ताज़ा ख़बरें

बस्ती: बसपा के पूर्व मंत्री राम प्रसाद चौधरी समेत कई पूर्व विधायक समाजवादी पार्टी में शामिल

CollageMaker_20200120_173948322

बस्ती|बसपा के कई वरिष्ठ नेताओं ने सोमवार को सपा की सदस्यता हासिल की. पूर्व मंत्री राम प्रसाद चौधरी समेत कई पूर्व विधायकों ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता हासिल की. पूर्व मंत्री राम प्रसाद चौधरी को बसपा सुप्रीमो मायावती के निर्देश पर पर 23 नवंबर 2019 को पार्टी से निकाल दिया गया था। उनके साथ तीन पूर्व विधायकों को भी पार्टी से निकाला गया था।

 

समाजवादी पार्टी (SP) के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर ‘बांटो और राज करो’ की राजनीति करने का आरोप लगाया. यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि असम में लोगों के बीच आपसी मतभेद पैदा कर दिए गए हैं, अखिलेश ने कहा, ‘हम चाहते थे कि जाति आधारित जनगणना हो जाए, लेकिन कांग्रेस ने ऐसा नहीं होने दिया और आंकड़े भी बाहर नहीं आए. वे जानते हैं कि जिस दिन इस देश की जातियों की गिनती हो जाएगी उस दिन हिन्दू-मुसलमान का झगड़ा खत्म हो जाएगा.’

 

IMG-20200120-WA0004

 

अखिलेश यादव ने सपा मुख्यालय में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए सोमवार को कहा, ‘संविधान में धर्म के आधार पर भेदभाव नहीं था, इन्होंने धर्म के नाम पर बंटवारा कर दिया. असम के एक हिस्से में सीएए लागू नहीं है और उस हिस्से में कोई भी जाना चाहेगा तो उसे परमिट चाहिये होगा. कश्मीर से 370 हटा दिया गया तो वहां कोई भी जा सकता है तो फिर असम में अगर हम जायेंगे तो हमें परमिट चाहिये होगा. पूर्वोत्तर के बहुत से हिस्से हैं जहां बिना परमिट के नहीं जा सकते हैं. पूरे देश को उलझा दिया है.’

 

IMG-20200120-WA0003

 

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी ने उनका समाजवादी सिद्धान्त भी चुरा लिया और सबका साथ सबका विकास की बात करने लगे। लेकिन यह लोग जनता को धोखा दे रहे हैं। अखिलेश अर्थपूर्ण तरीके से कहा कि मौसम खुलता जा रहा है मौसम का बदलाव दिखाई दे रहा है। और ये छोटा बदलाव नहीं है।

 

 

बीजेपी के लोगों ने किसानों को आय दोगुना करने का वादा किया। किसानों ने सरकार बनवा दी। बीजेपी से लेकिन किसान भाइयों को कुछ नहीं मिला।
अगर किसान की आय दोगुनी नहीं कर सकते रोड नहीं बनवा सकते मेडिकल कालेज नहीं बनवा सकते। नोटेबंदी से क्या हुआ, राष्ट्र के नाम पर देश के नाम पर लोग लाइन में लग गए.. क्या मिला बताओ.. । अब फिर लाइन में लगाने के जुगाड़ में है।

 

 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.