September 29, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

बस्ती: डीएम प्रियंका निरंजन ने किसानों से क्षतिपूर्ति के दावे प्राप्त कर निस्तारण के दिये निर्देश

डीएम प्रियंका निरंजन ने किसानों से क्षतिपूर्ति के दावे प्राप्त कर निस्तारण के दिये निर्देश

-किसी भी किसान से बिना उसकी अनुमति के बीमा धनराशि नही लेने के दिए कड़े निर्देश

-चीनी मिल कर्मचारियों से भेंट कर वेतन दिलाने का दिया आश्वासन

बस्ती 18 अगस्त। जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन ने किसान दिवस पर किसानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि मानसून की कमी के कारण जनपद में सूखे की स्थिति है। उन्होने निर्देश दिया कि कृषि विभाग, लीड बैंक मैनेजर, बीमा कम्पनी सक्रियता दिखाते हुए किसानों से क्षतिपूर्ति के दावे प्राप्त करें तथा समय से उसका निस्तारण सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि 20 अगस्त तक लगभग 1200 मिमी. बरसात होनी चाहिए, जबकि अबतक मात्र 400 मिमी. बरसात हुयी है। उन्होने कहा कि किसानों के व्यक्तिगत एंव सामूहिक दावें अलग-अलग लिए जायेंगे।

उन्होने लीड बैंक मैनेजर से खरीफ 2021 तथा रवी 2022 के दौरान बीमित किसानों की संख्या, प्रीमियम की कटौती, पोर्टल पर अपलोड करने की स्थिति ब्रांचवार उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। उन्होने यह भी निर्देश दिया है कि जिन किसानों से बीमा की धनराशि ली गयी है तथा बीमा कम्पनी को भेजा नही गया है, उसे बैंक शाखाए तत्काल किसान के खाते में वापस करें। बीमा कम्पनी के प्रतिनिधि ने बताया कि खरीफ 2021 में 93 हजार किसानों का प्रीमियम काटा गया था, जबकि 54 हजार किसानों का 4.14 करोड़ रूपया पोर्टल पर अपलोड किया गया। उन्होने बताया कि 17 हजार किसानों को रू0 6.25 करोड़ क्षतिपूर्ति का दिया गया है।

जिलाधिकारी ने कड़े निर्देश दिये है कि किसी भी किसान से बिना उसकी अनुमति के बीमा धनराशि नही ली जायेंगी। उन्होने कृषि विविधिकरण अपनाने पर जोर दिया। वर्तमान समय में वैकल्पिक फसल के रूप में केवल तोरिया की बुआई किसान कर सकते है। उन्होने कहा कि जानवरों से खेतों की सुरक्षा के लिए नेचुरल फेन्सिंग के लिए करौदा, नीबू जैसे कटीले पेड़ , सहतूत के पौधे मेड़ पर लगाये जा सकते है।

उन्होने कहा कि आगामी 25 अगस्त तक प्रत्येक ब्लाक पर विद्युत विभाग द्वारा 3 हार्स पावर का कनेक्शन देने के लिए कैम्प आयोजित किया जायेंगा। इच्छुक किसान ब्लाक पर जाकर कनेक्शन के लिए आवेदन कर सकते है। किसान पी.टी.डब्ल्यू. पोर्टल पर स्वयं भी या जनसेवा केन्द्र के माध्यम से आवेदन कर सकते है। अधिशासी अभियन्ता विद्युत महेन्द्र मिश्र ने बताया कि पिछले माह 500 कनेक्शन किसानों को दिये गये है।

गन्ना मूल्य भुगतान के संबंध में जिलाधिकारी ने 180 करोड़ रूपये का एथनाल बेचने के बाद भी 62 करोड़ रूपये का गन्ना मूल्य भुगतान अठदमा चीनी मिल द्वारा किसानों का न किए जाने पर नाराजगी व्यक्त किया। उन्होने जिला गन्ना अधिकारी को निर्देशित किया कि इसकी जॉच करके रिपोर्ट दें। वाल्टरगंज चीनी मिल के कर्मचारियों से जिलाधिकारी ने भेंट किया तथा वेतन दिलाये जाने के लिए आश्वस्त किया। उन्होने गन्ना विभाग को निर्देश दिया कि सट्टा सत्यापन के दौरान ही किसानों का घोषणा पत्र आनलाइन भरवाये।

जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियन्ता सरयू नहर खण्ड-4 राकेश कुमार गौतम को निर्देशित किया कि सिंचाई संबंधी शिकायत के निस्तारण के लिए मौके पर जाकर जॉच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें। उन्होने यह भी निर्देश दिया कि कि प्रत्येक कुलाबा समिति में कम से कम 05 किसानों को रखें तथा ब्लाक पर सभी समितियों की बैठक करें ताकि सिचाई संबंधी शिकायतों का समय से निस्तारण किया जा सकें।

किसान दिवस का संचालन उप निदेशक कृषि अनिल कुमार ने किया। वैज्ञानिक डा. वी.बी. सिंह ने नैनो यूरिया के उपयोग के बारे में जानकारी दिया। इस अवसर पर सीडीओ डा. राजेश कुमार प्रजापति, डीडीओ अजीत कुमार श्रीवास्तव, लीड बैंक मैनेजर अविनाश चन्द्र, डा. अश्वनी तिवारी, संदीप वर्मा, मनीष वर्मा, मनीष सिंह, एम.के. गौड़ विभागीय अधिकारी तथा किसानगण उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.