June 27, 2022

Such Ke Sath

सच के साथ

हमारे भारत में यह एक मज़ेदार बात है कि कैसे माता-पिता अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों या कॉलेजों में पढ़ना तो नहीं चाहते, लेकिन चाहते हैं कि वो सरकारी नौकरी करें। ज्यादातर लोग यहाँ सरकार को हर चीज के लिए दोषी मान लेते हैं लेकिन फिर भी नौकरी तो सरकारी ही करना चाहते हैं। और करें भी क्यों न सरकारी जॉब के फायदे ही फायदे जो हैं |

 

जैसे की कुछ ख़ास यहाँ नीचे बताये गए हैं

 

हर महीने गॉरन्टीड सैलरी
समय के साथ साथ मंदी या उतार चड़ाव आना एक आम बात है तो इसका फायदा उठा कर कई कंपनियां सैलरी देने मैं देर सवेर करती हैं लेकिन एक सरकारी नौकरी ही एक ऐसी नौकरी है जिसमें आपके मासिक वेतन की गारंटी है और आपको समय पर भुगतान किया जाएगा। वास्तव में हर साल , बजट में सरकार पहले सभी सरकारी नौकरियों के लिए धन देती है और फिर बचा हुआ अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं के लिए धन आवंटित करती है। सरल शब्दों में, बजट से पहले सरकारी कर्मचारियों को भुगतान किया जाता है |

 
रिटायरमेंट
सरकारी नौकरी मैं आपके रिटायरमेंट के बाद एक सबसे अच्छी बात आपकी जीवन पेंशन है जो सभी को मिलती है । यही मुख्य कारण है कि भारत में हर कोई सरकारी नौकरी करना ही पसंद करता है। सरकारी नौकरी मैं आपका पूरा जीवन बीमाकृत है, आपको अलग से किसी अन्य के बाद आपको कहीं और काम करने की चिंता करने की जरूरत नहीं है। आप और आपकी पत्नी पेंशन प्रकार की बीमा योजनाओं की आवश्यकता नहीं है। और इसके साथ साथ नौकरी से रिटायर होने है तो आपको पेंशन राशि का आधा हिस्सा भी मिलेगा। निजी नौकरियों में पेंशन, मासिक वेतन का आनंद तब तक उठाएंगे जब तक उनमें से कोई एक जीवित हो।

 

जिनको अपने काम पर भरोसा होता हैं,
वो नौकरी करते हैं…
जिनको अपने आप पर भरोसा होता हैं,
वो व्यापार करते हैं…

 
चिकित्सा सुविधाएँ वो भी फ्री
नि: शुल्क चिकित्सा सुविधा भी एक कारण है कि भारतीय लोग सरकारी नौकरी की चाहत रखतें हैं इसमें अगर आपके पास सरकारी नौकरी है तो आपका मेडिकल खर्च आपके पूरे परिवार के लिए शून्य होगा। चाहे वह छोटा सा कट हो या ओपन हार्ट सर्जरी।

 
रहने के लिए सरकारी क़्वार्टर
सरकारी नौकरियों में सरकार द्वारा आवास की सुविधा पहले से ही प्रदान की जाती है। आज एक शहर में दो कमरों का फ्लैट किराए पर लेने पर आपको प्रति माह 10,000 रुपये से 15,000 रुपये या इससे भी अधिक खर्च करने होंगे। जो भी आप महीने मैं कमाते हैं, उसका आधा हिस्सा तो केवल घर का किराया देने के लिए ही निकल जाएगा। लेकिन अगर आपके पास सरकरी नौकारी है तो आपको किराए की चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। अगर आपके पास सरकारी नौकरी है तो आप मुफ्त में उनके क्वार्टर में रहते हैं या अगर देना भी पड़ा तो बहुत कम | सरकारी नौकरियों में सरकार द्वारा आवास की सुविधा पहले से ही प्रदान की जाती है।

 

एक रास्ता यह भी हैं,
मंजिलों को पाने का…
कि सीख लो तुम भी हुनर,
हाँ में हाँ मिलाने का…

