June 24, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

बस्ती: जिले की 60 ग्राम पंचायतों ने किया 2.6 करोड़ रुपये का गोलमाल

बस्ती: जिला लेखा परीक्षा अधिकारी सहकारी समितियों ने जिले की 60 ग्राम पंचायतों में खर्च किए गए धन के तौर तरीकों पर आपत्ति जताते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि सरकारी धन का दुरूपयोग किया गया है। यह धनराशि लगभग 2.6 करोड़ रुपये की है। आडिट इकाई ने अपनी रिपोर्ट सीडीओ और डीएम को भेजा है। रिपोर्ट के आधार पर डीपीआरओ ने ग्राम पंचायतों को आडिट आपत्तियों के निस्तारण का निर्देश दिया है।

 

2016-17 में कराए गए 60 गांव के नाम, जहां के काम पर लगी है आपत्ति:-

 

वर्ष 2016-17 में कराए गए कामों को लेकर जिला लेखा परीक्षा अधिकारी सहकारी समितियां ने 35 गांवों के कामों पर वित्तीय अनियमितता की आशंका जताया है। इनमें सांऊघाट ब्लॉक की केशवारा, बहादुरपुर की मॉडन, दुबौलिया की सर्रैया अतिबल और बरिदया लोहार, रुधौली की नटाई कला, सल्टौआ की आमा प्रथम व पकरी भीखी, विक्रमजोत की नियामतपुर, इमिलिया, फूलडीह, सिकटहा पांडेय, बनकटी की दतुआखोर, खैराटी, बसौढ़ी व महथा, गौर की कलिगड़ा व हरदी, परसरामपुर की इटवा, बस्थनवां, गोपीनाथपुर, कुसमौरडीह, बनगवां खास, जीतीपुर, नरायनपुर, महेवा सरहदी, अरजानीपुर, मदनापुर, महाखरपुर, ढेबरहिया राऊत, कुदरहा की लालगंज, बगही, मटियरिया, मिश्रौलिया तथा कप्तानगंज की तिलकपुर व मंझरिया ग्राम पंचायतों के कामों पर आडिट आपत्ति है।

 

 

इन ग्राम पंचायतों में कुल 2.44 करोड़ रुपये के कामों पर गड़बड़ी की आशंका जिला लेखा परीक्षा अधिकारी सहकारी समितियों ने जताया है। 2016-17 में ही जिले की 25 ग्राम पंचायतों पर लगभग 15 लाख रुपये के काम में गड़बड़ी की आशंका जताई गई है।

 

इनमें हर्रैया की मुईली, उभाई, बड़हर कला, आमा पांडेय, भदासी, बरगवा माफी, भरगवां, खैरी ओझा, सर्रैया तिवारी, जगदीशपुर, सहराव, तेनुआ, रामगढ़ खास, बरहपुर, भदावल, कोदई, महुअपार, किशनपुर, महेवा कुंवर, बस्ती सदर की टेमा व हथिरजा, रामनगर की भीवापार, सिसवा बुजुर्ग, कोहड़ा तथा बनकटी ब्लॉक की डेल्हापार ग्राम पंचायत शामिल हैं।

images(9)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.