क्राइम्स

हाईकोर्ट का दिल्ली पुलिस को नोटिस, सीनियर अधिकारियों को कोर्ट में उपस्थित होने को कहा

New Delhi|नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन करने वाले और विरोध करने वालों ने नॉर्थ ईस्ट दिल्ली को हिंसा की आग में झोंक दिया। नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के कई इलाकों में बीते तीन दिनों से जारी हिंसा में अब तक 18 लोगों की जान चली गई है, जिसमें एक पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। वहीं रविवार से जारी हिंसा में अब तक करीब 250 से अधिक लोग घायल हो गए हैं, जिनमें करीब 56 से अधिक पुलिस के जवान हैं। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर नॉर्थ ईस्ट दिल्ली यानी उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर और चांदबाग में रविवार, सोमवार और मंगलवार को लगातार हिंसा हुई, जिसकी वजह से प्रशासन ने धारा 144 लगा दिया है और पुलिस की भारी तैनाती की है। आज इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट में अलग-अलग याचिकाओं पर सुनवाई है। तो चलिए जानते हैं इस मामले से जुड़े सारे अपडेट्स…

North East Delhi Violence live Updates:
– नॉर्थ ईस्ट दिल्ली हिंसा मामले में हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है और सीनियर अधिकारियों को कोर्ट में उपस्थित रहने को कहा है।

 

– मौजपुर में हालात सामान्य पर माहौल तनावपूर्ण। पुलिस पहचान पत्र देखकर लोगों को लाल बत्ती क्रास करने दे रहे हैं।

– करावल नगर रोड, चांद बाग पुलिया पर अभी सब शांत है। सड़क पर मलबा पड़ा है। लोग गलियों से बाइक से गुजर रहे हैं। कॉलोनियों में लोग दुकानों से सामान लेते दिखे। मंगलवार रात भर कुछ लोग चौराहो पर बैठकर ध्यान रखते रहे।

-बीते दो दिनों दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर गुरु तेग बहादुर अस्पताल से मिली जानकारी के अनुसार मरने वालों की संख्या 18 हो चुकी है।

 

 

-केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शहादरा के घायल डीसीपी के परिवार से बातचीत की और उनका हालचाल जाना।

 

-दिल्ली: मौजपुर, सीलमपुर और गोकुलपुरी की लेटेस्ट तस्वीरें। इन इलाकों में सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है।

 

-दिल्ली के जाफराबाद मेट्रो स्टेशन की लेटेस्ट तस्वीरें… कल यहां प्रदर्शनकारी जमा थे।

 

– नागरिकता कानून पर सुलग रही दिल्ली में हिंसा को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट के जस्टिस मुरलीधर के घर आधी रात को सुनवाई हुई। जज ने डीसीपी को यह निर्देश दिया कि घायलों को बड़े अस्पताल में शिफ्ट किया जाए और उन्हें सुरक्षा दी जाए।

 

दिल्लीः मेट्रो के सभी स्टेशन से एंट्री और एग्जिट गेट खोले गए।

 

-उपद्रवियों को गोली मारने का आदेश

हिंसा को देखते हुए नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में पुलिस ने उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने का आदेश जारी किया है। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, उत्तर-पूर्वी दिल्ली में उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने के आदेश दिए गए हैं। बता दें कि पिछले तीन दिनों से हो रही हिंसा ने अब तक 13 लोगों की मौत हो गई है जबकि 56 पुलिसकर्मी समेत 250 से अधिक लोग घायल हो चुके हैं।

 

केजरीवाल के घर के बाहर प्रदर्शन

दिल्ली: जामिया मिलिया इस्लामिया के पूर्व छात्र संघ और जामिया को ऑर्डिनेशन कमेटी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर धरना दिया। ये लोग दिल्ली हिंसा के खिलाफ सख्त कार्रवाई और शांति बहाल करने की मांग कर रहे हैं।

 

– अजीत डोभाल ने स्थिति का जायजा लिया:
राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल आज देर रात हालात का जायजा लेने के लिए सीलमपुर पहुंचे। डोभाल ने पुलिस के आला अधिकारियों से बातचीत की। सीलमपुर स्थित डिप्टी कमिश्नर ऑफ नॉर्थ-ईस्ट पुलिस के ऑफिस में करीब एक घंटे तक पुलिस के आला अधिकारियों के साथ बैठक की।

 

अर्द्धसैनिक बलों की 35 कंपनियां तैनात:
तनाव को देखते हुए पुलिस के साथ अर्द्धसैनिक बल की 35 कंपनियां तैनात की गई हैं। दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता मंदीप सिंह रंधावा ने बताया कि अलग-अलग थानों में 11 एफआईआर दर्ज की गई हैं। 25 लोगों को हिरासत में लिया गया है। इन पर हत्या, हत्या के प्रयास, पुलिस पर हमला और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने की धाराएं लगाई गई हैं।

 

इन इलाकों में जारी है तनाव:
उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद, मौजपुर, ब्रह्मपुरी, बाबरपुर, कर्दमपुरी, सुदामापुरी, घोंडा चौक, करावल नगर, मुस्तफाबाद, चांदबाग, नूरे इलाही, भजनपुरा और गोकलपुरी इलाके हिंसाग्रस्त हैं और बीते तीन दिनों से यहां तनाव जारी है। मंगलवार सुबह भी दोनों पक्ष के लोग सड़क पर आए और जमकर बवाल काटाय़ कर्दमपुरी और सुदामापुरी इलाके में दिनभर रुक-रुककर पथराव और फायरिंग होती रही।

 

स्कूल बंद और परीक्षाएं स्थगित:
उत्तर पूर्वी जिले के स्कूल बुधवार को भी बंद रहेंगे। दिल्ली सरकार ने गृह परीक्षाएं स्थगित करने की घोषणा की है। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर यह जानकारी दी। सरकार ने सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं भी स्थगित करने का आग्रह किया है।

 

अमित शाह ने दो बार बैठक की: राजधानी में हालात बिगड़ते देख केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने दोपहर में भाजपा, कांग्रेस और आप नेताओं के साथ बैठक की। इसके बाद उन्होंने देर शाम सात बजे दोबारा आला अधिकारियों के साथ हालात की समीक्षा की।

 

मेट्रो स्टेशन बंद: हिंसा के चलते पिंक लाइन मेट्रो लाइन के पांच स्टेशन बंद रहे। इनमें शिव विहार, जौहरी एंक्लेव, गोकुलपुरी, मौजपुर और जाफराबाद मेट्रो स्टेशन शामिल रहे। पिंक लाइन पर मेट्रो को केवल मजलिस पार्क से वेलकम तक चलाया गया। बताया जा रहा है कि आज भी ये पांच स्टेशन बंद रहेंगे।

 

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ बड़ी संख्या में प्रदर्शन कर रहे लोगों ने रविवार को सड़क अवरुद्ध कर दी थी जिसके बाद जाफराबाद में सीएए के समर्थकों और विरोधियों के बीच झड़प शुरू हो गई थी। दिल्ली के कई अन्य इलाकों में भी ऐसे ही धरने शुरू हो गए। मौजपुर में भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने एक सभा बुलाई थी जिसमें मांग की गई थी कि पुलिस तीन दिन के भीतर सीएए विरोधी प्रदर्शनकारियों को हटाए। इसके तुरंत बाद दो समूहों के सदस्यों ने एक-दूसरे पर पथराव किया, जिसके चलते पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े।

1 reply »

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.