अच्छी सोच

बस्ती: जनपद के चारों तहशीलों में हुआ समाधान दिवस का आयोजन; अनुपस्थिति जल निगम के एक्सईएन को शोकाज नोटिस

IMG_20200303_164535

 

बस्ती | जनपद के चारों तहसीलों में मंगलवार को समाधान दिवस आयोजित हुआ। इसमें जिला स्तरीय अधिकारियों ने जन सुनवाई की। जनपद में 418 शिकायतें आई। इसमें से 53 प्रकरणों का निस्तारण हुआ। 365 फरियादी अगले समाधान दिवस पर न्याय मिलने का आस लिए वापस लौटने को मजबूर हुए। डीएम ने दिवस से अनुपस्थित जल निगम के एक्सईएन को शोकाज नोटिस देने के निर्देश दिए।

 

IMG_20200303_164542

 

सदर तहसील में सीडीओ सरनीत कौर ब्रोका ने सुनवाई की। यहां 66 में से सात प्रकरण का मौके पर ही निस्तारण कर दिया गया। 59 मामले लंबित छोड़ दिए गए।

 

IMG_20200303_164538

 

हर्रैया में जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन, पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा और क्षेत्रीय विधायक अजय सिंह की मौजूदगी में सबसे अधिक 186 मामले दर्ज किए गए। 27 प्रकरणों का मौके पर ही निस्तारण हो गया। डीएम ने अनुपस्थित जल निगम के एक्सईएन को शोकाज नोटिस देने के निर्देश दिए। एसडीएम प्रेम प्रकाश मीणा, सीओ शिवप्रताप सिंह, बीडीओ हर्रैया उमाशंकर सिंह, हर्रैया प्रभारी निरीक्षक मृत्युंजय पाठक मौजूद रहे। ब्लाक प्रमुख विक्रमजोत धर्मेंद्र सिंह भी नागरिकों के साथ पहुंचे। उन्होंने बस्ती और अयोध्या जनपद के बीच निपटाए गए सीमा विवाद को यथावत रखने की मांग की। विधायक ने आश्वस्त किया कि परिवर्तन नहीं होने दिया जाएगा।

 

 

 

भानपुर में एसडीएम आशाराम वर्मा की अध्यक्षता में कुल 111 मामले दर्ज हुए। 14 का मौके पर ही निस्तारण कर दिया गया। यहां क्षेत्रीय विधायक संजय प्रताप जायसवाल भी मौजूद रहे।

 

 

रुधौली में 56 मामले दर्ज हुए। छह का निस्तारण हुआ। एएसपी पंकज, एसडीएम नीरज प्रसाद पटेल, तहसीलदार प्रमोद कुमार मौजूद रहे।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.