 
काम का बोझ न के बराबर
प्राइवेट नौकरी मैं आप तभी तक बने रह सकतें है जब तक आप काम करते हैं । एक निजी कंपनी में काम का बोझ सरकारी नौकरी की अपेक्षा अधिक है और आपको पूरे 8 से 10 घंटे काम करना हे होता है आपकी हर गतिविधि पर कड़ी निगरानी रखी जाती है आजकल तो सी सी टी वी कैमेरा लगें है हर ऑफिस मैं प्राइवेट जॉब मैं अगर आपका बॉस आपके काम से संतुष्ट नहीं है या काम उसके सटिस्फैक्शन लेवल तक नहीं है तो हो सकता है आपको निकाल दिया जाये | वहीं अगर आप सरकारी नौकरी में एक बार आ जाएँ ज्वाइन कर ले तो आपको कोई नहीं निकाल सकता । एक सरकारी नौकरी में कार्यभार न के बराबर है और आप वास्तव में काम के माहौल का आनंद लेते हैं। इसके अलावा, एक निजी नौकरी में आपको नियमित आधार पर मूल्यांकन पास करना होगा। यदि आप नौकरी के लायक हैं तो वे आपका आकलन करते हैं। यदि आप फिट हैं तो केवल आप काम करना जारी रख सकते हैं अन्यथा कंपनी अलविदा कह देगी। लेकिन सरकरी नौकारी में ऐसी कोई बात नहीं है, बस टेंशन फ्री काम है |

 

छुट्टियों का आनंद लें
सरकारी नौकरी में आपको एक साल में सभी छुट्टियों का आनंद मिलता है। सशुल्क अवकाश ( पेड लीव्स ) भी हैं। आप प्राइवेट जॉब मैं ऐसी छुट्टियों की कल्पना भी नहीं कर सकते। आपको भुगतान तभी किया जाता है जब आपने काम किया हो यदि आप एक दिन की भी छुट्टी लेने का निर्णय लेते हैं, तो कंपनी उस दिन के पैसे काट ही लेगी| वैसे प्राइवेट जॉब में आपको इतनी आसानी से छुट्टी मिलती भी नहीं है। सरकारी नौकरी में दूसरी तरफ आप एक साल में सभी छुट्टियों का आनंद ले सकते हैं। इसलिए भारत में सरकारी नौकरी बेहतर है।

 
मुफ्त भत्ते (टीए / डीए)
एक सरकारी नौकरी मैं आपको हर साल टीए / डीए (यात्रा भत्ता और महंगाई भत्ता) मिलेगा। यात्रा भत्ता में आपको एक जगह से दूसरी जगह मुफ्त में यात्रा करने की सुविधा मिलती है। मुख्य रूप से रेलवे द्वारा। हवाई टिकट के लिए आपको केवल रियायत मिलेगी।

 

विवाह प्रस्ताव बहुत आते है
इस सरकारी जॉब का एक फायदा यह भी है की अगर आप एक नौजवान हैं और आपके पास एक सरकरी नौकारी है, तो आप के लिए शादी के प्रस्तावों की कमी नहीं होगी आपको अपने समुदाय से हर हफ्ते सैकड़ों प्रस्ताव मिलेंगे। क्योंकि सरकारी जॉब की महत्ता है इसलिए हर कोई अपनी बेटी को ऐसे आदमी को देना चाहेगा जिसके पास एक सरकारी नौकरी हो |

 

सम्मान अधिक मिलता है

देखा गया है के आप अगर किसी सरकारी जॉब मैं हो और समाज मैं कहीं आते जाते हो तो आपको जॉब वाले से अधिक वरीयता दी जाएगी | इसलिए भारतीय सरकारी नौकरी के लिए जाना चाहते हैं।

सरकारी नौकरी में बल्ले बल्ले 👇👇

 

images(78)

प्राईवेट नौकरी में मालिक अपने कर्मचारियों का खून निकाल लेना चाहता है, घंटे घंटे का हिसाब देना पड़ता है 👇images(77)

दुनिया में जितने भी अमीर इंसान हैं सब विजनेश मैन है।।

 

जूते महंगे हैं अब पर छोटा सा सफर है
एक तरफ ऑफिस, दूसरी तरफ घर है।

 

ये दूर शहर की नौकरी भी कुछ ऐसे मजबूर कर गयी
पिता को उनके पिता से और हमें उनसे दूर कर गयी।

अलग अलग बहुत दूर शहर में वो बसने लगे हैं
पहले साथ रो लेते थे अब अलग हँसने लगे हैं।

गिरने वाले को होती हैं तकलीफ,
पर ठोकर ही इंसान को चलना सिखाती हैं…

 

 

ये भी पढ़ें 👇

परिस्तिथियों के हिसाब से जीना सीखें!! The Best Story.

35 रुपये के लिए 2 साल तक Indian Railway से लड़ते रहे सुजीत, जानिये क्या है पूरी कहानी

मजदूर दिवस 1 मई:मजदूर को अनस्किल्ड लेबर कहना धोखा है.

शिक्षा का व्यवसायीकरण अनुचित है।

किसी के पास पैसा है तो किसी के पास दिल;

 

2 thoughts on “सरकारी नौकरी ही क्यूं चाहिए??

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.