क्राइम्स

बस्ती:एसपी ने किया छावनी और एएसपी ने परशुरामपुर थाने का औचक निरीक्षण थाने के अभिलेखों को जांचा दिए दिशा निर्देश…

बस्ती: एसपी हेमराज मीणा ने छावनी थाने का औचक निरीक्षण कर संबंधित अभिलेखों को जांचा और एसओ को जरूरी दिशा निर्देश दिया।

बुधवार की रात 9.45 बजे थाना पहुंचे और परिसर में स्वच्छता का जायजा लिया। इसके बाद मेस में पहुंच कर वहां की साफ सफाई देखी और आरक्षियों से भोजन के बारे में पूछा। खाने में क्या क्या मिलता है इसे पूछा। कार्यालय में पहुंचकर एक एक अभिलेख देखे। अपराध और अपराधियों की जानकारी ली। विवेचनाओं की समीक्षा करते हुए विवेचकों से लंबित विवेचनाओं को जल्द पूर्ण करने की हिदायत दी।

 

शीतलहर में दिए डयूटी के टिप्स

कप्तान ने पुलिस कर्मियों को बताया कि अब ठंड की शुरुआत के साथ ही रात में कोहरे से दुर्घटनाओं में इजाफा हो रहा है। इससे बचने के लिए डायल 112 व रात के समय गश्त पर निकले वाहनों में रिफलेक्टर टेप लगाएं। यदि कोई वाहन हाइवे पर तकनीकी कमी के कारण खराब होता है तो उस पर भी इसे लगाएं और लगभग 100 मीटर की दूरी पर बैरिकेडिग की व्यवस्था करें। उन्होंने थानाध्यक्ष को रात में सुरक्षा के दृष्टिगत हाइवे पर हर 7 किलोमीटर पर पेट्रोलिग वाहन मौजूद रखने का निर्देश दिया।

 

FB_IMG_1574978267255

एएसपी पंकज ने थाना परशुराम पुर कार्यालय के रजिस्टर नंबर 8, अंगुष्ठ छाप रजिस्टर, अपराध,रजिस्टर , एक्टीव लिस्ट ,राजनैतिक सूचना रजिस्टर ,बीट सूचना रजिस्टर ,फ्लाई शीट रजिस्टर, मालखाना, मेस व आरक्षी बैरक आदि का किया निरीक्षण।

 

FB_IMG_1574978273588

 

एएसपी ने थाने पर आने वाले आगन्तुको के समस्याओं के त्वरित निस्तारण हेतू प्रभारी निरीक्षक परसरामपुर को दिया निर्देश।

 

FB_IMG_1574978277898

 

थाना परसरामपुर के अधिकारी-कर्मचारीयो के साथ गोष्ठी कर दिया आवश्यक दिशा निर्देश।

 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.