June 29, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

बीजेपी नेता की हत्या से भड़के कार्यकर्ताओं ने फूंकी पुलिस चौकी, कई सरकारी बसों और जीपो में तोड़फोड़, बवाल में दो एसओ भी घायल

images(23)

 

बस्ती: बीजेपी के युवा नेता आदित्य नारायण तिवारी उर्फ कबीर की दिनदहाड़े हुई हत्या के बाद जमकर हंगामा हुआ । आक्रोशित लोगों ने रोडवेज की दर्जनों सरकारी बसों में तोड़फोड़ शुरू कर दी । लोगों ने पुलिस चौकी को भी आग के हवाले कर दिया और पुलिस वाहनों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया । लोगों के हंगामे के बीच पुलिस भी मूकदर्शक बनी रही । इस हंगामे में दो एसओ भी घायल हो गये हैं। हंगामे के कारण अफरातफरी की स्थिति बनी हुई है ।

 

 

बता दें कि भाजपा के युवा नेता और एपीएन पीजी कॉलेज के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष आदित्य नारायण तिवारी उर्फ कबीर की बुधवार को ही गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। घटना से आक्रोशित भाजपा नेताओं ने जमकर हंगामा किया और सड़क को जाम कर दिया था । पुलिस के अनुसार दो युवक बाइक पर सवार होकर कोतवाली क्षेत्र में स्थित अग्रवाल भवन परिसर में पहुंचे। जब तक लोग कुछ समझ पाते एक युवक ने तमंचे से कबीर पर फायर कर दिया। कबीर ने बचने की कोशिश की तो गोली उनके हाथ को छूते हुए सीने में जा लगी। गोली की आवाज सुनकर आसपास के लोग दौड़ पड़े। आननफानन में उन्हें अस्पताल से ले जाया गया, जहां से डॉक्टरों ने उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया, जहां उनकी मौत हो गई ।

 

 

मालवीय रोड पर सरेआम मारी गई गोली:
बताया जाता है कि बुधवार को एपीएन पीजी कॉलेज के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष आदित्य नारायण तिवारी उर्फ कबीर मालवीय रोड पर मौजूद थे। उसी दौरान बाइक से आए दो हमलावरों ने उनपर असलहे से फायरिंग कर दी। कबीर जान बचाकर भागते उससे पहले गोली लग गई और वह जमीन पर गिर पड़े। व्यस्त इलाके में वारदात को अंजाम देकर भाग रहे हमलावरों में से एक को भीड़ ने मौके पर दबोच लिया। दूसरा हमलावर भी भागते समय भीड़ के हत्थे चढ़ गया। पुलिस ने आरोपियों को हिरासत में लेकर वारदात में इस्तेमाल किए गए असलहे को बरामद कर लिया है।

 

गंभीर रूप से घायल कबीर को जिला अस्पताल में भर्ती किया गया। हालत नाजुक देखकर हुए डॉक्टरों ने कबीर को लखनऊ के लिए रिफर कर दिया। लखनऊ ले जाते समय रास्ते में कबीर की मौत हो गई। बताया जाता है कि कबीर का विवादों से पुराना नाता रहा है। अभी तीन दिन पहले ही एक मारपीट के मामले में कोतवाली पुलिस ने कबीर पर भी मुकदमा दर्ज किया था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.