November 30, 2020

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

बस्ती: समस्याओं के समयबद्ध एवं गुणवत्तापूर्ण निस्तारण के लिए जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया

बस्ती। समस्याओं के समयबद्ध एवं गुणवत्तापूर्ण निस्तारण के लिए जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया है। तहसील रूधौली में सम्पूर्ण समाधान दिवस के समापन अवसर पर उन्होने कहा कि अधिकारी मौके पर जाकर शिकायतो का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करें। इस दौरान शिकायतकर्ता को भी सुनें। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा, एसडीएम रूधौली नीरज प्रसाद पटेल, पीडी आरपी सिंह, जिला विकास अधिकारी अजीत श्रीवास्तव, डीसी मनरेगा इन्द्रपाल सिंह ने शिकायतों की सुनवाई कर उनके निस्तारण का निर्देश दिया।


उन्होने संतोष व्यक्त किया कि तहसील रूधौली में विगत समाधान दिवसों की सभी शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण कर लिया गया है। तहसील दिवस में कुल 102 शिकायते प्राप्त हुयी, जिसमें से 22 का मौके पर निस्तारण किया गया। तहसील दिवस में मुख्य रूप से राजस्व की 45, विद्युत की 12, विकास की 19, पुलिस की 05, बैंक, नगर पंचायत, आपूर्ति का 2-2 तथा गन्ना, प्रोवेशन एवं वन की 1-1 शिकायते प्राप्त हुयी। राजस्व विभाग द्वारा 15 शिकायतों का मौके पर निस्तारण किया गया।


उन्होने कहा कि कोविड-19 से संक्रमण के मामले अब कम हो रहे है। शासन द्वारा धीरे-धीरे अन्य गतिविधियों को बढाया जा रहा है। इण्टरमीडिएट कालेज खोले जा रहे है। इसलिए कोविड-19 से बचाव एवं रोकथाम के लिए पूरी सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। इसके साथ ही विकास कार्यो में तेजी लाने के लिए सभी अधिकारी प्रयास करें, क्योकि वित्तीय वर्ष के मात्र 05 महीने अवशेष है। कोविड-19 प्रोटोकाल के अनुपालन तथा विकास कार्यो की उपलब्धियों में बस्ती जिले को पिछड़ना नही चाहिए।


उन्होने कहा कि कोविड-19 से हमारी जंग जारी है। हमें आमजनता के साथ-साथ अपने कर्मचारियों को भी सुरक्षित रखना है। कार्यालय में कोविड-19 का सभी प्रोटोकाल का अनुपालन किया जाय। सभी कर्मचारी शारीरिक दूरी बनाये रखते हुए मास्क का प्रयोग करें। हाथो को नियमित रूप से धोते रहे। साथ ही कार्यालय में आने वाले लोगों को भी इसके प्रति जागरूक करें।


तहसील दिवस का आयोजन तहसील रूधौली के प्रांगण में किया गया था। सभी अधिकारियों एवं शिकायतकर्ताओ के दूर-दूर कुर्सी लगाकर बैठने की व्यवस्था की गयी थी। मुख्य द्वार पर प्रत्येक आने वाले का विवरण नोट किया जा रहा था इसके बाद थोड़ी दूर पर शिकायत के पंजीकरण की व्यवस्था की गयी थी। शिकायत का पंजीकरण करने के पश्चात शिकायतकर्ता को एक टोकेन दिया जा रहा था जो मंच पर अधिकारियों के सामने सुनवाई के समय प्रस्तुत करना होता था।
सम्पूर्ण समाधान का संचालन तहसीलदार विनोद सिंह ने किया। इस अवसर पर डाॅ0 बृजभूषण मौर्या, जगदीश शुक्ल, रमन मिश्र, अधिशासी अभियन्ता शुभ नारायण, विषेश्वर प्रसाद, छोटेलाल, लीड बैंक मैनेजर अविनाश चन्द्रा, पुलिस क्षेत्राधिकारी शक्ति सिंह, सांसद प्रतिनिधि महेन्द्र सिंह, विधायक प्रतिनिधि राजू पाण्डेय एवं विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहें।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Powered By : Webinfomax IT Solutions .
EXCLUSIVE