January 20, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

बस्ती: एक ही दिन में मिली 3 लाशें, हत्यारों की तलाश में पुलिस

बस्ती।तिहरे हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस ने यह जानकारी हासिल कर ली है ट्रक में सवार व्यवसायी,चालक और खलासी की हत्या कब की गई थी। चौकड़ी टोल से बरामद ट्रक शुक्रवार की रात में एक बजे पास हुई थी। टोल से आगे 9 किमी दूर पचवस के पास जहां खलासी का शव मिला है,घटना को वहीं पर अंजाम दिया गया है। घटना के समय ट्रक खलासी चला रहा था जबकि चालक और व्यवसायी केबिन में सो रहे थे। इसकी पुष्टि सीसीटीवी के आधार पर पुलिस कप्तान हेमराज मीणा ने की।

कप्तान ने बताया जहां खलासी का शव पाया गया है उसके पास आपस में संघर्ष होने के सबूत मिले हैं। सड़क किनारे ट्रीगार्ड के टूटने और खून के छीेंटे मिले हैं। अब तक की जांच से कहीं से भी ऐसा कोई सुराग नहीं मिला है जिससे यह लगे कि घटना लूट को लेकर हुई है। यह मामला गाडी को ओवरटेक करने या फिर किसी हादसे से जुड़ा लग रहा है। हत्यारे पेशेवर नहीं है बल्कि बड़ी गाड़ी चलाने वाले हो सकते हैं। घटना में दो तीन के शामिल होने की आशंका है। फिलहाल पुलिस टीमें लगाई गई है। हरेक बिदुओं पर गहनता से जांच की जा रही है। 

फोरलेन पर हुए तिहरे हत्याकांड पर तरह-तरह की कयासबाजी की जा रही है। माना जा रहा है आलू की खरीद-फरोख्त के दौरान भी झगड़ा दुश्मनी होने की प्रबल संभावना है। इसी को ध्यान में रखकर पुलिस तहकीकात कर रही है। हालांकि बिहार और कानपुर से जोड़कर मामले को देखा जा रहा है। दोनों जगह पुलिस टीमें रवाना कर दी गई हैं।
पुलिस सभी पहलुओं पर एक साथ काम कर रही है। हालांकि अब तक की छानबीन में कोई सटीक दिशा नहीं मिली है। एसपी हेमराज मीणा का कहना है कि जल्द ही सुराग मिलने की उम्मीद है। मौके पर पहुंचे रेंज के आईजी अनिल राय ने बताया कि प्रथम दृष्टया लूट का मामला नहीं लग रहा है। कहीं न कहीं यह आपसी रंजिश का मामला लग रहा है। हो सकता है इन को पहले अगवा किया गया हो और फिर इनकी हत्या कर दी गई।

हाईवे के ट्रक चालकों के साथ अमूमन लूट के लिए हमले या फिर हत्या होती है। इस केस में यदि इरादा लूट का होता तो शव के पास एक लाख 40 हजार रुपये नहीं मिलते। पुलिस के मुताबिक, जब शवों की पहचान के लिए उनकी जेबें खंगाली गईं तो आलू व्यवसायी असलम की पॉकेट में 50 हजार रुपये और ट्रक चालक राजकुमार के पास से 45 हजार रुपये तथा केबिन में सीट के नीचे 45 हजार रुपये बरामद किए गए।
पुलिस ने छावनी के चौकड़ी स्थित टोल प्लाजा की सीसीटीवी फुटेज चेक कराई तो पता चला कि ट्रक शुक्रवार की रात 12.50 बजे पार हुआ था। उस समय सब कुछ सामान्य था। अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि हत्या करने वाले उस वक्त ट्रक में सवार थे या फिर टोल पार करने के बाद ट्रक में आए।


शनिवार की सुबह हाईवे पर आलू व्यापारी, खलासी, ड्राइवर की हत्या में इस्तेमाल किए गए हथियार की तलाश में पुलिस ने पचवस से लेकर विकम्रजोत तक झाड़ियों में कांबिंग करती रही। हालांकि कोई भी हथियार बरामद नहीं हुआ।

राष्ट्रीय राजमार्ग पर पुलिस की ओर से रात्रि गश्त और शांति व्यवस्था पर एक बार फिर सवाल खड़े हो गए हैं। हाईवे पर हुई तीन हत्याओं से अधिकारी भी नाराज दिखे। आईजी अनिल कुमार ने लापरवाही पर कार्रवाई करने की बात कही है।

जनपद मे आर्थिक और साइबर अपराध करने वाले बदमाशों की लगातार गिरफ्तारी से गदगद पुलिस अचानक बड़े बदमाशों के तेवर से अवाक रह गई। बीते तीन दिन में छह सनसनीखेज वारदातों ने पुलिस के होश फाख्ता कर दिया। स्टेट बैंक के ग्राहक सेवा केंद्र और बभनान में टॉफी, गुटखा एजेंसी पर दिनदहाड़े हुई लूट और फोरलेन के तिहरे हत्याकांड ने उसके इकबाल पर सवालिया निशान लगा दिया।
आलू व्यापारी, ट्रक चालक और खलासी की हाईवे पर हत्या से सनसनी मची है। आसपास के लोगों का कहना है कि जिस तरह से खलासी का शव सड़क के किनारे और ड्राइवर, व्यापारी के शव ट्रक की केबिन में मिले, उससे साफ जाहिर है कि बदमाश बेखौफ थे।

शनिवार की दो अन्य घटनाओं ने भी पुलिस की चैन में खलल डाल दिया। इसमें हर्रैया कसबे में फोरलेन से बभनान जाने वाले चौराहे के फ्लाईओवर के नीचे पंजाब नेशनल बैंक के समीप कुएं में युवती का शव मिलने का प्रकरण प्रमुख है। नगर के बक्सर गांव में लगी एक प्रतिमा खंडित करके भी पुलिस की परेशानी झेलनी पड़ी।
एसपी हेमराज मीणा का कहना है कि एकाएक कई घटनाएं होना इत्तफाक है। पुलिस टीमें सभी टास्क पर काम कर रही हैं। जल्द पर्दाफाश किया जाएगा।


अंग्रेजी में बोल रहे थे बदमाश


बृहस्पतिवार को बभनान में हुई लूट में शामिल बदमाशों के पैदल जाकर मुंह पर पाउडर डालकर बेहोश करने की बात सामने आई थी। जबकि ग्राहक सेवा केंद्र पर पहुंचे बदमाश बाइक से थे। सेवा केंद्र संचालक के अनुसार, बदमाशों ने तमंचा दिखाकर इंग्लिश में बोला था कि गिव मी मनी। एसपी का कहना है कि पुलिस अपनी जांच इसके मद्देनजर भी आगे बढ़ा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.