January 23, 2021

Such Ke Sath

सच के साथ – समाचार

हैलो!हैलो! मैं लालू यादव बोल रहा हूं… एक फोन काल, जिससे बिहार BJP में मच गई खलबली

विधायक ललन पासवान को लालू ने किया फोन? ऑडियो हो रहा वायरल

बिहार विधानसभा में स्पीकर पद के चुनाव से पहले बीजेपी और राजद में आरोप-प्रत्यारोप का खेल जारी है. सुशील मोदी ने पूर्व सीएम लालू यादव पर बीजेपी नेताओं को जेल से फोन करने का आरोप लगाया है.

पटना | बिहार में विधान सभा स्पीकर के चुनाव से ठीक पहले एक ऑडियो वायरल हो रहा है जिसमें वे दावा किया जा रहा है कि आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव जेल से विधायकों को अपने साथ आने के लिए कह रहे हैं। ऑडियो में दावा किया जा रहा है कि बीजेपी के पीरपैंती सीट से विधायक ललन पासवान को लालू यादव कॉल कर रहे हैं और स्पीकर के लिए होने वाली वोटिंग से अनुपस्थित होने को कह रहे हैं। हालांकि इस ऑडियो की सत्यता की हम पुष्टि नहीं करते है।

सुशील मोदी की ओर से ऑडियो जारी कर दावा किया गया है कि लालू यादव ने जेल से भारतीय जनता पार्टी के विधायक ललन पासवान को फोन किया, मंत्री पद का लालच दिया और उनके साथ आने को कहा. लल्लन पासवान बिहार की पीरपैंती विधानसभा सीट से विधायक हैं.

क्या है आडियो में
ऑडियो में लालू यादव किसी को कॉल कर रहे हैं, जिसमें वह कह रहे हैं कि पासवान जी आप स्पीकर के चुनाव में आरजेडी का साथ दें। जब वह कहते हैं कि वह पार्टी के साथ हैं तो उनसे कहा जाता है कि वे अनुपस्थित हो जाएं। कह दें कि कोरोना हो गया था। स्पीकर अपना बन जाने पर सारी बातें देख ली जाएगी। ये भी दावा किया जा रहा है कि सरकार गिरा देंगे और नई सरकार में मंत्री भी बनाएंगे।

आरजेडी ने किया खंडन
आरजेडी के विधायकों ने इस ऑडियो का खंडन किया है। आरजेडी नेता भाई वीरेंद्र ने कहा कि लालू प्रसाद यादव की आवाज में बात करने वाले कई लोग हैं। ये सुशील कुमार मोदी का प्रोपेगेंडा है। सुशील मोदी अपनी बेरोजगारी दूर करने के लिए लालू प्रसाद यादव के नाम का उछाल रहे हैं।

जेडीयू ने कहा ये लालू जी की फितरत

जेडीयू नेता अजय आलोक ने कहा कि लालू प्रसाद यादव के लिए यह नई बात नहीं है। वह जीवन पर कानून को ताक पर रखकर ही काम करते रहे हैं। आडियो कितना सच है या नहीं ये तो बाद की बात है, लेकिन इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि लालू प्रसाद यादव पूरे चुनाव के दौरान जेल रूल को ब्रेक कर अपनी राजनीति चलाते रहे।


अब इस ऑडियो के सामने आने के बाद बीजेपी के विधायक नीरज सिंह ने मांग की है कि लालू यादव को रांची से शिफ्ट करके तिहाड़ जेल में भेज देना चाहिए. हालांकि, राजद की ओर से कहा गया है कि सुशील मोदी का आरोप बेबुनियाद है और काफी लोग लालू यादव की आवाज निकाल सकते हैं.

बता दें कि इससे पहले सुशील मोदी ने मंगलवार को ही एक ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने एक नंबर जारी करते हुए कहा था कि लालू यादव जेल से बीजेपी विधायकों को फोन कर रहे हैं. सुशील मोदी ने दावा किया था कि उन्होंने जब वापस उस नंबर पर फोन किया तो लालू यादव ने ही फोन उठाया, जिसके बाद उन्होंने उनसे ऐसा ना करने को कहा.

गौरतलब है कि बिहार में इस बार विधानसभा स्पीकर पद के लिए चुनाव होना है. एनडीए के लिए बीजेपी की ओर से विजय सिन्हा और विपक्ष की ओर से राजद के अवध बिहारी चौधरी मैदान में हैं. बिहार में ऐसा करीब 5 दशक के बाद हो रहा है, जब स्पीकर पद के लिए चुनाव हो रहा हो. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights Reserved with Suchkesath. | Newsphere by AF themes.