्षा की गई। जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने समिति को आश्वस्त किया कि भारत सरकार एवं राज्य सरकार की अपेक्षा के अनुरूप जिले के बैंक अपने दायित्वों का निर्वाहन करेंगे तथा जिले के अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित करेंगे।


बैठक का संचालन लीड बैंक मैनेजर अविनाश चंद्रा ने किया। बैठक में विधायक प्रतिनिधि मोहंती दुबे, राजेश कुमार सिंह, राजेश निराला, प्रदीप यादव, नाबार्ड के प्रबंधक मनीष कुमार, बड़ौदा यूपी बैंक के बीके मिश्रा, उदय प्रकाश, रामाश्रय यादव, संदीप वर्मा विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधि तथा विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Powered By : Webinfomax IT Solutions .
EXCLUSIVE