June 24, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

समय की धारा को पहचाने;

Stop Wasting Your Life

बस अब और नहीं, अब और कोई बहाना नहीं, कल करूँगा जैसा ख़ुद से कोई वादा नहीं, बस थोडा सा और सो लेता हूँ, यां बस इस बार कर लेता हूँ, नहीं ऐसा कोई बहाना नहीं. सब बंद

अब अपनी कमजोरिओं से अपनी कमिओं से भागना बंद, वो सब फ़ालतू सोचना बंद जो मेरे किसी काम का नहीं, सही वक्त का इंतजार करना बंद. ख़ुद को दूसरों के भरोसे छोड़ना बंद, ख़ुद से झूठ बोलना बंद. अपने हालातों को लेकर परेशान होना बंद. आज से ये सब कुछ बंद.

अब समय है उठने का, अपनी शक्ति को – अपनी उर्जा को एक बार फिर से इकठ्ठा करने का. अपने मन को अपनी विल पॉवर को मजबूत करने का. अब वक्त है अपने लिए नए नियम काएदे बनाने का, अब वक्त है ख़ुद को डिसिप्लिन में रखने का. यहीं तो वक्त है अपने सपनो को पूरा करने का.

मैं जो सोचता हूँ उसे मैं कर सकता हूँ और मैं जो कर सकता हूँ उसे मुझे करना ही करना है बस अब और कोई बहाना नहीं, बस अब और कोई चॉइस नहीं.

कामयाब लोग कभी ख़ुद को चॉइस नहीं देते उनके बस एक ही गोल होता है “सफ़लता”. चाहे रास्ता कितना भी मुश्किल हो, चाहे सफ़लता कितनी भी दूर हो, वक्त साथ दे या न दे, लोग साथ चलें या न चलें – मैं अकेले आगे बढूँगा चाहे कुछ भी हो जाए.

जिस दिन मेरा मन नहीं होगा, जिस दिन मैं ख़ुद से बहाना बनाने की कोशिश करूँगा उस दिन – उस दिन भी मैं उठूँगा उस दिन भी मैं काम करूँगा उस दिन भी मैं अपने लक्ष्य की तरफ़ बढूँगा. भाड़ में जाए मेरा मन भाड़ में जाए मेरा आलस मैं नहीं रुकुंगा.

यहीं करते हैं कामयाब लोग ऐसे ही मिलती है लोगो को सफ़लता. मेरे दोस्तो बंद कर दो ख़ुद को बेचारा समझना, बंद कर दो हर उस बुरे पल के लिए रोना जो आपकी जिंदगी में आया था, अपने मन का गुलाम बनने से इनकार कर दो.

ख़ुद को मजबूत बनाओ. ख़ुद को ख़ुद का मालिक बनाओ. मंजिल दिखाई नहीं दे रही है इसलिए रास्तों पर चलना मत छोड़ दो. 6 महीने लगें चाहें 6 साल लग जाएँ चलते रहो. कामयाब लोग जब थक जाते हैं, जब मायूस होते हैं जब उनके पास कुछ नहीं बचता है उस वक्त वो रुकते नहीं बल्कि अपने लिए एक नयी मंजिल एक नया गोल सेट करते हैं और फिर निकल पड़ते हैं एक नए सफ़र पर.

एक बात हमेशा याद रखना की इस जिंदगी की आखिरी मंजिल मौत है और उस मंजिल तक पहुँचने से पहले आपको इसे पूरी तरह से जीना है. रोज मर मर कर मौत का इन्तेजार मत करो जिंदगी को जीना शुरू करो.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.