January 19, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

सिद्धार्थनगर:जिला पंचायत की बैठक में हंगामा के बीच अध्यक्ष समेत 20 सदस्यों ने दिया इस्तीफा

सिद्धार्थनगर।सांसद जगदंबिका पाल, स्वास्थ्य मंत्री जयप्रताप सिंह व बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री डा. सतीश द्विवेदी की मौजूदगी में शनिवार को जिला पंचायत सभागार में बोर्ड की बैठक हुई। नोकझोंक के बीच एजेंडा पर चर्चा हुई। कुल 88 करोड़ रुपये का बजट पारित किया गया। इसमें टाइड ग्रांट की प्रथम किस्त 35.12 करोड़ व अनटाइड ग्रांट में 52.56 करोड़ रुपये का मद है। टाइड ग्रांट में ग्राम पंचायत के हिस्से में 24.58, क्षेत्र पंचायत में 5.26 व जिला पंचायत को 5.26 करोड़ रुपये आवंटित किया गया है। वहीं 23 असंतुष्ट सदस्यों ने बोर्ड में त्रिस्तरीय कमेटी को अपना त्यागपत्र सौंपा। सदन में पदेन समेत कुल 72 सदस्य हैं। जिसमें 48 जिला पंचायत का पद है।

त्रिसदस्यीय समिति की अध्यक्षता में जिला पंचायत की बैठक शुरू होते ही जिला पंचायत अध्यक्ष गरीबदास समेत 20 सदस्यों ने जमकर हंगामा करते हुए सदस्य पद से त्यागपत्र दे दिया। सदस्यों के त्यागपत्र देने और सदन से बहिर्गमन करने बाद भी सांसद जगदंबिका पाल एवं बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ. सतीश चंद्र द्विवेदी की मौजूदगी में बैठक की कार्यवाही की गई।


जिला पंचायत की बैठक शुरू होते ही सदस्य तौलेश्वर निषाद, अब्दुल सलाम आदि ने विकास कार्यों में सदस्यों की अनदेखी करने का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। उनका आरोप था कि त्रिसदस्यीय समिति ने अपने करीबी सदस्यों एवं पदेन सदस्यों को कई कार्य आवंटित किए, जबकि अधिकांश सदस्यों की अनदेखी करते हुए उनके प्रस्ताव को न तो कार्ययोजना में शामिल किया और न ही उन कार्यों पर धन आवंटित किया गया। सांसद जगदंबिका पाल ने उन्हें समझाने का प्रयास किया, लेकिन सदस्य त्यागपत्र देने पर अड़े रहे। इसी बीच बैठक में पहुंचे बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ. सतीश चंद्र द्विवेदी ने भी उन्हें समझाने का प्रयास किया, लेकिन सदस्य नहीं माने और त्यागपत्र देने के बाद बैठक का बहिर्गमन कर दिया। सदस्यों के त्यागपत्र और बहिर्गमन के बाद भी सीडीओ पुलकित गर्ग की आदि मौजूदगी में बैठक की कार्यवाही की गई।


नोटरी शपथ पत्र पर दिए त्यागपत्र पर सदस्यों ने कहा कि वर्तमान शासन और विभाग निर्वाचित सदस्य के अधिकारों की उपेक्षा करते हुए जिला पंचायत को आवंटित बजट से संबंधित कार्यों को निरंकुश व मनमानी तरीके से खर्च करता चला आ रहा है। सदस्यों की कोई सहमति नहीं ली जा रही और सदन की संपूर्ण कार्यवाही मनमानी तरीके से की जा रही है। ऐसे में सदस्य बने रहने का कोई औचित्य नहीं है, इसलिए त्यागपत्र दे रहे हैं।


त्रिसदस्यीय समिति को त्यागपत्र देने वाले सदस्यों में वर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष गरीब दास और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष पूजा चिनकू यादव, रमापति पांडेय, ध्यानमती, जाकिर हुसैन, हफीजुर्रहमान, अब्दुल सलाम, निर्मला यादव, मंजू, सत्यनारायण यादव, दिनेंद्र दत्त, अतहर अलीम, शैलेष, ज्ञानमति, महेश कन्नौजिया जुबैर अहमद आदि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.