ताज़ा ख़बरें

बस्ती: “पेंट माई सिटी” अभियान के जरिए जिले का इतिहास बताया जाएगा

बस्ती | जिले का इतिहास, सांस्कृतिक विरासत और उपलब्धियों को अब शहर व ग्रामीण क्षेत्र में खाली सरकारी दीवारों पर पेंटिग के जरिये बताई जाएंगी। पेंट माई सिटी अभियान का शुभारंभ प्रभारी मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह ने उद्यान विभाग के गेट पर चित्रकारी करके किया। कहा कि बस्ती एक ऐतिहासिक और सांस्कृतिक विरासत वाला शहर है। जनपद की सांस्कृतिक विरासत को राष्ट्रीय फलक पर लाने का प्रयास सराहनीय है।

 

IMG_20200320_005808

 

मंत्री ने बस्ती महोत्सव के सफलता पर जिला प्रशासन की पीठ थपथपाई। कहा कि पेंटिग के जरिये विभागीय योजनाओं, कलात्मक चित्रकारी कराई जाएगी। जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने बताया कि बस्ती सदर तहसील, स्टेडियम, कलेक्ट्रेट, आडिटोरियम, बस्ती क्लब, केडीसी, जजेज कालोनी, कृषि भवन, अधिकारी आवास, आयुक्त आवास, सर्किट हाउस, बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन की बाहरी दीवारों सहित बड़ेवन ओवरब्रिज, विकास भवन प्रथम के अलावा सभी विधानसभा क्षेत्र में पेंटिग कराई जाएगी।

 

IMG_20200320_005759

 

 

बताया कि कार्य के लिए जनपद स्तरीय नोडल अधिकारी नामित हैं। आमजन सहयोग के लिए वेबसाइट लांच की गई है। कोई भी इसमें सहयोग कर सकता है। पेंटिग थीम में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ, मशहूर हस्तियां व कल्चरल, खेल जगत की मशहूर हस्तियां, प्रधानमंत्री आवास व मनरेगा, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण व शहरी, स्वास्थ्य जागरूकता, ग्रामीण आजीविका मिशन, बसती के टूरिस्ट प्लेस, सर्वशिक्षा अभियान और बस्ती महोत्सव को शामिल किया गया है।

 

IMG_20200320_005756

 

इस मौके पर विधायक दयाराम चौधरी, सीपी शुक्ल, रवि सोनकर, अजय सिंह, संजय प्रताप जायसवाल के अलावा एसपी हेमराज मीणा, मुख्य विकास अधिकारी सरनीत कौर ब्रोका, एडीएम रमेश चंद्र, भाजपा जिलाध्यक्ष महेश शुक्ल, पवन कसौधन आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.