ताज़ा ख़बरें

बस्ती:मुंबई-दिल्ली से लौटें लोगों की और कोरोना संदिग्धों की इस नं. 05542287774 पर दें जानकारी

बस्ती|मुंबई-दिल्ली से लौटे 10 हजार से अधिक लोगों को उनके घर में क्वारंटीन किया जाएगा। इनकी पहचान के लिए जनता, आशा, आंगनबाड़ी, प्रधान, सफाई कर्मी को जिम्मेदारी दी गई है। यह सभी कंट्रोल रूम के नंबर पर सूचना दें। इनका परीक्षण रैपिड रेस्पांस टीम करेगी। सभी ब्लॉकों पर 10-10 टीमों को तैनात किया है। यह 140 टीमें आठ-आठ घंटे के चक्र में ड्यूटी करेंगी।

 

 

रैपिड रेस्पांस टीम में डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ, एक लेखपाल तथा पुलिसकर्मी को शामिल किया गया है। ऐसे संदिग्ध की गांव की आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्त्री प्रत्येक दिन बाहर से आए व्यक्ति के घर सुबह-शाम विजिट कर रिपोर्ट देगी। डीएम आशुतोष निरंजन ने बताया कि पिछले दो दिनों में 10 हजार से अधिक लोग शहर में वापस आए हैं। परीक्षण बाद संदिग्ध व्यक्तियों का ब्लड सैंपल लिया जाएगा। 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों को सर्दी, जुकाम, बुखार एवं सांस लेने में तकलीफ होने पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।

कोरोना वायरस को लेकर जिला प्रशासन एक्शन मोड में है। बीमारी के रोकथाम एवं बचाव के लिए जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन निरंतर लोगों से संवाद और अपील कर रहे हैं। सोमवार को डीएम सीएमओ कार्यालय में बने कंट्रोल रूम का औचक निरीक्षण करने पहुंच गए। बताया आमजन से अपील की गई है गांव या शहर में कोई बाहर से आए तो इसकी सूचना इधर-उधर देने के बजाए सीधे कंट्रोल रूम को दें। तत्काल टीम वहां पहुंचेगी और संदिग्ध मरीज की जांच करेगी। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. जेपी त्रिपाठी ने इस बारे में विभागीय अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दे दिए हैं। बताया जिला कंट्रोल रूम का नंबर 05542287774 हर कोई नोट कर अपनी जेब और मोबाइल में फीड करके रखे।

 

डीएम ने बचाव कार्य की समीक्षा की

इससे पहले जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक कर बचाव कार्य की समीक्षा की। जिलाधिकारी ने अधिकारियों से कहा कि कोरोना वायरस को लेकर जो भी सूचनाएं आएं उसे देरी किए बिना स्वास्थ्य विभाग के पास भेज दें। जांच को भेजी जाने वाली टीम में चिकित्सक,पैरामेडिकल स्टाफ, लेखपाल तथा पुलिसकर्मी शामिल होंगे। गांव की आशा कार्यकर्ता,आंगनबाड़ी कार्यकर्ता प्रत्येक दिन बाहर से आए व्यक्तियों के बारे में घर घर सुबह-शाम विजिट कर रिपोर्ट देंगी। जिलाधिकारी ने कहा कि दो दिन में जिले में बाहर से दस हजार लोग आ चुके हैं। संदिग्ध व्यक्तियों का ब्लड सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा जाएगा। 60 वर्ष से अधिक आयु वाले लोग सर्दी, जुकाम, बुखार एवं सांस लेने में तकलीफ होने पर विशेष ध्यान दें।

 

बीमारी छिपाने पर होगी कार्रवाई

डीएम ने कहा कि जिले में धारा 144 लागू है। यदि कोई कोरोना वायरस का संदिग्ध व्यक्ति समाज में घुल-मिलकर रहता है। भागने की कोशिश करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। समाजहित में सही सूचना दें। जिला चिकित्सालय, मेडिकल कालेज में आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं। तीमारदारों के लिए भोजन आदि की व्यवस्था रहेगी। महिला चिकित्सालय और सीएचसी हर्रैया को भी अलर्ट किया गया है। अस्पतालों में दवाएं, सैनिटाइजर, मास्क व्यवस्था की समीक्षा की। अस्पतालों को अपने मद से खरीदारी के निर्देश दिए। शेष आपदा प्रबंधन से आपूर्ति की जाएगी। डीएम ने कहा कि सभी एसडीएम तहसील में स्थित होटल, लाज, धर्मशाला की सूची तैयार कर लें। इसमें वहां उपलब्ध सुविधाओं का भी ब्योरा देंगे। एसपी हेमराज मीणा, सीडीओ सरनीत कौर ब्रोका, एडीएम रमेश चंद्र, एएसपी पंकज, एसडीएम हर्रैया प्रेम प्रकाश मीणा, श्रीप्रकाश शुक्ला, नीरज पटेल, आसाराम वर्मा, डा. फखरेयार हुसैन, डा. सीएल कन्नौजिया, प्राचार्य मेडिकल कालेज डा. नवनीत कुमार मौजूद रहे।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.