August 15, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

वो फ़िल्म की शूटिंग का नक़ली घोड़ा है…, अखिलेश यादव का CM योगी पर तंज़

Akhilesh Yadav On CM Yogi: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव चुनावी माहौल में लगातार सत्तारूढ़ बीजेपी पर निशाना साध रहे हैं. सोमवार को उन्होंने एक ट्वीट के जरिए सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर बिना नाम लिए तंज़ किया. उन्होंने योगी सरकार को फेल और नाकाम बताया. उन्होंने दावा किया कि यूपी की जनता इस बार उन्हें (बीजेपी) सत्ता से बेदखल करेगी.

अखिलेश यादव ने सोमवार को शाम में ट्वीट किया, “जो कहने के लिए करते चौबीसों घंटे काम फिर भी हैं टोटल फ़ेल, फ़ुल नाकाम, यूपीवाले करेंगे उनका काम तमाम. भाजपा सरकार विकास के जिस घोड़े पर सवार है, वो फ़िल्मी शूटिंग जैसा नक़ली घोड़ा है जो बस हिलता-डुलता है पर आगे नहीं बढ़ता! यूपी कहे आज का ~ नहीं चाहिए भाजपा.”

 

“व्यापारियों को सुरक्षा देने में नाकाम रही बीजेपी”

 

अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर व्यापारियों को सुरक्षा देने में नाकाम रहने का आरोप लगाते हुए रविवार को कहा था कि मुख्यमंत्री से सुरक्षा की गुहार लगाने वाले व्यापारी तक की जिंदगी सुरक्षित नहीं है. अखिलेश ने पार्टी के सहयोगी संगठन समाजवादी व्यापार सभा द्वारा आयोजित व्यापारी महाकुंभ को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘अगर कोई व्यापारी मुख्यमंत्री से सुरक्षा की गुहार लगाता है तो भी उसकी जान सुरक्षित नहीं है. प्रतापगढ़ से एक व्यापारी आए थे और उन्होंने मुख्यमंत्री से कहा था कि उन्हें सुरक्षा चाहिए जब वह व्यापारी प्रतापगढ़ लौटे तो उनकी हत्या कर दी गई.’’

 

अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर तंज करते हुए कहा, ‘‘योगी जी एक दिन में 24 घंटे काम करते हैं. हमें इस पर कोई संदेह भी नहीं है लेकिन क्योंकि वह 24 घंटे काम करते हैं इसलिए इतनी बेरोजगारी है और व्यापारियों के साथ-साथ किसानों और युवाओं को संकट का सामना करना पड़ रहा है. कमाई आधी हो गई है और महंगाई दोगुनी हो चुकी है.’’

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि बीजेपी ने नोटबंदी के वक्त कहा था कि इससे काले धन की समस्या समाप्त हो जाएगी और भ्रष्टाचार भी खत्म हो जाएगा लेकिन सच्चाई यह है कि भ्रष्टाचार दोगुना हो गया है. अखिलेश ने कहा, ‘‘भारत को विश्व गुरु बनाने वाले लोग ठोंको राज चला रहे हैं और नौकरी मांगने वालों को पीटा जा रहा है. प्रदेश में कोई भी सुरक्षित नहीं है क्योंकि हिरासत में सबसे ज्यादा मौतों के मामले उत्तर प्रदेश में ही आ रहे हैं.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.