January 20, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

लखीमपुर में पूर्व विधायक की मौत पर अखिलेश यादव ने यूपी सरकार को घेरा, बोले-प्रदेश की जनता कानून-व्यवस्था से चिंतित

  • लखीमपुर में पूर्व विधायक की पीट-पीटकर हत्या
  • विपक्षी दलों ने योगी सरकार को आड़े हाथों लिया
  • कब तक नाकामियों पर पर्दा डालेगी सरकारः लल्लू

लखनऊ |लखीमपुर जिले में जमीन के विवाद के बाद हुई निघासन के पूर्व विधायक निर्वेन्द्र मिश्रा की मौत के बाद सियासत गर्मा गई है। अखिलेश यादव ने पूर्व विधायक की मौत पर जिम्मेदार यूपी सरकार को ठहराया है। उन्होने प्रदेश सरकार पर जमकर हमला बोला। इससे पहले अखिलेश यादव ने लखीमपुर की घटना पर निंदा की।  ट्वीट के जरिए उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में जनता कानून-व्यवस्था के विषय पर चिंतित ही नहीं भयभीत भी है। उन्होंने लिखा कि पुलिस की उपस्थिति में रविवार को दिन दहाड़े लखीमपुर में तीन बार के विधायक रहे निर्वेन्द्र कुमार मिश्रा की हत्या और उनके पुत्र पर कातिलाना हमले से पूरा प्रदेश हिल गया है। उन्होंने ट्वीट के जरिए पूर्व विधायक को श्रद्धाजंलि भी दी। 

धक्का-मुक्की के बाद गिरे विधायक की हुई मौत

लखीमपुर के एसपी सतेन्द्र कुमार ने बताया कि जमीन के विवाद को सुलझाने गए पूर्व विधायक निर्वेन्द्र की दूसरे पक्ष के लोगों से धक्का-मुक्की हुई थी। विवाद के दौरान वह गिर गए थे जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इसके बाद उनकी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि प्रथम दृष्टया मौत हार्टअटैक से होना बताई जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत का कारण पता चल पाएगा।

जमीन बनी पूर्व विधायक की मौत की वजह

बताया जाता है कि वर्षों पहले पूर्व विधायक निर्वेन्द्र कुमार मिरा ने अपनी साढ़े तीन एकड़ जमीन किसी के हाथ बेची थी। जिसने जमीन खरीदी थी उसने जमीन की पैमाइश के लिए अर्जी डाली थी। इसकी पैमाइश हुई तो वह जमीन साढ़े तीन की जगह साढ़े चार एकड़ निकली। इस मामले पर विवाद चल रहा था। इसी बात को सुलझाने के लिए रविवार को पूर्व विधायक दूसरे पक्ष से मिलने गए थे।  

इस घटना को लेकर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि ये योगी आदित्यनाथ का जंगलराज ही है, जहां जनप्रतिनिधि तक सुरक्षित नहीं हैं. प्रदेश में बिगड़ती सुरक्षा व्यवस्था पर अजय कुमार लल्लू ने कहा कि लखीमपुर खीरी में सिर्फ 15 दिन के अंदर 15 से अधिक हत्याएं हो चुकी हैं.

उन्होंने कहा कि तीन बार के विधायक रहे निर्वेंद्र कुमार मिश्र की एक विवाद में पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. ये योगी आदित्यनाथ का जंगलराज ही है, जिसमें जनप्रतिनिधि तक सुरक्षित नहीं है. आम आदमी की सुरक्षा की तो आप कल्पना भी नहीं कर सकते.

अजय कुमार लल्लू ने ट्वीट किया, लखीमपुर में नाबालिगों के हत्याओं के दौर के बाद उप्र के जंगलराज ने अब पूर्व विधायक को शिकार बनाया. 3 बार के पूर्व विधायक निर्वेंद्र मिश्रा की निर्मम हत्या. मुख्यमंत्री जी! कब तक पर्दा डालोगे अपनी नाकामियों पर? कब तक चुप रहोगे इन हत्याओं पर? अब कितनों जानों पर नींद से जगोगे?’

वहीं, प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा कि लखीमपुर खीरी के पूर्व विधायक निर्वेंद्र कुमार मिश्रा उर्फ मुन्ना की निर्मम हत्या व इसी जिले में छात्रा की दुष्कर्म के बाद हत्या की घटनाएं दुखद और चिंताजनक है.

जानकारी के मुताबिक, लखीमपुर के थाना संपूर्णानगर क्षेत्र के त्रिकौलिया पढ़ुवा में जमीनी विवाद को लेकर दो पक्ष रविवार को दिन में ही भिड़ गए थे. इसमें एक पक्ष पलिया  पूर्व विधायक निर्वेंद्र कुमार मिश्रा उर्फ मुन्ना का था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.