June 29, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

भारत में व्हाट्सएप भुगतान सेवा की शुरुआत जल्द!

जैसा कि सभी जानते है आज के समय में व्हाट्सएप लोगों के लिए बहुत अहम हो गया है. ऐसे में इसमें यदि कुछ और विशेषतायें शामिल हो जाये तो लोगों का आधा काम इसी से हो जायेगा. ऐसी ही एक सुविधा व्हाट्सएप द्वारा उनके उपयोगकर्ताओं को दी जाने वाली है, वह है व्हाट्सएप पे (WhatsApp Pay). वह व्हाट्सएप कंपनी जिसे फेसबुक ने खरीदा है, के द्वारा इस व्हाट्सएप भुगतान सेवा को अगले कुछ दिनों में शुरू किया जाना है. यह खबर देश में 200 मिलियन से अधिक एक्टिव व्हाट्सएप उपयोगकर्ताओं को उत्साहित करती है. यह निश्चित रूप से पेटीएम जैसे ऑनलाइन भुगतान सेवाओं की नींद उड़ा देने वाली खबर है, जोकि अब तक ई वॉलेट बाजार पर बिना किसी परेशानी के ई – भुगतान सेवाओं के साथ हावी थे.
व्हाट्सएप भुगतान सेवा की विशेषता (WhatsApp Payment Service Feature)

Whatsapp-QR-Code-top-image-866x487

ब्लूमबर्ग में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, भारत में शुरू होने वाली व्हाट्सएप भुगतान सेवा के लिए भारत के तीन शीर्ष निजी बैंकों – एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक के साथ साझेदारी की गई है. एक बार सभी आवश्यक सिस्टम जगह पर आ जाए, इसके बाद स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया को भी इसमें शामिल किया जायेगा. दरअसल फेसबुक 4 साझेदारों के साथ एक पूर्ण रोलआउट देख रहा था, लेकिन प्रतियोगियों के आगे बढ़ने की दौड़ के कारण सिर्फ 3 साझेदारों के साथ आगे बढ़ने का फैसला किया गया. एक रिपोर्ट के मुताबिक यह दावा किया जा रहा है कि फेसबुक ने भुगतान सेवा क्षेत्र में अपने प्रतिद्वंदियों से आगे बढ़ने के लिए अगले सप्ताह इसे लांच करने का निर्णय लिया है.

कैसे अन्य ई–वॉलेट से व्हाट्सएप पे अलग है (How WhatsApp pay Will Be Different Than Other E-Wallet)

whatsapp-payments

व्हाट्सएप पे अन्य ऑनलाइन ई वॉलेट जैसे पेटीएम, गूगल तेज़, फ़ोनपे आदि से अलग कैसे है ? और व्हाट्सएप में इनसे ज्यादा क्या लाभ है ? ये बात सभी के जहन में चल रही है. तो आइये बात करते है कि यह अन्य ई-वॉलेट एप से अलग क्यों है-
इसका पहला स्पष्ट लाभ है इसका उपयोगकर्ता आधार, असल में व्हाट्सएप में 200 मिलियन से अधिक उपयोगकर्ता हैं, जो पेटीएम के रोज के सक्रीय उपयोगकर्ताओं की तुलना में 20 गुना अधिक है.
व्हाट्सएप पे विकल्प को शुरू में एक पायलट वर्जन के रूप में फरवरी 2018 को अपने चुने हुए 1 मिलियन उपयोगकर्ताओं जोकि एप के बीटा वर्शन का उपयोग कर रहे थे उनके लिए लांच किया गया था, और इसे अपने उपयोगकर्ताओं से सकारात्मक समीक्षा प्राप्त हुई थी.
पीडब्लूसी भारत में वित्तीय टेक्नोलॉजी के अध्यक्ष विवेक बेलगावी ने ब्लूमबर्ग को बताया कि –“व्हाट्सएप का एक महान शुरूआती बिंदु है : बातचीत में एकाधिकार. यह इसे विश्वसनीय प्रतिस्पर्धा बनाता है.
विशेषज्ञों का सुझाव है कि व्हाट्सएप पे विकल्प भुगतान भेजने और प्राप्त करने के एक ही सिद्धांत पर, कम या ज्यादा काम करेगा. बातचीत करने के दौरान उपयोगकर्ताओं को ऐसा करने की अनुमति देने की इसकी क्षमता इसे विजेता बनाती है.
इसके अलावा, फेसबुक एक बड़े बाजार में हिस्सेदारी पाने के लिए ध्यान दे रहा है, यदि यह व्हाट्सएप को केवल मैसेजिंग या कालिंग एप से ज्यादा बनाने में सफल होता है, तो यह संभव है.
भारत की भुगतान स्थान में व्हाट्सएप एंट्री की तुलना वी चैट से की गई है, जिसने चीन में भुगतान प्रणाली को दोबारा बदल दिया, जब यह मैसेजिंग से परे विस्तृत हुआ.
विशेषज्ञों का कहना है कि फेसबुक चाहता है कि व्हाट्सएप भारत का वी चैट बन जाये, यह एक ऐसा सोशल नेटवर्किंग एप हो, जो उपयोगकर्ताओं को मैसेजिंग, कालिंग, शॉपिंग, पेमेंट और अन्य सेवाओं की मेजबानी से सब कुछ करने की इजाजत दे, जो आप केवल एक एप में सोच सकते हैं.

