August 9, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

राजस्थान के बीकानेर में 4.5 तीव्रता के भूकंप के झटके

बीकानेर :राजस्थान के बीकानेर में रविवार सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिक्टर पैमाने पर इसरकी तीव्रता 4.5 दर्ज की गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सुबह 10.36 मिनट पर यह झटका महसूस किया गया।भूकंप के झटके के बाद स्थानीय लोगों में अफरातफरी की स्थिति पैदा हो गई। इस दौरान घरों से लोग बाहर निकल आए। सुबह 10.36 बजे जिले के शहरी व ग्रामीण इलाकों में धरती कांपी तो घबराकर लोग अपने घरों से बाहर आ गए। हालांकि रविवार होने के कारण सरकारी व अन्य कार्यालय बंद थे।

 

 

भूकंप के कारण जान माल के किसी नुकसान का समाचार नहीं है। बता दें कि पिछले महीने ही राजस्थान के झुंझुनूं जिले में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे। तब भूंकप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 3.8 मापी गई थी।

 

 

 

एक दिन पहले भी भूकंप

इसी के साथ कल यानी शनिवार को चीन में भूकंप के झटके महसूस किए गए है। भूकंप के झटके चीन के गुआंग्शी जुआंग शहर में 5.2 तीव्रता पर महसूस किए गए है। भूकंप की जानकारी चीन के मौसम विभाग ने दी। शनिवार को चीन में भूकंप के झटके रात 11 बजे के करीब महसूस किए गए थे। हालांकि अभी तक किसी प्रकार की क्षति की कोई खबर नहीं आई है।

 

कापंती धरती

आपको बता दें कि कुछ दिन पहले पाकिस्तान सहित भारत देश के कई राज्यों में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। हालांकि भारत और पाकिस्तान में आए इस भूकंप में कई लोगों की जान भी चली गई थी। उस समय यह भूकंप 6.2 रिक्टर पैमाने पर आया था।

 
जानकारी के लिए बता दें कि अगर इंडोनेशिया की बात करें तो इस शहर में लगभग हर एक-दो हफ्तों में भूकंप के झटके महसूस किए जाते हैं। बीते दिनों भी इस शहर में भूकंप के तीव्र झटके महसूस किए गए थे। और भारत-पाकिस्तान की तरह यहां भी आए भूकंप ने कई लोगों की जान ले लीं थी।

ये हैं भूकंप का कारण

भूगोल के अनुसार, पृथ्वी 12 टैक्टोनिक प्लेटों पर स्थित है, जिसके नीचे तरल पदार्थ लावा के रूप में है। ये प्लेटें लावे पर तैर रही होती हैं। इनके टकराने से ही भूकंप आते हैं। टैक्‍टोनिक प्लेट्स अपनी जगह से हिलती रहती हैं और खिसकती भी हैं।

 

 

जानकारी के लिए बता दें कि हर साल ये प्लेट्स करीब 4 से 5 मिमी तक अपने स्थान से खिसक जाती हैं। इस क्रम में कभी-कभी ये प्लेट्स एक-दूसरे से टकरा जाती हैं। जिनकी वजह से भूकंप आते हैं।

 

0521_bikaner_0

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.