September 24, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

बस्ती: सीएम योगी के ओएसडी मोतीलाल की बस्ती जिले में सड़क हादसे में मौत, पत्नी घायल, सीएम ने जताया शोक

 

गुरुवार की देर रात उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में बड़ा सड़क हादसा हो गया। हादसे में प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के करीबी और मुख्यमंत्री के गोरखनाथ मंदिर स्थित कैंप कार्यालय प्रभारी मोती सिंह की मौत हो गई और उनकी पत्नी गंभीर रूप से घायल हो गईं।

बस्ती 26 अगस्त। गोरखपुर-लखनऊ फोरलेन पर बस्ती जिले के खजौला चौकी के पास सीएम योगी आदित्यनाथ के ओएसडी ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी मोतीलाल सिंह की सड़क हादसे में मौत हो गई है। वहीं, पत्नी गंभीर रूप से घायल हैं।

मोतीलाल की पत्नी को गोरखपुर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसा गुरुवार रात को हुआ है। दोनों स्कॉर्पियों से गोरखपुर से लखनऊ जा रहे थे। बताया जा रहा है कि गाड़ी के सामने छुट्टा जानवर आने से चालक नियंत्रण खो बैठा, जिससे गाड़ी अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा गई। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज बस्ती में एक सड़क दुर्घटना में अपने ओएसडी मोतीलाल सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया। मोतीलाल सिंह को मुख्यमंत्री शिविर कार्यालय गोरखपुर में प्रतिनियुक्त किया गया था।

बताते चले मोतीलाल सिंह पीसीएस अफसर रहे चुके थे। ओएसडी मोतीलाल सिंह अपनी पत्नी संग स्कॉर्पियो से लखनऊ बहन से मिलने जा रहे थे। गुरुवार देर रात मुंडेरवा थाना क्षेत्र के नेशनल हाईवे 28 पर खजौला चौकी के पास अचानक गाड़ी के आगे एक छुट्टा जानवर आ जाने की वजह से चालक नियंत्रण खो बैठा और गाड़ी सीधा डिवाइडर से जा टकराई।

 

 

टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि स्कॉर्पियो के परखच्चे उड़ गए और चारों तरफ चीख पुकार मच गई। राहगीरों ने सड़क हादसा और तड़प रहे कार सवारों को देखकर तत्काल पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद फोर्स मौके पर पहुंची। घायलों को क्षतिग्रस्त स्कॉर्पियो से बाहर निकाला, उसके बाद तीनों घायलों को जिला अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया। जहां मुख्यमंत्री के ओएसडी मोतीलाल सिंह को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया और उनकी पत्नी व ड्राइवर की नाजुक हालत को देखते हुए प्राथमिक इलाज करते हुए गोरखपुर मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर कर दिया।

 

सीएम के गोरखपुर कैंप कार्यालय के OSD मोतीलाल सिंह एक तेजतर्रार अफसरों में गिने जाते थे। आजमगढ़ जिले के बुढ़नपुर गांव के रहने वाले थे और गोरखपुर में चौरी चौरा तहसील के एसडीएम भी रह चुके थे। मिली जानकारी के मुताबिक, ओएसडी मोतीलाल सिंह अपनी बीमार बहन को देखने जा रहे थे, तभी एक हादसे का वे शिकार हो गए। अपर पुलिस अधीक्षक बस्ती द्वारा दी गई विस्तृत जानकारी।

 

मुख्यमंत्री के कैम्प कार्यालय और जनता दर्शन से लेकर मंदिर में आने वाली समस्त समस्याओं और शिकायतों के निस्तारण में वह समन्वयक की भूमिका निभाते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.