क्राइम्स

बस्ती:कार्यों में लापरवाही पाए जाने पर दो सीडीपीओ को डीएम आशुतोष निरंजन ने दिया विशेष प्रतिकूल प्रविष्टि देने का निर्देश

कार्यों में लापरवाही पाए जाने 2 सीडीपीओ को डीएम आशुतोष निरंजन ने दिया विशेष प्रतिकूल प्रविष्टि देने का निर्देश

 

बस्ती: जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने कार्यों में लापरवाही पाए जाने पर रुधौली सीडीपीओ अलीमुन्निसा तथा गौर सीडीपीओ निशा श्रीवास्तव को विशेष प्रतिकूल प्रविष्टि देने का निर्देश दिया है। उन्होंने डीपीओ को निर्देश दिया कि दोनों सीडीपीओ के सर्विस बुक में प्रतिकूल प्रविष्टि चस्पा कर प्रमाण पत्र दें। जिला पोषण मिशन की समीक्षा बैठक में उन्होंने पाया कि रुधौली में कोई भी अतिकुपोषित बच्चा एनआरसी को नही भेजा गया है। इसके अलावा पिछले माह में केवल नौ अतिकुपोषित बच्चे ग्रीन श्रेणी में आए हैं। पूरे वर्ष में 4444 अतिकुपोषित में से 1846 बच्चे ही ग्रीन श्रेणी में आए हैं, जो कि जिले में सबसे कम है। यहां ‘सैम‘ बच्चों की संख्या शून्य है। इससे स्पष्ट है कि अधिकारियो-कर्मचारियों द्वारा कार्य मे रूचि नही ली जा रही है।

 
बैठक में गौर की सीडीपीओ निशा श्रीवास्तव अनुपस्थित पाई गई। उनके क्षेत्र में भी अतिकुपोषित बच्चों को पोषित की श्रेणी में बेहद कम पाया गया। पिछली बैठक में गौर की सीडीपीओ से स्पष्टीकरण तलब किया गया था जिसका उन्होंने अभी तक कोई जवाब नहीं दिया है। सीडीपीओ के क्षेत्र में 61 प्रतिशत बच्चे अभी भी अतिकुपोषित हैं। जिलाधिकारी ने इन्हें कारण बताओ नोटिस जारी करने का निर्देश दिया है।

 
जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है कि बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में प्रति सप्ताह प्रत्येक बच्चे को आयरन की गोली खिलाने की समुचित व्यवस्था की जाए। उन्होंने निर्देश दिया कि जो बच्चा सोमवार को स्कूल नहीं आता है उसे दूसरे दिन अवश्य गोली खिलाई जाए। उन्होंने 3 सदस्य समिति गठित किया है जो आयरन की गोली खिलाने की व्यवस्था की जांच कर 15 दिन में रिपोर्ट उपलब्ध कराएगी।
जिलाधिकारी ने कहा कि स्कूलों में छात्र-छात्राओं की उपस्थिति 70 प्रतिशत से भी कम पाई जाती है जब की गोलियां स्वास्थ्य विभाग द्वारा शत-प्रतिशत उपलब्ध कराई जाती हैं। समिति यह भी जांच करेगी कि स्कूलों में यह दवा रखने की क्या व्यवस्था है तथा दवा एक्सपायरी डेट की ना खिलाई जा रही है। बेसिक शिक्षा अधिकारी ने बताया कि उनके स्कूलों में कुल 196000 बच्चे पंजीकृत हैं।
आरसीएच पोर्टल पर गर्भवती स्त्रियों के रजिस्ट्रेशन की संख्या आधे से भी कम पाए जाने पर जिलाधिकारी ने असंतोष व्यक्त करते हुए सीएमओ को पत्र जारी करने का निर्देश दिया है। समीक्षा में उन्होंने पाया कि 42000 21958 महिलाओं का पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन किया गया है। इसमें से 3648 महिलाएं एनीमिक है। सीएमओ को निर्देशित किया गया है कि वे इन महिलाओं की वर्तमान एनिमीक स्थिति की रिपोर्ट उपलब्ध कराएं।
जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है कि अगले 15 दिन में अभियान चलाकर प्रत्येक ब्लॉक का 1 गांव कुपोषणमुक्त कराया जाए। वर्तमान में ब्लॉक स्तर पर 28 गांव कुपोषणमुक्त हुए हैं जिनका जिला स्तरीय समिति द्वारा सत्यापन कराया जाएगा। जिलाधिकारी ने ग्राम स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस की समीक्षा करते हुए अतिकुपोषित बच्चों के परिवार को राशन, स्वास्थ्य सेवाएं, शौचालय आदि प्राप्त होने की समीक्षा किया।
उन्होंने निर्देश दिया कि प्रत्येक ब्लॉक में पोषाहार प्राप्त होने पर संबंधित एसडीएम को सूचित करें तथा नामित अधिकारी से सत्यापन कराने के बाद ही वितरण करें। इस संबंध में उप जिलाधिकारी से फोन पर बात करके व्यवस्था सुनिश्चित कराएं। उन्होंने निर्देश दिया कि सभी सीडीपीओ के पास एसडीएम तथा बीडीओे का फोन नंबर अवश्य हो तथा नियमित रूप से उनको विभागीय प्रगति के बारे में फोन पर जानकारी देते रहें।

 
आंगनबाड़ी केंद्र पर पंजीकृत सभी बच्चों का आधार कार्ड बनवाने के लिए जिलाधिकारी ने कार्यक्रम अधिकारी से 3 दिन के अंदर कार्ययोजना देने का निर्देश दिया है। जिला कार्यक्रम अधिकारी सावित्री देवी ने बताया कि जिले में 15 बैंक तथा 14 पोस्ट ऑफिस में आधार कार्ड बनाने का कार्य किया जा रहा है ।

 

निर्देश दिया गया है कि प्रत्येक आगनबाड़ी केन्द्र के छूटे हुए बच्चे को सबसे नजदीक के बैंक या पोस्ट आफीस से सम्बद्ध करे तथा आगनबाड़ी कार्यकत्री एवं सहायिका को इस कार्य के लिए नामित करें। बैठक में परियोजना निदेशक आरपी सिंह, उपायुक्त मनरेगा इन्द्रपाल सिंह, सीडीपीओ तथा विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.