December 2, 2020

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

बस्ती:OLX पर विभिन्न गाड़ियों को बेचने का विज्ञापन देकर करोड़ों रूपयों की ठगी करने वाले अन्तर्राज्यीय गिरोह का पर्दाफाश,4अभियुक्त गिरफ्तार

बस्ती|एसपी हेमराज मीना के निर्देश पर पुलिस को मिली बड़ी सफलता।OLX पर विभिन्न गाड़ियों को बेचने का विज्ञापन देकर करोड़ों रूपयों की ठगी करने वाले अन्तर्राज्यीय गिरोह का पर्दाफाश,सीओ कलवारी अनिल कुमार सिंह के नेतृत्व में स्वाट टीम प्रभारी राजकुमार पांडेय ,कलवारी थानाध्यक्ष विन्देश्वरी मणि त्रिपाठी, सर्विलांस सेल, साईबर सेल की संयुक्त टीम के हत्थे चढ़े अभियुक्त।

कलवारी पुलिस और क्राइम ब्रांच की स्वाट टीम ने ओएलएक्स पर वाहन बेचने का विज्ञापन देकर ठगी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार कर उनके खाते में मौजूद 1.30 लाख रुपये फ्रीज कर दिया है। इनके पास से दो मोबाइल, तीन पैन कार्ड, दो आधार कार्ड, पांच पासपोर्ट साइज फोटो, दो निर्वाचन कार्ड, एक हेल्थ कार्ड, दो एटीएम कार्ड आदि बरामद हुआ है।

बुधवार को एसपी हेमराज मीणा ने पत्रकारों से बातचीत में बताया कि एसओ कलवारी बिदेश्वरी त्रिपाठी, प्रभारी स्वाट टीम राजकुमार पांडेय और सर्विलांस सेल प्रभारी जितेंद्र सिंह की संयुक्त टीम ने 13 अक्टूबर को रेलवे स्टेशन बस्ती से आरोपितों को गिरफ्तार किया। इनमें राजस्थान के भरतपुर जनपद के खोह थाने के कल्याणपुर गांव के तालीम खान, वसीम अकरम, आजाद खान व मुस्ताक शामिल हैं। सभी के विरुद्ध आइपीसी और आइटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। एसपी ने बताया कि आठ अक्टूबर को कलवारी के रामकिशोर शुक्ल ने स्थानीय पुलिस से शिकायत की थी कि आनलाइन पुराना ट्रैक्टर लेने के लिए उन्होंने एक दिन ओएलएक्स पर विज्ञापन देखा। उस पर अंकित मोबाइल नंबर पर संपर्क करने पर उधर से वाट्सएप के माध्यम से ट्रैक्टर से संबंधित कागज व कथित ट्रैक्टर मालिक योगेश सिंह का आधार कार्ड भेज दिया गया। जिसके बाद दो से तीन अगस्त के बीच तक मोबाइल नंबर 7754077064 के धारक द्वारा विभिन्न खर्चों को बताकर दो पेटीएम खातों में 1.50 लाख रुपये जालसाजी कर ठगों ने जमा करवा लिए। धोखाधड़ी कर लोगों से कर चुके हैं 2.30 करोड़ रुपये की ठगी

एसपी के अनुसार पकड़े गए जालसाजों ने बताया कि वे ओएलएक्स पर विभिन्न गाडि़यों को आनलाइन बेचने का विज्ञापन देकर भोले-भाले लोगों को पहले अपने विश्वास में लेते हैं। उनसे गाडि़यों को आर्मी ट्रांसपोर्ट के माध्यम से घर पहुंचाने व अन्य खर्चों के नाम पर देश के विभिन्न राज्यों के लोगों से अपने द्वारा प्रयोग किए जाने वाले फर्जी पेटीएम खातों में रुपये मंगाते हैं। इसके बाद उन रुपयों को अपने खाते में ट्रांसफर कर निकाल लेते हैं। अब तक इन लोगों ने दो करोड़ तीस लाख रुपये की धोखाधड़ी की है। पिछले एक साल से यह गिरोह काम कर रहा है।

एसपी बस्ती हेमराज मीना ने प्रेस कांफ्रेंस कर किया घटना का खुलासा।

धोखाधड़ी करने वाले अभियुक्तों को गिरफ्तार करने में सर्विलान्स सेल के जितेन्द्र सिंह , स्वाट टीम के मनोज राय, मनिन्द्र प्रताप चन्द, देवेन्द्र निषाद, रविशंकर शाह, अभिषेक तिवारी सर्विलांस सेल के जनार्दन प्रजापति, जितेन्द्र यादव साईबर सेल के धीरेन्द्र कुमार यादव, मोहन यादव,अभिषेक कुमार त्रिपाठी रहे रहें।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Powered By : Webinfomax IT Solutions .
EXCLUSIVE