July 7, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

विनेश का डबल धमाका, ओलंपिक कोटे के साथ ब्रॉन्ज मेडल भी जीता

नई दिल्ली: भारतीय महिला पहलवान और एशियाई खेलों की स्वर्ण पदक विजेता विनेश फोगाट (53 किलोग्राम) ने वर्ल्ड रेसलिंग चैम्पियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल जीता और टोक्यो ओलंपिक के लिए कोटा हासिल कर लिया. वह टोक्यो ओलंपिक के लिए कोटा हासिल करने वाली पहली भारतीय पहलवान हैं. विनेश ने बुधवार को खेले गए अपने रेपचेज ब्रॉन्ज मेडल मुकाबले में दो बार की वर्ल्ड ब्रॉन्ज मेडल विजेता मिस्र की मारिया प्रेवोलार्की को हराकर ब्रॉन्ज मेडल जीता. वह वर्ल्ड चैम्पियनशिप में पदक जीतने वाली अब तक की चौथी भारतीय महिला पहलवान हैं.

 
25 वर्षीय विनेश ने प्रेवोलार्की को 4-1 से हराकर ब्रॉन्ज मेडल जीता. इस चैम्पियनशिप में भारत का यह पहला पदक है. वहीं, विनेश का किसी भी वर्ल्ड चैम्पियनशिप में यह पहला पदक है. राष्ट्रमंडल खेलों की पदक विजेता विनेश ने इससे पहले, रेपचेज राउंड-2 मुकाबले में वर्ल्ड चैम्पियनशिप की रजत पदकधारी पहलवान अमेरिका की सारा हिल्डरब्रैंट को हराकर कांस्य पदक मुकाबले में जगह बनाई थी और टोक्यो के लिए अपना टिकट पक्का किया था.

 
विनेश टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली पहली भारतीय महिला बनी हैं. अपना तीसरा वर्ल्ड चैम्पियनशिप खेल रहीं विनेश ने वर्ल्ड चैम्पियनशिप की रजत पदक विजेता हिल्डरब्रैंट को 8-2 से पराजित किया. रेपचेज राउंड-1 मुकाबले में विनेश ने यूक्रेन की यूलिया ब्लाहिन्या को 5-0 से शिकस्त दी थी.
विनेश ने इस चैम्पियनशिप में अपने अभियान की अच्छी शुरुआत की और क्वालिफिकेशन में रियो ओलंपिक की पदक विजेता स्वीडन की सोफिया मैटसन को 13-0 के बड़े अंतर से शिकस्त दी. विनेश को प्री क्वार्टरफाइनल में जापान की मायु मुकाइदा से 0-7 से हार का सामना करना पड़ा. विनेश की मुकाइदा के खिलाफ यह लगातार दूसरी हार है. उन्हें इससे पहले एशियाई चैम्पियनशिप में भी मुकाइदा से हार का सामना करना पड़ा था.

images(46)

 

 

मुकाइदा ने इस वर्ग के फाइनल में जगह बनाई जिससे विनेश को रेपेचेज में उतरने का मौका मिल गया. विनेश ने फिर रेपेचेज के पहले राउंड में यूक्रेन की यूलिया ब्लाहिन्या को 5-0 से हराकर रेपचेज राउंड-2 में प्रवेश किया. विनेश ने फिर रेपचेज राउंड-2 में हिल्डरब्रैंट को हराकर ना केवल टोक्यो ओलंपिक कोटा हासिल किया बल्कि उन्होंने कांस्य पदक मुकाबले में भी प्रवेश कर लिया और अब उन्होंने कांस्य पदक भी जीत लिया है.

 

images(45)

 

ये भी पढ़ें ⬇️

यूपी: मीरजापुर में झोपड़ी से निकल अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर अब तक निधि सिंह पटेल ने 10 स्वर्ण पदक, तीन रजत पदक और दो कांस्य पदकों पर किया कब्जा

भारत की अपनी सुपरगर्ल्स

चंदे के पैसों से देश का नाम रौशन करने वाली पॉवर लिफ्टर निधि सिंह पटेल ने एक बार फिर सरकार से मांगी मदद

बिड़ला समेत देश के वो चार बड़े बिजनेसमैन, जिन्होंने बगैर पढ़े खड़ा किया बड़ा साम्राज्य

जानिए कौन हैं पटेल दंपती, जिनके 1775₹ करोड़ के दान से अमेरिका में खुला मेडिकल कॉलेज

भारत नहीं, कोलंबिया यूनिवर्सिटी में पढ़ाई जाती है डॉ. भीमराव आम्बेडकर की आत्मकथा

BWF World Championship 2019: गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली भारतीय शटलर बनीं पीवी सिंधु, स्विट्जरलैंड

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.