बैंकिंग

ATM Machine और ATM Card के बारे में पूर्ण जानकारी;

ATM Machine और ATM Card के बारे में पूर्ण जानकारी
भारत सरकार देश के सभी नागरिको को बैंकिंग सर्विसेज से जोड़ना चाहती है.जनधन योजना के जरिये सरकार ने इस लक्ष्य को प्राप्त करने की भरपूर कोशिश की है.हर बैंक खाते के साथ सरकार ने ATM card भी दिए है.कई लोगो को ATM Machine के बारे में पूर्ण जानकारी नहीं है.मैं अपने इस पोस्ट में एटीएम के बारे प्रमुख जानकारिया ले कर आया हूँ.

History of ATM Machine:-

ATM की फुल फॉर्म, Automated teller Machine है.इसे हिंदी में स्वचालित गणक मशीन कहते है.एटीएम के आविष्कारक जॉन शेफर्ड बैरन थे.पहली मशीन 27 June १९६७ को बार्कलेज बैंक के उत्तर लंदन के Enfield Town branch में लगी थी.इसको उपयोग करने के लिए आज की तरह पिन बेस्ड कार्ड नहीं बल्कि paper cheques का उपयोग किया जाता था.सुरक्षा को ध्यान में रखते हुवे बाद में ६ डिजिट वाले पिन (personal identifiction number) का उपयोग करने का जॉन शेफर्ड बैरन ने सोचा लेकिन अपनी पत्नी के परामर्श पर ४ डिजिट का पिन ही उन्होंने उपयोग में लिया.भारत में भी ४ डिजिट के पिन का उपयोग करते है.ब्राजील में बायोमेट्रिक बेस्ड ATM Machine का उपयोग किया जाता है.

भारत में पहला ATM Machine, HSBC बैंक ने लगाया था.यह मशीन १९८७ में मुंबई में लगायी गयी थी.भारत में ही दुनिया में सबसे ऊंचाई पर स्थित एटीएम मशीन है.यह सिक्किम के तेगु में २०१३ में UTI ने लगाया था.यह sea level से १३,२०० फ़ीट की ऊंचाई पर है.भारत में विभिन्न बैंको के लगभग २.५ लाख एटीएम मशीने काम कर रही है.भारत का पहला तैरती ATM Machine केरला में स्टेट बैंक ने लगायी है.

card-details

ATM card में मैग्नेटिक स्ट्रिप क्या होती है?
ATM card के पिछले हिस्से में आप देखेंगे एक काली रंग की पट्टी होती है.इसे ही मैग्नेटिक स्ट्रिप कहते है.इसमें आपकी सारी जानकारी सुरक्षित की जाती है.जब आप अपना एटीएम कार्ड ,एटीएम मशीन में लगाते है तो एटीएम मशीन electronic data capture (EDC) मशीन की सहायता से आपकी सारी जानकारी को मैच करके आप को desired ऑपरेशन(जैसे बैलेंस इन्क्वायरी,कैश विड्रोल,पिन बदलना और मिनी स्टेटमेंट निकलना)परफॉर्म करने देता है.

ATM card पर लिखे 16 नंबर का क्या मतलब होता है?

ATM card कार्ड पर लिखी हर डिजिट का एक मतलब होता हैं.एटीएम कार्ड की पहली डिजिट यह दर्शाती हैं कि कार्ड किसने जारी किया हैं.इस डिजिट को Major Industry identifier कहते हैं.

हर इंडस्ट्री के लिए यह नंबर अलग होता हैं.

0- iso और अन्य इंडस्ट्री
1- एयरलाइन्स
2 -एयरलाइन्स और अन्य इंडस्ट्री
3 -ट्रैवेल और इंटरटेनमेंट ( अमेरिकन एक्सप्रेस या फूड क्लब)
4 -बैंकिंग और फाइनेंस (वीजा)
5 -बैंकिंग और फाइनेंस (मास्टर कार्ड)
6 -बैंकिंग और मर्चेडाइजिंग
7- पेट्रोलियम
8 -टेलिकम्युनिकेशन और अन्य इंडस्ट्री
9 -नेशनल असाइनमेंट

अगले ६ नंबर उस कंपनी को दर्शाते हैं जिस कंपनी ने ATM, क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड जारी किया है,issuer identification number (IIN )कहते हैं.

कंपनी IIN
अमेरिकन एक्सप्रेस- 43XXXX , 47XXXX
वीजा – 5XXXXX,6XXXXX
मास्टर कार्ड – 62XXXX ,44XXXX

अगले नौ नंबर बैंक अकाउंट नंबर से लिंक रहते हैं.यह पूरी तरह से बैंक अकाउंट नंबर नहीं होता हैं.इसे शार्ट अकाउंट नंबर कहते है.
आखिरी डिजिट क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड की चेक डिजिट के नाम से जानी जाती हैं.इससे यह पता चलता हैं कि कार्ड वैध हैं अथवा नहीं.

cvv number क्या होता है?

कार्ड के पीछे ही एक ३ अंको का cvv नंबर भी होता है.इसके बिना कोई भी ट्रांज़ैक्शन पूरा नहीं हो सकता है.cvv(Card Verification Value) भी एक सुरक्षा फीचर है.कई कार्ड्स में यह ४ अंको का भी होता है.कई पेमेंट गेटवे अब एटीएम पिन की जगह इसका उपयोग कर रहे है.यह ज्यादा सुरक्षा प्रदान कर रहा है और एटीएम के दुरप्रयोग को भी कम कर रहा है.cvv नंबर डालने के बाद एक otp (one टाइम पासवर्ड) यूजर के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आता है.उसको एंटर करने के बाद ही ट्रांज़ैक्शन कम्पलीट होता है.इससे एटीएम कार्ड से भुगतान करना लगभग पूर्णरूप से सुरक्षित हो गया है.

3 replies »

  1. After reading your blog post, I browsed your website a bit and noticed you aren’t ranking nearly as well in Google as you could be. I possess a handful of blogs myself, and I think you should take a look at “seowebsitetrafficnettools”, just google it. You’ll find it’s a very lovely SEO tool that can bring you a lot more visitors and improve your ranking. They have more than 30+ tools only 20$. Very cheap right? Keep up the quality posts

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.