ये भी पढ़ें 👇

अंतरिक्ष कचरा: कैसे आम जन-जीवन को तहस-नहस कर सकता है?

क्या आप भुगतान करने के तरीके को बदल देंगे ? (Will You Change The Way Of Pay, New Whatsapp Pay)

अमेरिका की जितनी आबादी है उसके आधे से अधिक ऐसे लोग है जोकि स्मार्टफोन का उपयोग करते हैं, और इसका उपयोग वाले वे सभी उपयोगकर्ताओं ने अपने मोबाइल फोन में व्हाट्सएप को स्थापित किया है. पेटीएम का उपयोग करने वाले व्हाट्सएप उपयोगकर्ता भी यह चाहते हैं कि वे व्हाट्सएप पे के माध्यम से खरीददारी या कैब सेवाओं के लिए ऑनलाइन भुगतान करने का प्रयास करें. जहाँ अन्य कंपनियों को ग्राहकों का आधार हासिल करने के लिए बहुत पैसा निवेश करना होता है, वहाँ व्हाट्सएप को ऐसा करने की जरुरत नहीं है, जिससे इसे अन्य कंपनियों पर बढत मिलती है. अपनी इसी प्रतिष्ठा के कारण कंपनी को विश्वास है कि लोग अपने भुगतान करने का तरीका बदल देंगे.

उपयोगकर्ताओं की सुरक्षा पर आलोचना (The Criticism Over User Security)

images(618)

जब व्हाट्सएप ने पहली बार अपनी पायलट परियोजना के साथ भारत के भुगतान स्थान में प्रवेश किया, तो इसे कई आलोचनाओं का सामना करना पड़ा. पेटीएम के सीईओ ने कंपनी को अनुचित साधनों के माध्यम से बाजार में प्रवेश करने की कोशिश करने का आरोप लगाया था. पेटीएम संस्थापक का यह मानना है कि व्हाट्सएप की परिक्षण सेवा में लॉग इन का विकल्प नहीं है, और साथ ही भुगतान के लिए सबसे जरुरी आधार नंबर की जानकारी का भी इससे कोई सम्बन्ध नहीं है, जिसके चलते व्हाट्सएप डाउनलोड करते समय या पेमेंट करने में लॉग इन की कमी सुरक्षा की दृष्टी से जोख़िम भरा भुगतान है, जैसे सभी को एक खुला एटीएम देना. उनका यह भी कहना था कि व्हाट्सएप खुलेआम हमारी भुगतान प्रणाली का उपनिवेश कर रहा है, और यूपीआई को उनके लाभ के लिए अनुकूलित कर रहा है साथ ही ग्राहकों के कार्यान्वयन के लिए अपने हाथ घुमा रहा है.

ये भी पढ़ें 👇

बैंकिंग का नया अवतार मोबाइल बैंकिंग… आइए जानते हैं।

बिना डेबिट कार्ड के एटीएम से पैसे कैसे निकालें;

भारत में बैंकिंग प्रणाली का इतिहास व प्रकार जानिए!

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंसःक्या है इसके फायदे और नुक्सान

94% आईटी ग्रेजुएट नौकरी लायक नहीं! तो क्या कॉलेज केवल डिग्रियां बांट रहे हैं?

भारत क्यू आर कोड क्‍या और कैसे काम करता है | How to generate and use Bharat QR Code;

2 thoughts on “भारत में व्हाट्सएप भुगतान सेवा की शुरुआत जल्द!

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.