August 4, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

राकेश टिकैत का ऐलान, 26 जून को देशभर में राजभवनों का घेराव करेंगे किसान

नई दिल्ली|केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन एक बार फिर से रफ्तार पकड़ने लगा है। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने ऐलान किया है कि किसानों के द्वारा 26 जून को देशभर में राजभवनों का घेराव किया जाएगा। साथ ही राष्ट्रपति से इस मामले में दखल देने की मांग की जाएगी।

 

राकेश टिकैत ने ट्वीट कर कहा कि 26 जून को लोकतंत्र बचाओ, किसान बचाओ दिवस मनाया जाएगा। आपातकाल की वर्ष गांठ पर वर्तमान में अघोषित आपातकाल का विरोध किया जाएगा। मीडिया से बात करते हुए टिकैत ने कहा कि आंदोलन के सात महीने हो गए है इसे लेकर राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा जाएगा। इससे पहले टिकैत ने दो ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने अपने साथियों को संदेश देते हुए कहा था कि अगर जल, जंगल और जमीन को बचाना है तो लुटेरों के खिलाफ लड़ाई लड़नी होगी। एक अन्य पोस्ट में उन्होंने कहा था कि सरकार को तीनों कानूनों को रद्द कर एमएसपी पर कानून बनाना चाहिए।

 

राकेश टिकैत ने कहा कि 26 नवबंर को ही आंदोलन की शुरुआत हुई थी। इस कारण हर महीने के 26 तारीख को कोई न कोई कार्यक्रम रखा जाएगा। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि कोरोना गाइडलाइंस को लेकर अभी आंदोलन स्थल पर भीड़ कम है। आने वाले समय में भीड़ को बढ़ा दिया जाएगा।

किसान नेता ने कहा कि किसान तब तक यहां से नहीं जाएगा जब तक कोई समाधान नहीं होगा। साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार को अगर बिना शर्त बात करनी है तो किसान बातचीत के लिए तैयार हैं।

 

बताते चलें कि तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन लगातार जारी है। पिछले लगभग सात महीनों से किसान दिल्ली बॉर्डर पर बैठे हुए हैं। सरकार के साथ 11 दौर की वार्ता के बाद भी दोनों पक्ष के बीच कोई फैसला नहीं हो पाया। जिसके बाद से सरकार और किसानों के बीच डेडलॉक जारी है। दोनों ही पक्षों के बीच अंतिम बार वार्ता 22 जनवरी को हुई थी।

 

अभी हाल में ही बंगाल का दौरा हुआ था उस पर राकेश टिकैत ने कहा कि, ममता बनर्जी से हम किसानों की समस्या को लेकर मिलने गए थे. उन्होंने दिल्ली आने की बात कही थी और यह भी कहा था कि, हम कई मुख्यमंत्री को अपने साथ जोड़ेंगे. आंदोलनकारी किसानों की आवाज उठाने के लिए हम पर आरोप भी लग रहे हैं, लेकिन हम मुख्यमंत्री से मिलने गए थे किसी टीएमसी के नेता से नहीं.

 

भाजपा को वोट न दें

 

किसान आंदोलन से मजबूत हुए राकेश टिकैत ने कहा कि, उत्तर प्रदेश के चुनाव में भाजपा को वोट ना दें. उन्होंने कहा कि, भाजपा सरकार धोखा दे रही है. गन्ने की पेमेंट बिल्कुल भी नहीं बढ़ाई है, किसानों के हित की बात नहीं कर रही है, इसलिए हमने उनका बायकॉट किया है.

 

जिला पंचायत सदस्य पर राकेश टिकैत ने कहा कि, सत्ता में भाजपा सरकार है, जिला पंचायत सदस्य कंपनी है, लेकिन अध्यक्ष की वह होड़ में पुलिस और प्रशासन की मदद से वह दबाव बनाना चाह रहे हैं. सदस्यों को उठा रहे हैं.

 

किसानों से की ये अपील

 

राकेश टिकैत ने कहा कि, हमने तो किसानों को कह रखा है कि, ट्रैक्टर में डीजल भरवा कर तैयार रहें, किसी भी समय हम कॉल कर सकते हैं, दिल्ली चलने के लिए. सरकार के जहन से 26 तारीख नहीं भूलने देंगे. 26 तारीख को हम राज भवन का घेराव करेंगे. आंदोलन तो चलता रहेगा. सरकार तो बात नहीं मान रही है. पक्के निर्माण भी हमारे जारी हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.