अच्छी सोच

अयोध्या बस्ती जनपद सीमा विवाद खत्म , लगे माइलस्टोन

Basti|बस्ती और अयोध्या जिलों के बीच सरयू की धारा मुड़ने से बदले भौगोलिक स्थिति से उपजा तीन दशक पुराना सीमा विवाद गुरुवार को समाप्त हो गया। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट प्रेमप्रकाश मीणा के नेतृत्व में बस्ती की टीम ने अयोध्या की टीम को साझा कर सीमांकन किया। जिसके बाद सरयू के उस पार स्थित माझा किताअव्वल गांव से लेकर सीतारामपुर माझा तक के बीच सीमा पर कुल छह पत्थर गाड़े गए।

 

CollageMaker_20200228_172430801

 

 

उल्लेखनीय है कि बालू खनन के लिए पट्टा आवंटन तथा खदान के स्थान को लेकर करीब तीन दशक से दोनों जिलों के बीच विवाद बना रहा। कई बार अयोध्या प्रशासन द्वारा नीलाम किए गए खनन स्थलों पर बस्ती ने दावा किया तो बस्ती प्रशासन के निर्णय के विरुद्ध अयोध्या प्रशासन को सामने आना पड़ा। इसके बीच पिसते जिले के मड़ना माझा, माझा किताअव्वल, दलपतपुर, सीतारामपुर माझा, माझा बरहटा, माझा कशीपुर, माझा तिरहा जैसे दर्जनों राजस्व गांवों के लोगों को बाढ़ आदि की दैवीय आपदा में मदद के लिए भी परेशान होना पड़ता था।

 

 

नदी के दक्षिण राहत पहुंचा पाना बस्ती प्रशासन के लिए चुनौती बना था तो अयोध्या प्रशासन इन्हें अपना नागरिक न मानते हुए मदद से किनारा कस लेता था। अब जबकि अयोध्या को तीर्थ क्षेत्र घोषित कर वैश्विक पटल पर स्थापित करने की कवायद शुरू हो गई है, तो दोनों जिलों की संयुक्त टीमें सीमा विवाद के निस्तारण में लग गई। तहसीलदार चंद्रभूषण प्रताप ने बताया कि विवादित भू भाग का सीमांकन हो गया है। सीमा पर कुल छह माइलस्टोन लगा कर विवाद का समाधान करा दिया गया है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.